होम /न्यूज /उत्तर प्रदेश /

नोएडा मेट्रो रेल ने बनाया रिकार्ड, जानें और क्या जुड़ने जा रहा है

नोएडा मेट्रो रेल ने बनाया रिकार्ड, जानें और क्या जुड़ने जा रहा है

एनएमआरसी का दावा है कि साल जनवरी, 2019 में नोएडा मेट्रो की स्थापन्ना के बाद से उसने दूसरी बार सबसे ज्यादा यात्रियों को मेट्रो से यात्रा कराने का रिकार्ड तोड़ा है. बीते 8 अगस्त को सुबह से शाम तक 40295 यात्रियों ने मेट्रो की यात्रा की है.  Demo Pic

एनएमआरसी का दावा है कि साल जनवरी, 2019 में नोएडा मेट्रो की स्थापन्ना के बाद से उसने दूसरी बार सबसे ज्यादा यात्रियों को मेट्रो से यात्रा कराने का रिकार्ड तोड़ा है. बीते 8 अगस्त को सुबह से शाम तक 40295 यात्रियों ने मेट्रो की यात्रा की है. Demo Pic

एक्वा मेट्रो लाइन (Metro Line) के सेक्टर-142 स्टेशन को ब्लू लाइन (Blue Line) और मजेंटा लाइन के बॉटेनिकल गार्डन (Botanical Garden) स्टेशन से जोड़ने की योजना पर काम चल रहा है. योजना की डीपीआर (DPR) को हरी झंडी मिलने से पहले अब उसमे एक बड़ा बदलाव होने की उम्मीद और की जा रही है. कॉरिडोर को नोएडा-ग्रेटर नोएडा एक्सप्रेसवे के पास से निकालने के बजाए अब रेजिडेंशियल इलाके (Residential Area) से ले जाने की कोशिश हो रही है. इससे सेक्टर्स में रहने वालों को बड़ा फायदा होगा. यह कॉरिडोर करीब 11.5 किमी लम्बा है.

अधिक पढ़ें ...

नोएडा. लगातार घाटा झेलने वाली नोएडा मेट्रो रेल कॉरपोरेशन (NMRC) ने एक रिकार्ड बनाया है. यह रिकार्ड एक दिन में सबसे ज्यादा यात्रियों को यात्रा कराने का है. हालांकि स्थापन्ना के बाद से यह दूसरा मौका है जब नोएडा मेट्रो ने यह रिकार्ड बनाया है. इस बार नोएडा मेट्रो (Noida Metro) ने अपना खुद का कही रिकार्ड तोड़ा है. रिकार्ड बनाने को एक अच्छा संकेत माना जा रहा है. कई नई योजनाएं नोएडा मेट्रो के साथ जुड़ने जा रही हैं. इसके चलते नोएडा (Noida) में यात्रियों की संख्या और बढ़ सकती है.

एक दिन में 40 हजार से ज्यादा यात्रियों ने की मेट्रो की सवारी

एनएमआरसी का दावा है कि साल जनवरी, 2019 में नोएडा मेट्रो की स्थापन्ना के बाद से उसने दूसरी बार सबसे ज्यादा यात्रियों को मेट्रो से यात्रा कराने का रिकार्ड तोड़ा है. बीते 8 अगस्त को सुबह से शाम तक 40295 यात्रियों ने मेट्रो की यात्रा की है. इससे पहले 19 सितम्बर, 2019 को 39451 यात्रियों ने मेट्रो से यात्रा कर रिकार्ड बनाया था. लेकिन तीन साल में यह संख्या दो बार ही बढ़ी है. इससे पहले साल 2020 और 2021 में कोरोना-लॉकडाउन के चलते नोएडा मेट्रो को खासा घाटा उठाना पड़ा है. लेकिन राहत की बात यह है कि नोएडा में यात्रियों की औसत संख्या में भी इजाफा हो रहा है. जैसे इस साल अप्रैल में 26162, मई 29089, जून में 30366 और जुलाई में यात्रियों की औसत संख्या 32202 रही है.

फुट ओवर ब्रिज से जुड़ेगी दिल्ली और नोएडा मेट्रो रेल

मेट्रो के यात्रियों को और सुविधा देने के लिए दिल्ली और नोएडा मेट्रो रेल कॉरपोरेशन ने मिलकर एक बड़ा कदम उठाया है. यह सुविधा नोएडा में दो मेट्रो स्टेशन के बीच दी जाएगी. इस सुविधा के चलते यात्रियों को एक स्टेशन से दूसरे मेट्रो स्टेशन जाने के लिए बाहर सड़क पर नहीं आना पड़ेगा. एक साल में नोएडा मेट्रो के सेक्टर 51 और दिल्ली मेट्रो के सेक्टर 52 मेट्रो स्टेशन को फुट ओवर ब्रिज की मदद से जोड़ दिया जाएगा. नोएडा अथॉरिटी इस फुट ओवर ब्रिज को बनवाने का काम करेगी.

नोएड-दिल्ली को जोड़ने के लिए यहां बन रहा है कॉरिडोर

एक्वा मेट्रो लाइन के सेक्टर-142 स्टेशन को ब्लू और मजेंटा लाइन के बॉटेनिकल गार्डन (Botanical Garden) स्टेशन से जोड़ने के लिए एक कॉरिडोर बनाने की योजना पर काम चल रहा है. योजना को लेकर डिटेल प्रोजेक्ट रिपोर्ट भी तैयार हो चुकी है.

नोएडा में दिसम्बर से देना होगा पानी का बिल, जानें प्लान

दिल्ली और नोएडा के बीच मेट्रो से सफर करने वालों के लिए एक बड़ी खुशखबरी है. मेट्रो ट्रेन की लाइन अब उनके घर के सामने से होकर या फिर सेक्टर के बीच से होकर जा सकती है. आज यानि सोमवार या मंगलवार को इस पर फैसला हो सकता है. इस संबंध में नोएडा मेट्रो रेल निगम और दिल्ली मेट्रो रेल कॉरपोरेशन के बीच बैठक हो चुकी है. इससे पहले नोएडा-ग्रेटर नोएडा एक्सप्रेसवे के पास से होकर मेट्रो की लाइन को ले जाने की योजना थी.

दो एयरपोर्ट को मेट्रो से जोड़ने का भी है अथॉरिटी का प्लान

120 किमी प्रति घंटे की रफ्तार से सुपर फॉस्ट मेट्रो ट्रेन चलाने के लिए यमुना अथॉरिटी का प्लान है कि जेवर इंटरनेशनल एयरपोर्ट के साथ ही मेट्रो ट्रेन भी जेवर तक पहुंच जाए. इसके लिए अथॉरिटी पहले फेज में आईजीआई, दिल्ली एयरपोर्ट से लेकर नॉलेज पार्क (ग्रेटर नोएडा) के 38 किमी लम्बे रूट तक नया मेट्रो रेल कॉरिडोर तैयार किया जाए. इसके लिए पूरी लाइन नए तरीके से बिछाई जाएगी.

दूसरा फेज 35.6 किमी का है. इस फेज में नॉलेज पार्क से लेकर जेवर एयरपोर्ट तक मेट्रो ट्रेन चलाने का प्लान है. नॉलेज पार्क से जेवर तक मेट्रो का रूट एलिवेटेड होगा. यह गौतम बुद्ध नगर का सबसे लम्बा रूट होगा. नोएडा और ग्रेटर नोएडा मेट्रो रूट की लम्बाई 29.7 किमी है.

Tags: Delhi Metro, Metro project, Noida news

अगली ख़बर