नमाज विवाद: नोएडा के पार्क में शुक्रवार को भारी पुलिस बल की तैनाती

गौतमबुद्धनगर के जिलाधिकारी बृजेश नारायण सिंह ने सुप्रीम कोर्ट के आदेश का हवाला देते हुए कहा कि पार्क में नमाज पढ़ना गैरकानूनी है.

भाषा
Updated: December 28, 2018, 11:35 PM IST
नमाज विवाद: नोएडा के पार्क में शुक्रवार को भारी पुलिस बल की तैनाती
प्रतीकात्मक तस्वीर
भाषा
Updated: December 28, 2018, 11:35 PM IST
नोएडा के सेक्टर-58 के पार्क में नमाज अदा करने पर जारी विवाद के बीच शुक्रवार को वहां सिर्फ दस-बारह लोग ही नमाज पढ़ने पहुंचे लेकिन पार्क में पानी भरे होने के कारण वह लौट गए. इस महीने की शुरुआत में नोएडा पुलिस ने आदेश जारी किए थे कि सरकारी प्लाट में जुमे की नमाज नहीं पढ़ी जा सकती क्योंकि इसके लिए उन्हें जरूरी इजाजत नहीं है.

शुक्रवार को पार्क के बाहर एक दमकल भी तैनात किया गया था. स्थानीय प्रशासन ने पार्क में पानी डाल दिया था. यहां पिछले कुछ साल से जुमे के नमाज पढ़ी जाती थी जिसमें सैकड़ों लोग शामिल होते थे.

पुलिस उपाधीक्षक (नगर) राजीव कुमार सिंह ने बताया कि पार्क में नमाज पढ़ने को लेकर चल रहे विवाद के मद्देनजर वहां पर भारी संख्या में पुलिस बल तैनात किया गया. उन्होंने बताया कि पार्क में नमाज पढ़ने की इजाजत जिला प्रशासन द्वारा नहीं दी गई थी. इस वजह से शांति व्यवस्था कायम करने के लिए वहां पर भारी संख्या में पुलिस बल तैनात किया गया था.

पार्क में नमाज के आयोजकों में से एक आदिल रशीद ने बताया कि इस पार्क में 2013 से जुमे की नमाज अदा की जा रही थी. रशीद ने बताया कि उन्होंने बृहस्पतिवार को नमाजियां से अपील की थी कि वे नमाज पढ़ने पार्क में नहीं जाएं. नमाज पढ़ाने वाले पेश इमाम नोमान अख्तर ने भी उन्हें बताया था कि वह वहां जुमे की नमाज की इमामत नहीं करेंगे.

पिछले पांच साल से वहां नमाज पढ़ने आ रहे मोहम्मद मुश्ताक खान ने बताया, ‘‘बस आज और पिछले जुमे को ही पार्क में पानी डाला गया था. पहले, पाक के कोने में वुजू के लिए पानी का इंतजाम रहता था.’’ वहां नमाज अदा करने आए 27 वर्षीय मेराज अहमद ने बताया कि आधे घंटे के भोजनावकाश के दौरान जुमे की नमाज के लिए मस्जिद खोजने दूर जाना संभव नहीं है.

नोएडा प्राधिकरण के उद्यान विभाग के उपनिदेशक महेन्द्र प्रकाश ने पार्क में पानी भरने के बाबत पूछने पर बताया कि उद्यान विभाग ने पार्कों में सिंचाई की है। यह नियमित कार्य है। पार्कों का संचालन व रखरखाव उद्यान विभाग ही करता है।

गौतमबुद्धनगर के जिलाधिकारी बृजेश नारायण सिंह ने सुप्रीम कोर्ट के आदेश का हवाला देते हुए कहा कि पार्क में नमाज पढ़ना गैरकानूनी है. वहीं, नोएडा प्राधिकरण ने कहा कि नोएडा के पार्कों में नमाज पढ़ने की अनुमति देने का नियम नहीं है. वहीं पार्क में नमाज पढ़ने वाले लोगों ने जिला प्रशासन से पार्क में नमाज अदा करने की अनुमति मांगी थी लेकिन जिला प्रशासन ने देने से इनकार कर दिया.
Loading...

 

ये भी पढें- 

ओवैसी के कांवड़ यात्रा और नमाज पर आए Tweet पर भड़की बीजेपी, बताया मानसिक दिवालिया

कांवड़ियों पर फूल बरसाने वाली यूपी पुलिस को नमाज से दिक्कत होती है: ओवैसी

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए नोएडा से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: December 28, 2018, 10:18 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...