Home /News /uttar-pradesh /

metro train work will start after two mounth central government clerance in greater noida west dlnh

ग्रेनो वेस्ट मेट्रो के लिए अभी करें लंबा इंतजार, काम शुरू होने में और 2 महीने होगी देरी

संशोधित डीपीआर पर केन्द्र सरकार की मंजूरी मिलने और दस्तावेजों की कार्रवाई में अब कम से कम 2 महीने का वक्त लगेगा. Demo Pic

संशोधित डीपीआर पर केन्द्र सरकार की मंजूरी मिलने और दस्तावेजों की कार्रवाई में अब कम से कम 2 महीने का वक्त लगेगा. Demo Pic

Greater Noida Metro Train News: मेट्रो ट्रेन का यह काम पहले दिवाली से शुरू होना था, लेकिन कोरोना लॉकडाउन और कागजी कार्रवाई के चलते यह योजना लेट होती चली गई. अब इसका काम शुरू होने में 2 महीने का वक्त और लगेगा. मेट्रो ट्रेन शुरू होने से ग्रेटर नोएडा वेस्ट भी दिल्ली-एनसीआर से जुड़ जाएगा. नोएडा में ब्लू लाइन मेट्रो से सीधे कनेक्ट हो जाएगा. अभी तक ग्रेनो वेस्ट के रूट पर पब्लिक ट्रांसपोर्ट की सुविधा नहीं है. नया मेट्रो रूट करीब 15 किमी का होगा. पहले फेज में 5 मेट्रो रेल स्टेशन बनाए जाएंगे.

अधिक पढ़ें ...

नोएडा. एक के बाद एक किसी न किसी रुकावट के चलते ग्रेटर नोएडा वेस्ट मेट्रो रेल का काम शुरू नहीं हो पा रहा है. जो काम साल 2021 में शुरू हो जाना था, वो करीब 10 महीने लेट हो चुका है. अब जब इस साल अप्रैल में मेट्रो रेल का काम शुरू होने की उम्मीद थी तो एक बार फिर 2 महीने काम लेट हो गया है. केन्द्र सरकार द्वारा मेट्रो की डिटेल प्रोजेक्ट रिपोर्ट में संशोधन कराए जाने के चलते मेट्रो का काम लेट हो रहा है. हालांकि केन्द्र सरकार के मुताबिक डीपीआर में संशोधन कर आज डीपीआर वापस दिल्ली भेजी जा रही है. जानकारों की मानें तो संशोधित डीपीआर पर केन्द्र सरकार की मंजूरी मिलने और दस्तावेजों की कार्रवाई में अब कम से कम 2 महीने का वक्त लगेगा.

गौरतलब रहे नोएडा सेक्टर-51 से ग्रेटर नोएडा वेस्ट के मेट्रो का रूट 15 किमी का है, लेकिन शुरुआत सिर्फ 5 मेट्रो स्टेशन से होगी. सभी 5 स्टेशन सेक्टर-122, सेक्टर-123, ग्रेटर नोएडा सेक्टर-4, ग्रेटर नोएडा सेक्टर-2 और ईकोटेक-12 ग्रेटर नोएडा वेस्ट को आपस में जोड़ेंगे. हालांकि इस पूरे रूट पर 9 स्टेशन तैयार होने हैं. ग्रेटर नोएडा वेस्ट मेट्रो लाइन के शुरू होते ही वेस्ट के सेक्टर ग्रेटर नोएडा की एक्वा लाइन और दिल्ली मेट्रो की ब्‍लू लाइन से भी जुड़ जाएंगे.

1100 करोड़ की मेट्रो ट्रेन प्रोजेक्ट की लागत

जानकारों की मानें तो इस पूरे प्रोजेक्ट की लागत करीब 1100 करोड़ रुपये आएगी. नोएडा सेक्टर-51 से लेकर ग्रेटर नोएडा वेस्ट नॉलेज पार्क 5 तक शुरू होने वाली मेट्रो रेल का पूरा रूट एलिवेटेड होगा, लेकिन अकेले सिविल वर्क पर ही करीब 492 करोड़ रुपये का खर्च आएगा. वैसे इस प्रोजेक्ट को 2019 में ही मंजूरी मिल चुकी थी. इसे साल 2022 में बनकर शुरू भी हो जाना था, लेकिन कोरोना और लॉकडाउन के चलते यह प्रोजेक्ट लेट होता गया. अब इस प्रोजेक्ट का काम दिसम्बर में शुरू हो जाएगा.

ताजमहल के तहखाने में क्या-क्या है, इस पड़ताल से हुआ खुलासा

पब्लिक ट्रांसपोर्ट मिलने से नहीं लगानी होगी ऑटो-ई रिक्शा की दौड़

ग्रेटर नोएडा वेस्ट मेट्रो लाइन के शुरू होने से इसका एक बड़ा फायदा ग्रेटर नोएडा मेट्रो को भी मिलेगा. नोएडा के परी चौक से बड़ी संख्या में लोग वेस्ट के लिए भी सफर करते हैं, लेकिन कोई पब्लिक ट्रांसपोर्ट न होने के चलते ऑटो और टैक्सी का सहारा लेते हैं. वेस्ट तक मेट्रो शुरू होने के बाद ग्रेटर नोएडा होते हुए लोग वेस्ट तक का सफर करने लगेंगे.

Tags: Central government, Delhi-ncr, Greater noida news, Metro facility

विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर