Home /News /uttar-pradesh /

operation ganga know the dangers amidst which the pilot flew the plane

Operation ganga:- जानिए किन ख़तरों के बीच पायलट ने उड़ाया विमान

नोएडा:- Ukraine-russia War के दो सप्ताह से भी ज्यादा हो गए. वहां पर हजारों की संख्या में भारतीय छात्र फंसे हुए थे.उनको वॉर जोन से निकालने के लिए भारत सरकार ने ऑपरेशन गंगा (Operation ganga) चलाया था.जिसमें हजारों भारतीय मूल के लोगों को वापस हम वतन लाया गया.कैसे चलता था यह ऑपरेशन? किस तरह की समस्य?

अधिक पढ़ें ...

    नोएडा:- Ukraine-russia War के दो सप्ताह से भी ज्यादा हो गए. वहां पर हजारों की संख्या में भारतीय छात्र फंसे हुए थे.उनको वॉर जोन से निकालने के लिए भारत सरकार ने ऑपरेशन गंगा (Operation ganga) चलाया था.जिसमें हजारों भारतीय मूल के लोगों को वापस हम वतन लाया गया.कैसे चलता था यह ऑपरेशन? किस तरह की समस्या होती थी हवाई जहाज उड़ाने में पायलट को? यहीं सब जानने के लिए हमने बात की ऑपेरशन गंगा में अहम भूमिका निभाने वाले कैप्टन सिद्धार्थ से.

    इस्तांबुल का ऑपेरशन में रही महत्वपूर्ण भूमिका
    कैप्टन सिद्धार्थ एक निजी एयरलाइन कंपनी में पायलट हैं.वह पहले भी इस तरह के ऑपरेशन का हिस्सा रह चुके हैं.साल 2020 में कोरोना के अस्तित्व में आने के बाद चीन से भारतीयों को लाने वाले दल में भी वो शामिल थे.सिद्धार्थ बताते हैं हमारा बेस जो था पूरे ऑपेरशन के लिए वो इस्तांबुल था.हमें भारत से 6-8 घंटे की फ्लाइट से पहले इस्तांबुल ही जाना होता था फिर वहां से यूक्रेन से सटे बॉर्डर पर से भारतीयों को लाना होता था.इस्तांबुल से वॉर जोन वाला क्षेत्र जहां छात्र रुके थे वो 2-3 घंटे का सफर फ्लाइट का हुआ करता था.

    ग्राउंड स्टाफ से लेकर पायलट तक सभी करते थे ज्यादा काम
    सिद्धार्थ कुमार बताते हैं कि ऐसे ऑपेरशन में हमारी जिम्मेदारी और बढ़ जाती है.इसमें 65 पायलट दल शामिल थे जो उड़ान के मामले में निपुण थे.इसमें हमारा एक-एक स्टाफ क्षमता से ज्यादा काम करता था तब हम जाकर सफल हुए.सिद्धार्थ एक छात्राकी बात याद करते हुए बताते हैं कि एक छात्रा अपनी पढ़ाई के बाद यूक्रेन जाकर दोबारा लोगों की सेवा करना चाहती है जो दिल को छू जाने वाली बात है.

    (रिपोर्ट:- आदित्य कुमार)

    Tags: Noida news

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर