Home /News /uttar-pradesh /

online bid for kiosk near jewar airport and yamuna expressway noida yamuna authority dlnh

9 लाख रुपये वाली दुकान की 1.5 करोड़ की लगाई थी बोली, अब हो रही तलाश, जानें क्यों

यमुना अथॉरिटी ने जेवर एयरपोर्ट के पास दूध-सब्जी बेचने के लिए बनाए गए कियोस्क की नीलामी की थी. Demo Pic

यमुना अथॉरिटी ने जेवर एयरपोर्ट के पास दूध-सब्जी बेचने के लिए बनाए गए कियोस्क की नीलामी की थी. Demo Pic

जेवर एयरपोर्ट (Jewar Airport) का सिर्फ काम शुरू होने से ही आसपास की जमीनों के रेट आसमान छूने लगे हैं. रेजिडेंशियल और इंडस्ट्रियल प्लाट की बात तो छोड़िए एक छोटे से दूध-सब्जी के कियोस्क भी करोड़ों रुपये के बिक रहे हैं. यमुना अथॉरिटी (Yamuna Authority) ने जिस कियोस्क की शुरुआती बोली 9 लाख रुपये रखी थी, वो डेढ़ करोड़ रुपये का बिका है. यह सभी कियोस्क यमुना एक्सप्रेसवे (Yamuna Expressway) और जेवर एयरपोर्ट के नजदीकी सेक्टर्स में हैं.

अधिक पढ़ें ...

नोएडा. हाल ही में यमुना अथॉरिटी (Yamuna Authority) ने जेवर एयरपोर्ट के पास दूध-सब्जी बेचने के लिए बनाए गए कियोस्क की नीलामी की थी. नीलामी के दौरान 9 लाख रुपये वाले कियोस्क के लिए लगी एक से डेढ़ करोड़ रुपये की बोली को सुनकर हर कोई दंग था. हालांकि जेवर एयरपोर्ट (Jewar Airport) का अभी जमीनी स्तर का काम चल रहा है. अभी पहली फ्लाइट (Flight) के उड़ान भरने में भी करीब 2 साल का वक्त है. लेकिन एयरपोर्ट के आसपास जमीन के रेट देखकर हर कोई दंग था. दाम भी ऐसे कि दिल्ली (Delhi) का कनॉट प्लेस और लंदन में बिकने वाली जमीन के रेट भी पीछे छूट गए. लेकिन हैरत की बात यह है कि अब बोली लगाने वाले व्यक्ति की तलाश हो रही है. खुद यमुना अथॉरिटी उसे तलाश रही है. लेकिन बोली लगाने के बाद से गायब वो व्यक्ति अभी तक सामने नहीं आया है.

कियोस्क की बोली लगाने वाले 3 लोग नहीं जमा करा रहे बकाया रकम

यमुना अथॉरिटी से जुड़े अफसरों की मानें तो जेवर एयरपोर्ट से सटे सेक्टर में 30 कियोस्क के लिए ई नीलामी आयोजित की थी. लेकिन 30 कियोस्क के लिए 26 खरीदार ही सामने आए थे. इसमे से बोली लगाने वाले तीन खरीदार ऐसे थे जिन्होंने ऊंची बोली लगाई थी. इसमे से एक आवेदक ने तो 9.59 वर्गमीटर कियोस्क के लिए 1.48 करोड़ रुपये की बोली लगाई थी. जबकि अथॉरिटी ने इसका रिजर्व प्राइस सिर्फ 9 लाख रुपये रखा था.

अलग-अलग कियोस्क के लिए इस तरह की बोली लगाने वाले तीन लोग थे. बोली लगाने के बाद बकाया रकम अथॉरिटी में जमा करानी थी. लेकिन अथॉरिटी के मुताबिक अब तीनों ही लोग गायब चल रहे हैं. बकाया रकम भी जमा नहीं करा रहे हैं. अगर कुछ दिन में इन्होंने रकम जमा नहीं कराई तो इनकी जमानत की रकम को जब्त कर लिया जाएगा. जानकारों की मानें तो बोली लगाने वाले 26 में से करीब 18 लोगों ने अभी तक पैसा जमा नहीं किया है.

2 महीने तक पर्थला गोलचक्कर पर रहेगा ट्रैफिक रूट डायवर्जन, जानें प्लान

1.48 करोड़ रुपये में बिका 9.59 वर्गमीटर का कियोस्क

यमुना अथॉरिटी को जेवर एयरपोर्ट और यमुना एक्सप्रेसवे के पास कियोस्क का निर्माण करना है. लेकिन उससे पहले अथॉरिटी ने अप्रैल में कियोस्क की नीलामी आयोजित की थी. ई-नीलामी में अलग-अलग साइज के 30 कियोस्क को शामिल किया गया था. सबसे बड़े कियोस्क का साइज 12.68 वर्ग मीटर था. नीलामी में शामिल होने के लिए 26 लोगों ने आवेदन किया था. इसमे सबसे महंगा कियोस्क 9.59 वर्गमीटर का बिका था. नीलामी में इसकी सबसे ऊंची बोली 1.48 करोड़ रुपये लगी थी. जबकि 7.15 वर्ग मीटर के कियोस्क की बोली 1.12 करोड़ रुपये लगी थी. ऐसा भी नहीं था कि सभी कियोस्क करोड़ों रुपये के बिके थे. अगर सबसे कम बोली वाले कियोस्क की बात करें तो वो साढ़े सात लाख रुपये का बिका था.

1.12 करोड़ में बिका था 7.15 वर्गमीटर का कियोस्क

ऑनलाइन नीलामी के दौरान सेक्टर-17 ए का 7.15 वर्गमीटर का कियोस्क भी खासा चर्चाओं में रहा था. इस कियोस्क की बोली 1.12 करोड़ रुपये पर जाकर रुकी थी. जानकारों की मानें तो इस कियोस्क को अमित नाम के व्यक्ति ने खरीदा था. इसी तरह सेक्टर-18 में 9.59 वर्गमीटर का कियोस्क 1.48 करोड़ रुपये में रविंद्र सिंह ने खरीदा था. सेक्टर-17ए में एक कियोस्क 9.04 वर्गमीटर का 90.40 लाख रुपये की बोली में बिका था. सेक्टर-18 का 12.68 वर्गमीटर का कियोस्क 37.94 लाख रुपये में बिका जबकि सेक्टर-17ए में 9.04 वर्गमीटर के कियोस्क की बोली 31 लाख रुपये पर जाकर रुकी थी.

Tags: Jewar airport, Noida news, Yamuna Expressway

विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर