जंगल में भटकने के बाद रोने लगा चीनी नागरिक, इस सब इंस्पेक्टर ने सुरक्षित घर पहुंचाया

नोएडा पुलिस में सब इंस्पेक्टर ने बताया कि उन्होंने उसे अपने कार में आने का इशारा किया और अपने एक पहचान वाले को फोन किया, जो एक निजी एजेंसी में अनुवादक के तौर पर काम करता है.

News18Hindi
Updated: May 16, 2019, 9:21 AM IST
जंगल में भटकने के बाद रोने लगा चीनी नागरिक, इस सब इंस्पेक्टर ने सुरक्षित घर पहुंचाया
तस्वीर - twitter.com/noidapolice
News18Hindi
Updated: May 16, 2019, 9:21 AM IST
नोएडा के एक पुलिसकर्मी ने जंगल में भटक गए एक चीनी नागरिक को सुरक्षित वहां से ढूंढ़ निकाला. मीडिया रिपोर्ट के अनुसार जंगल में भटकने के बाद चीन का यह नागरिक रोने लगा. इस दौरान पुलिसकर्मी ने चीन के नागरिक को ग्रेटर नोएडा में उसके घर वापस पहुंचाने में मदद की. पुलिस के मुताबिक चीनी नागरिक की पहचान शिंग फू के तौर पर हुई है, जो यहां मोबाइल उत्पादन कंपनी में काम के सिलसिले से आया था लेकिन उसका फोन और पर्स कहीं खो गया था.

पुलिस ने बताया कि हिंदी या अंग्रेजी नहीं समझने वाला शिंग फू मंगलवार को अपने साथियों से भी बिछड़ गया था और जंगल में भटक गया था. कासना पुलिस थाना क्षेत्र के तहत आने वाली एक पुलिस चौकी के प्रभारी सब इंस्पेक्टर कोमल सिंह मंगलवार को रात करीब साढ़े नौ बजे गौतम बुद्ध यूनिवर्सिटी के पास के इलाके में गश्त पर थे, जब उन्होंने जंगल के पास वाली सड़क पर कुछ संदिग्ध गतिविधि देखी.



पीटीआई के अनुसार कोमल ने बताया, 'मैंने वाहन रोक कर इस बारे में जानना चाहा और वहां झाड़ियों के पास मुझे एक व्यक्ति नजर आया. मैंने उससे पूछा कि वह कौन है और वह बस इतना कह सका ‘प्लीज हेल्प’.'

यह भी पढ़ें: 11 साल पहले आज ही के दिन हुआ था सबसे बड़ा हत्याकांड, पढ़ें- पूरा घटनाक्रम


Loading...



बस दो शब्द जानता था चीन का यह नागरिक

उन्होंने बताया कि वह अंग्रेजी के बस यही दो शब्द जानता था और उसे हिंदी भी नहीं आती थी. लेकिन वह काफी परेशान लग रहा था. सिंह ने बताया कि उन्होंने उसे अपने कार में आने का इशारा किया और अपने एक पहचान वाले को फोन किया जो एक निजी एजेंसी में अनुवादक के तौर पर काम करता है.

कोमल के अनुसार किस्मत से उसे चीनी भाषा आती थी और इस तरह से पता चला कि शिंग ग्रीनवुड सोसाइटी के फेज टू में रहता है. यह जगह वहां से कुछ छह-सात किलोमीटर दूर थी, जहां वह खो गया था. सिंह ने बताया कि उसे भूख भी लगी थी और उसने आईसक्रीम का एक ठेला देख कर आईसक्रीम खाने की इच्छा जताई.

यह भी पढ़ें:  शराबी ने पुलिसवाले से मांगी बाइक, इनकार करने पर जड़ दिया थप्पड़

सिंह ने बताया कि अपने समूह के साथ फिर से मिलने के बाद वह बहुत भावुक हो गया था. उसने टूटी-फूटी हिंदी में धन्यवाद किया और पुलिस एवं भारत को महान बताया.
एक क्लिक और खबरें खुद चलकर आएंगी आपके पाससब्सक्राइब करें न्यूज़18 हिंदी WhatsApp अपडेट्स
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...