• Home
  • »
  • News
  • »
  • uttar-pradesh
  • »
  • ग्रेटर नोएडा में मिहिर भोज की प्रतिमा अनावरण से पहले बवाल, जानें क्यों नाराज है गुर्जर समाज

ग्रेटर नोएडा में मिहिर भोज की प्रतिमा अनावरण से पहले बवाल, जानें क्यों नाराज है गुर्जर समाज

ग्रेटर नोएडा में गुर्जर समाज के लोगों ने पोस्टर फाड़ डाले.

ग्रेटर नोएडा में गुर्जर समाज के लोगों ने पोस्टर फाड़ डाले.

viral video : गुर्जर समाज के कुछ लोग इस बात से नाराज हैं कि मिहिर भोज के नाम के आगे गुर्जर सम्राट मिहिर भोज क्यों नहीं लिखा गया. स्थिति इतनी बिगड़ गई कि शनिवार को गुर्जर समाज के कुछ लोगों ने इस आयोजन के लिए लगे पोस्टर फाड़े डाले.

  • News18Hindi
  • Last Updated :
  • Share this:

नोएडा. उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ 21 सितंबर और 22 सितंबर को ग्रेटर नोएडा में रहेंगे. 22 सितंबर को वे मिहिर भोज की मूर्ति का अनावरण करेंगे, लेकिन अनावरण से पहले ही ग्रेटर नोएडा में राजनीति तेज हो गई है. जहां एक तरफ गुर्जर समाज मिहिर भोज को अपना बता रहा है, वहीं दूसरी तरफ राजपूत समाज भी मिहिर भोज को अपना वंशज बताने में जुट गया है.

अनावरण समारोह के लिए ग्रेटर नोएडा के दादरी विधानसभा क्षेत्र में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के पोस्टर लगाए गए थे. ये पोस्टर दादरी विधायक तेजपाल नागर ने पूरी विधानसभा में लगवाए हैं. लेकिन गुर्जर समाज के कुछ लोग इस बात से नाराज हैं कि मिहिर भोज के नाम के आगे गुर्जर सम्राट मिहिर भोज क्यों नहीं लिखा गया. स्थिति इतनी बिगड़ गई कि शनिवार को गुर्जर समाज के कुछ लोगों ने मुख्यमंत्री के पोस्टर फाड़े डाले. गुर्जर समाज से जुड़े कुछ लोगों ने वीडियो मेसेज जारी करते हुए इस मुद्दे पर नाराजगी भी जताई और कहा कि पोस्टर में कहीं भी मिहिर भोज के नाम के आगे गुर्जर नहीं लिखा गया है. ऐसे में वे इसका विरोध करते हैं और पोस्टर फाड़ने के वीडियो जारी किए गए. जिसके बाद से दादरी विधानसभा में माहौल गर्म हो चला है. हालांकि अभी पुलिस इस पूरे मामले पर कुछ भी बोलने से बच रही है.

22 मिहिर भोज पीजी कॉलेज में सीएम का कार्यक्रम

22 सितंबर को उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ 10 बजे मिहिर भोज पीजी कॉलेज पहुंचेंगे और वहां पर 12 फीट ऊंची मिहिर भोज की विशालकाय मूर्ति का अनावरण करेंगे. इस मूर्ति को प्रसिद्ध मूर्तिकार राम सुतार ने बनाया है. गुर्जर समाज सम्राट मिहिर भोज को अपना महाराजा बताते हैं और ऐसे में जब गुर्जर समाज के ही कुछ लोगों ने इस चीज का विरोध करना शुरू किया तो सभी ने चुप्पी साध रखी है.

पुलिस को कार्रवाई का आदेश

मामला संज्ञान में आने के बाद उच्च अधिकारियों ने वायरल हुए वीडियो का संज्ञान लेते हुए दादरी एसएचओ प्रदीप त्रिपाठी को मामले में जांच कर कार्रवाई के लिए आदेशित किया है.

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

हमें FacebookTwitter, Instagram और Telegram पर फॉलो करें.

विज्ञापन
विज्ञापन

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज