होम /न्यूज /उत्तर प्रदेश /ग्रेटर नोएडा वेस्ट मेट्रो की DPR पर नहीं लगी मुहर, चौथी बार टला टेंडर

ग्रेटर नोएडा वेस्ट मेट्रो की DPR पर नहीं लगी मुहर, चौथी बार टला टेंडर

ग्रेटर नोएडा वेस्ट की ओर जाने के लिए सेक्टर-51 मेट्रो स्टेशन से ग्रेटर नोएडा के नॉलेज पार्क-5 तक मेट्रो ट्रेन चलाई जाएगी. Demo Pic

ग्रेटर नोएडा वेस्ट की ओर जाने के लिए सेक्टर-51 मेट्रो स्टेशन से ग्रेटर नोएडा के नॉलेज पार्क-5 तक मेट्रो ट्रेन चलाई जाएगी. Demo Pic

मेट्रो ट्रेन (Metro Train) शुरू होने से ग्रेटर नोएडा वेस्ट भी दिल्ली-एनसीआर (Delhi-NCR) से जुड़ जाएगा. नोएडा (Noida) मे ...अधिक पढ़ें

  • News18Hindi
  • Last Updated :

नोएडा. एक बार लेट हुआ ग्रेटर नोएडा वेस्ट (Greater Noida West) मेट्रो ट्रेन का काम अब लगातार लेट होता जा रहा है. यह चौथी बार हुआ है कि मेट्रो ट्रेन (Metro Train) प्रोजेक्ट का टेंडर निरस्त करना पड़ा है. चार कंपनियों ने टेंडर डाला था. वजह है प्रोजेक्ट की डिटेल प्रोजेक्ट रिपोर्ट (DPR) को केन्द्र की मंजूरी मिलने में हो रही देरी है. साल 2021 में मेट्रो का काम शुरू हो जाना था, लेकिन मेट्रो ट्रेन की फाइल पीएमओ ऑफिस में आकर रुक गई है. अब पीएमओ (PMO) से हरी झंडी मिलने के बाद ही मेट्रो का काम आगे बढ़ेगा. लेकिन अब नोएडा मेट्रो रेल कारपोरेशन लिमिटेड (NMRC) ने फैसला लिया है कि जब डीपीआर पर केन्द्र की मुहर लग जाएगी तभी टेंडर जारी किया जाएगा.

5 मेट्रो स्टेशन से होगी ट्रेन की शुरुआत

गौरतलब रहे नोएडा सेक्टर-51 से ग्रेटर नोएडा वेस्ट के मेट्रो का रूट 15 किमी का है, लेकिन शुरुआत सिर्फ 5 मेट्रो स्टेशन से होगी. सभी 5 स्टेशन सेक्टर-122, सेक्टर-123, ग्रेटर नोएडा सेक्टर-4, ग्रेटर नोएडा सेक्टर-2 और ईकोटेक-12 ग्रेटर नोएडा वेस्ट को आपस में जोड़ेंगे. हालांकि इस पूरे रूट पर 9 स्टेशन तैयार होने हैं. ग्रेटर नोएडा वेस्ट मेट्रो लाइन के शुरू होते ही वेस्ट के सेक्टर ग्रेटर नोएडा की एक्वा लाइन और दिल्ली मेट्रो की ब्‍लू लाइन से भी जुड़ जाएंगे.

आपके शहर से (नोएडा)

नोएडा
नोएडा

दो फेज में ऐसे शुरू होगा मेट्रो ट्रेन का काम

ग्रेटर नोएडा वेस्ट की ओर जाने के लिए सेक्टर-51 मेट्रो स्टेशन से ग्रेटर नोएडा के नॉलेज पार्क-5 तक मेट्रो ट्रेन चलाई जाएगी. इसका काम दो फेज में होगा. पहले फेज में सेक्टर-51 मेट्रो स्टेशन से ग्रेटर नोएडा सेक्टर-2 तक कॉरिडोर का निर्माण होगा. इसमे पांच स्टेशन होंगे. यह स्टेशन नोएडा सेक्टर-122, नोएडा सेक्टर-123, ग्र्रेटर नोएडा सेक्टर-4, ईकोटेक-12और ग्रेटर नोएडा सेक्टर-2 होंगे. इस कॉरिडोर की लंबाई 9.605 किलोमीटर होगी.

जेवर एयरपोर्ट के पास प्लाट के लिए आज से करें आनलाइन आवेदन, जानें प्लान

2456 करोड़ की आएगी मेट्रो ट्रेन प्रोजेक्ट की लागत

जानकारों की मानें तो इस पूरे प्रोजेक्ट की लागत करीब 2456 करोड़ रुपये आएगी. नोएडा सेक्टर-51 से लेकर ग्रेटर नोएडा वेस्ट नॉलेज पार्क 5 तक शुरू होने वाली मेट्रो रेल का पूरा रूट एलिवेटेड होगा. लेकिन अकेले सिविल वर्क पर ही करीब 563 करोड़ रुपये का खर्च आएगा. हालांकि यह लागत प्रोजेक्ट लेट होने से बढ़ी है. शुरुआती टेंडर में निर्माण कार्य की लागत 492 करोड़ रुपये बताई गई थी. वैसे इस प्रोजेक्ट को 2019 में ही मंजूरी मिल चुकी थी. इसे साल 2022 में बनकर शुरू भी हो जाना था, लेकिन कोरोना और लॉकडाउन के चलते यह प्रोजेक्ट लेट होता गया.

मेट्रो शुरू होने से नहीं लगानी होगी ऑटो-ई रिक्शा की दौड़

ग्रेटर नोएडा वेस्ट मेट्रो लाइन के शुरू होने से इसका एक बड़ा फायदा ग्रेटर नोएडा मेट्रो को भी मिलेगा. नोएडा के परी चौक से बड़ी संख्या में लोग वेस्ट के लिए भी सफर करते हैं, लेकिन कोई पब्लिक ट्रांसपोर्ट न होने के चलते ऑटो और टैक्सी का सहारा लेते हैं. वेस्ट तक मेट्रो शुरू होने के बाद ग्रेटर नोएडा होते हुए लोग वेस्ट तक का सफर करने लगेंगे.

Tags: Greater noida news, Metro facility, Noida news, PMO

टॉप स्टोरीज
अधिक पढ़ें