Home /News /uttar-pradesh /

जेपी के फ्लैट खरीदारों के लिए बड़ी खुशखबरी, जानिए कैसे मिलेंगे रुके हुए फ्लैट

जेपी के फ्लैट खरीदारों के लिए बड़ी खुशखबरी, जानिए कैसे मिलेंगे रुके हुए फ्लैट

जेपी इंफ्रा के 20 हजार से ज्यादा फ्लैट खरीदारों के लिए एक बड़ी खुशखबरी है.

जेपी इंफ्रा के 20 हजार से ज्यादा फ्लैट खरीदारों के लिए एक बड़ी खुशखबरी है.

दो दिन पहले मुम्बई (Mumbai) की कंपनी सुरक्षा एआरसी के मैनेजमेंट डॉयरेक्टर ने कहा है कि पिछले साल जून में कंपनी को जेपी के कई प्रोजेक्ट का अधिग्रहण करने के लिए वित्तीय लेनदारों और घर खरीदारों की मंजूरी मिल चुकी है. अब बस नेशनल कंपनी लॉ ट्रिब्यूनल (NCLT) की मंजूरी मिलना बाकी रह गया है. इस मंजूरी के भी यूपी में चुनाव (UP Election) बाद मार्च में मिल जाने की उम्मीद है. जनवरी में फ्लैट खरीदारों को यह दूसरी खुशखबरी मिली है. इससे पहले सुपरटेक बिल्डर (Supertech Twin Tower) के ट्विन टावर में फ्लैट खरीदारों को सुप्रीम कोर्ट (Supreme Court) ने रकम वापस करने के आदेश दिए हैं.

अधिक पढ़ें ...

    नोएडा. जेपी इंफ्रा (JP Infra) के 20 हजार से ज्यादा फ्लैट खरीदारों (Flat Buyers) के लिए एक बड़ी खुशखबरी है. मार्च से उन्हें रुके हुए फ्लैट मिलने का रास्ता साफ हो सकता है. मुम्बई (Mumbai) की एक बड़ी कंपनी को अधूरे फ्लैट तैयार करने की मंजूरी मिल सकती है. मुम्बई की यह बड़ी कंपनी सुरक्षा एआरसी है. कंपनी को उम्मीद है कि मार्च में उन्हें नेशनल कंपनी लॉ ट्रिब्यूनल (NCLT) की मंजूरी मिल सकती है. यह जानकारी खुद कंपनी के मैनेजमेंट डॉयरेक्टर ने दी है. एनसीएलटी की मंजूरी मिलते ही कंपनी नोएडा (Noida) और ग्रेटर नोएडा में जेपी के अधूरे पड़े प्रोजेक्ट पर काम करना शुरू कर देगी. इसका जेपी के हजारों फ्लैट खरीदारों को बड़ा फायदा मिलेगा.

    इसलिए बढ़ रही है फ्लैट खरीदारों की उम्मीद

    जेपी इंफ्रा के फ्लैट खरीदारों को उम्मीद है कि मुम्बई की कंपनी को जेपी के अधूरे प्रोजेक्ट पूरे करने का काम मिल जाएगा. खरीदारों का भरोसा इसलिए और भी बढ़ जाता है कि कंपनी की टीम नोएडा और ग्रेटर नोएडा में रुकी हुई हैं. टीम जेपी के प्रोजेक्ट के संबंध में वर्तमान स्थिति का आकलन करने, लागत का अनुमान लगाने, मशीनों और श्रमिकों की तैनाती के लिए ठेकेदारों के साथ चर्चा कर रही है.

    गौरतलब रहे 2017 से जेपी के कई प्रोजेक्ट का काम पूरी तरह से ठप पड़ा है. लेकिन मुम्बई की कंपनी के आने के बाद से यह उम्मीद तो जागी है कि जल्द ही काम शुरू हो जाएगा और फ्लैट खरीदारों को उनका घर मिल सकेगा. वहीं कंपनी ने यह भी दावा किया है कि वो जेपी के सभी अधूरे पड़े प्रोजेक्ट पर एक साथ काम शुरू कर देंगे.

    ग्रेटर नोएडा की सिटी बस सर्विस का टाइम टेबल हुआ फिक्स, यहां देखें लिस्ट

     सुपरटेक के खरीदारों के हक में भी हो चुका है फैसला

    सुप्रीम कोर्ट के एक आदेश से सैकड़ों फ्लैट खरीदारों की खुशियों का कोई ठिकाना नहीं है. दिवाली न होते हुए भी घरों में दिवाली जैसी खुशियां मनाई जा रही हैं. यह सैकड़ों फ्लैट खरीदार सुपरटेक की एमराल्ड योजना के ट्विन टावर से हैं. सुप्रीम कोर्ट 30 अगस्त को अवैध रूप से बने ट्विंन टावर को गिराए जाने का आदेश जारी कर चुका है.

    फ्लैट खरीदारों को पैसा वापस करने के लिए भी कहा था, लेकिन फ्लैट खरीदारों के मुताबिक बिल्डर पैसा वापस करने में आनाकानी कर रहा है. वहीं नोएडा अथॉरिटी को आदेश दिया है कि वो 17 जनवरी तक टावर गिराए जाने की योजना कोर्ट में जमा कराए.

    Tags: Mumbai, Noida news, Own flat

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर