Home /News /uttar-pradesh /

ये है 30 लाख के पैकेज वाला ठग, पुलिस ने पकड़ा तो मिले 48 लाख नकद, लग्जरी कारें, Harley Davidson और....

ये है 30 लाख के पैकेज वाला ठग, पुलिस ने पकड़ा तो मिले 48 लाख नकद, लग्जरी कारें, Harley Davidson और....

इंश्योरेंस पॉलिसी के नाम पर करोड़ों की ठगी करने वाला गैंग पकड़ा.

इंश्योरेंस पॉलिसी के नाम पर करोड़ों की ठगी करने वाला गैंग पकड़ा.

Noida crime news: इंश्योरेंस पॉलिसी के नाम पर सायबर फ्रॉड करने वाला एक अंतर्राज्यीय गिरोह पुलिस के हत्थे चढ़ा है. इस मामले में कोतवाली सेक्टर-58 पुलिस ने एक महिला सहित 8 लोगों को गिरफ्तार किया है. इनके कब्जे से 47 लाख 55 हजार रुपये नगद, चार लग्जरी कारें, एक हार्ले बाइक, 16 मोबाइल, 6 लैपटॉप, 100 के करीब आधार कार्ड और अन्य सामान बरामद किया गया है.

अधिक पढ़ें ...

नोएडा. इंश्योरेंस पॉलिसी (Insurance policy) के नाम पर सायबर फ्रॉड (Cyber fraud) करने वाले एक अंतर्राज्यीय गिरोह का पुलिस ने भंडाफोड कर दिया. कोतवाली सेक्टर-58 पुलिस ने एक महिला सहित 8 लोगों को गिरफ्तार किया है. इनके कब्जे से 47 लाख 55 हजार रुपये नगद, चार लग्जरी कारें, एक हार्ले बाइक, 16 मोबाइल, 6 लैपटॉप, 100 के करीब आधार कार्ड और अन्य सामान बरामद किया गया है.

दरअसल, ठगी के मामले को लेकर स्थानीय मोहम्मद रियाज हसन ने थाना सेक्टर-58, नोएडा में शिकायत की थी कि फर्जी तरीके से नाम बदलकर लालच देकर उसके साथ धोखा किया गया. बार-बार पैसा इंवेस्ट कराने के नाम पर लगभग 2 करोड़ रुपये की ठगी की गई है.

एमबीए स्टूडेंट की 30 लाख थी सालाना इनकम
मास्टर माइंड नीरज ने दिल्ली से एमबीए किया. वह नोएडा में कोलोप्लास्ट कम्पनी में 15 लाख के पैकेज में काम करता था. वर्तमान में मुम्बई की प्राइवेट कंपनी में लगभग 30 लाख के पैकेज पर काम कर रहा था. उसके सहयोगी अमरपाल ने मेरठ एफआईटी से एमसीए किया था. उसने कुछ समय कम्पनी में काम किया, उसके बाद स्वयं का एनजीओ जीवन छाया चलाने लगा. इसके जरिए वह फर्जीवाड़ा करता रहा. गैंग का सरगना शम्भूनाथ (फर्जी नाम) उर्फ अजहर उर्फ अजहरउद्दीन है.

फर्जी नामों के थे मास्टरमाइंड
सायबर फ्रॉड करने वाले अंतर्राज्यीय गैंग का भंडाफोड़ करते हुए एक महिला सहित 8 लोगों को गिरफ्तार किया है. इनकी पहचान निखिल जाधव (फर्जी) उर्फ नीरज कुमार, शम्भूनाथ (फर्जी नाम) उर्फ अजहर उर्फ अजहरउद्दीन (असली नाम), एके त्रिपाठी (फर्जी नाम) उर्फ विकास (असली नाम), अटल (फर्जी नाम) उर्फ रामप्रताप (फर्जी नाम) उर्फ अमरपाल (असली नाम), ए.के. गुप्ता (फर्जी नाम) उर्फ सोहन (असली नाम) , स्वाति सेठिया उर्फ प्रीति त्यागी (फर्जी नाम) उर्फ नीतू आर्या (असली नाम), सुनील (फर्जी नाम) उर्फ सुशील (असली नाम), रिहान (फर्जी नाम) उर्फ शाहरूख खान (असली नाम) को अमरपाल के घर डासना से गिरफ्तार किया गया है.

ऐसे करते थे ठगी
पूछताछ में बताया गया कि विकास, सोहन व नीतू वर्ष 2017 में इंडिया इंफो फाईनेन्स लिमिटेड सेक्टर-63, नोएडा में जॉब करते थे. जहां पर कुछ समय बाद इनकी मुलाकात नीरज, अजहर व अमरपाल से हुई. ये सब अलग-अलग कम्पनियों की इंश्योरेन्स पॉलिसियों का डाटा रखते थे, जिससे यह लोगों को फर्जीवाड़ा का शिकार बनाते थे. कंपनियों की पॉलिसियों के नाम पर ही इन्होंने मो. रियाज हसन से लगभग 02 करोड़ रुपये का फर्जीवाड़ा किया है.

Tags: Cheating insurance policy, Noida Crime News, Noida news, UP news

विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर