होम /न्यूज /उत्तर प्रदेश /NOIDA: '1 घंटे में तय होता है 15 मिनट का रास्ता', मेट्रो के नए रूट को लेकर लोगों की शिकायत

NOIDA: '1 घंटे में तय होता है 15 मिनट का रास्ता', मेट्रो के नए रूट को लेकर लोगों की शिकायत

सेक्टर.137 के लोगों का कहना है कि वो अपनी मांग बार-बार अफसरों को बता चुके हैं और समस्याएं सुना चुके हैं, लेकिन न तो उनक ...अधिक पढ़ें

    रिपोर्ट – आदित्य कुमार

    नोएडा. लोगों को जाम से निजात दिलाने के लिए बहुत जल्द एक नए रूट पर मेट्रो शुरू होने जा रही है. बॉटैनिकल गार्डन से ग्रेटर नोएडा वेस्ट जाने के लिए एनएमआरसी (नोएडा मेट्रो रेल कॉरपोरेशन) बहुत जल्द इस नए रूट पर भी मेट्रो चलाने वाला है. इसको लेकर योजना बनाई जा रही है. रूट लगभग तय हो गया है. यूपी सरकार और नोएडा मेट्रो रेल कॉरपोरेशन यह सुविधा देने तो जा रहा है, तो इस सुविधा से कुछ लोग काफी खुश हैं लेकिन समस्या ये है कि सेक्टर 137 के लोगों ने एक नई मांग खड़ी कर दी है. आपको बताते हैं कि क्या है पूरा मामला.

    सेक्टर-137 के लोग एक नए स्टेशन की मांग को लेकर मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को लेटर लिख गुहार लगा रहे हैं. News18 Local से बात करते हुए फ्लोराविले में रहने वाली शुभी जैन ने बताया ‘हम कामकाजी महिलाएं जब सुबह ऑफिस जाती हैं तो 15 मिनट का रास्ता एक घंटे में तय होता है. ऐसे में हमारी मांग है हमारे सेक्टर-137 में भी मेट्रो स्टेशन बनाया जाए ताकि दिल्ली जाने के लिए सीधा हम बोटैनिकल तक जा पाएं.’

    असल में अभी जो मेट्रो स्टेशन है, वहां से मेट्रो पहले सेक्टर-51 लेकर जाती है. यानी इतनी देर में तो दिल्ली पहुंचा जा सकता है. महिलाओं का कहना है कि कई बार ऐसी घटनाएं हो चुकी हैं जिससे महिलाओं की सुरक्षा को लेकर चिंता पैदा हुई है. इन महिलाओं ने एमडी एनएमआरसी से लेकर मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ तक को चिट्ठी लिखी है.

    बड़ी आबादी के लिए भी पब्लिक ट्रांसपोर्ट नहीं!

    एक स्थानीय निवासी अभीष्ट कुसुम गुप्ता बताते हैं कि इस सेक्टर में करीब 70 हजार लोग रहते हैं. वैसे तो पूरे नोएडा में ही पब्लिक ट्रांसपोर्ट नहीं है, लेकिन यहां से चूंकि नोएडा थोड़ा दूर है इसलिए लोगों को पब्लिक ट्रांसपोर्ट की कमी खलती है. यहां मेट्रो कनेक्टिविटी ज़रूरी है. वहीं मनोज प्रसाद का कहना है मीटिंग में हमें बुलाया ही नहीं जाता. जैसे हम नागरिक हैं ही नहीं. दरअसल कुछ ऐसी भी सोसाइटी हैं, जो किसी भी ग्रुप या संस्था का हिस्सा नहीं हैं. उनका कहना है कि इसके बारे में यहां के लोग सीएम, विधायक और अधिकारियों को कई बार चिट्ठी लिख चुके हैं, लेकिन कोई आश्वासन नहीं मिला है.

    Tags: Noida news, UP Metro

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें