Home /News /uttar-pradesh /

noida national endangered species day when the rhino protection force had to be deployed in the protection of one horned rhinos due to the efforts of rti activists

नोएडा:-National Endangered Species Day जब आरटीआई एक्टिविस्ट के प्रयासों से एक सींग वाले गैंडों की सुरक्षा में तैनात करनी पड़ी थी राइनो ?

X

मई माह के प्रत्येक तीसरे शुक्रवार को National Endangered Species Day मनाया जाता है,ताकि जो जीव विलुप्त होने की कगार पर हैं उनके बारे में लोगों को जागरूक किया जा सकें.आज आपको मिलवाते हैं नोएडा के एक गांव रोहिल्लापुर के रहने वाले आरटीआई एक्टिविस्ट रंजन तोमर से जो सालों से Endangered Species के लिए महत?

अधिक पढ़ें ...

    रिपोर्ट:- आदित्य कुमार,नोएडा

    मई माह के प्रत्येक तीसरे शुक्रवार को National Endangered Species Day मनाया जाता है,ताकि जो जीव विलुप्त होने की कगार पर हैं उनके बारे में लोगों को जागरूक किया जा सकें.आज आपको मिलवाते हैंनोएडा के एक गांव रोहिल्लापुर के रहने वाले आरटीआई एक्टिविस्ट रंजन तोमर से जो सालों से Endangered Species के लिए महत्वपूर्ण कार्य कर रहे हैं.उनके प्रयासों से असम सरकार को जागना पड़ा था.

    गैंडा को बचाने के लिए तैनात किया स्पेशल फोर्स
    रंजन तोमर पिछले 6 साल से विलुप्त हो रही प्रजातियों के लिए काम कर रहे हैं.वह एक RTI एक्टिविस्ट हैं और अपनी RTI के माध्यम से उन्होंने कई सरकारों को जगाने का काम किया है.उनकी आरटीआई के कारण ही काज़ीरंगा नेशनल पार्क में एक सींग वाले गैंडे को बचाने के लिए स्पेशल फोर्स को तैनात किया गया था.रंजन तोमर बताते हैं कि साल 2018 में मैंने सूचना मांगी थी कि पिछले दस सालों में कितने एक सींग वाले गैंडे का शिकार हुआ है.जिसमे पता चला कि तस्करों द्वारा 102 गैंडों को मौत के घाट उतार डाला गया था,इसके बाद मैंने कई जगह चिट्ठी लिखकर इनको बचाने की मुहिम चलाई, जिसके बाद असम के काज़ीरंगा पार्क में साल 2019 के जून माह में स्पेशल राइनो प्रोटेक्शन फ़ोर्स की स्थापना की गई.क्योंकि इसी पार्क के अंदर और बाहर दोनों जगहों पर धड़ल्ले से इनका शिकार किया जा रहा था.

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर