होम /न्यूज /उत्तर प्रदेश /

नोएडा में महंगा हो सकता है आशियना और कारोबार का सपना, आज होगा फैसला

नोएडा में महंगा हो सकता है आशियना और कारोबार का सपना, आज होगा फैसला

Noida News: हाल ही में नोएडा अथॉरिटी ने दादा-दादी द्वारा अपने पोते-पोती के नाम ट्रांसफर की जाने वाली प्रापर्टी को फीस को फ्री किया है.  Demp Pic

Noida News: हाल ही में नोएडा अथॉरिटी ने दादा-दादी द्वारा अपने पोते-पोती के नाम ट्रांसफर की जाने वाली प्रापर्टी को फीस को फ्री किया है. Demp Pic

नोएडा अथॉरिटी (Noida Authority) के सर्वे और बाजार रेट में यह सामने आया है कि नोएडा के कई सेक्टर में रेजिडेंशियल प्लाट के दाम दोगुना तक हो गए हैं. इसी तरह से इंडस्ट्रियल (Indusrial) और इंस्टीट्यूशनल प्लाट का बाजार भी तेज हो गया है. इन्हीं सब के चलते रेट बढ़ाने पर फैसला लिया गया है. हालांकि डिमांड न होने के चलते कमर्शियल प्लाट (Commercial Plot) को इससे दूर रखने की बात भी कही जा रही है. क्योंकि बहुत सारे मामलों में अथॉरिटी के कमर्शियल प्लाट को खरीदार नहीं मिल रहे हैं.

अधिक पढ़ें ...

नोएडा. घर (House) बनाने और कारोबार करने का सपना नोएडा में महंगा होने जा रहा है. आज से नोएडा में जमीन महंगी हो सकती है. आज नोएडा अथॉरिटी (Noida Authority) की बोर्ड मीटिंग होने जा रही है. सूत्रों की मानें तो अथॉरिटी रेजिडेंशियल (Residential), इंडस्ट्रियल और इंस्टीट्यूशनल प्लाट के दाम बढ़ा सकती है. कई साल बाद अथॉरिटी जमीन के दाम बढ़ाने का फैसला लेने जा रही है. आज दोपहर को यह मीटिंग होगी. गौरतलब रहे इससे पहले अथॉरिटी मेट्रो स्टेशन, नोएडा-ग्रेटर नोएडा (Greater Noida) एक्सप्रेसवे और ग्रीन बेल्ट के पास की जमीन पर एक्सट्रा चार्ज लगा चुकी है. ब्लड रिलेशन में रजिस्ट्री पर दी जाने वाली छूट पर भी कई तरह के फैसले मीटिंग में लिए जा सकते हैं.

ऐसे लगेगा लोकेशन और ग्रीन बेल्ट चार्ज

जानकारों की मानें तो गौतम बुद्ध नगर प्रशासन मेट्रो रेल कॉरिडोर और नोएडा-ग्रेटर नोएडा एक्सप्रेस वे के किनारे होने वाली जमीन की खरीद-फरोख्त पर लोकेशन चार्ज वसूलेगा. नए नियमों के तहत मेट्रो रेल कॉरिडोर और नोएडा-ग्रेटर नोएडा एक्सप्रेस वे के दोनों और एक किमी के दायरे में होने वाली जमीन की खरीद पर 5 से 10 फीसदी तक लोकेशन चार्ज लगेगा.

लोकेशन चार्ज रेजिडेंशियल और कमर्शियल दोनों तरह की प्रापर्टी पर देना होगा. अगर कोई प्रापर्टी रीसेल हो रही है तो उस पर 2 फीसद का लोकेशन चार्ज देना होगा. इसी तरह से अगर आपके रेजिडेंशियल प्लॉट के सामने ग्रीन बेल्ट हैं तो इस पर भी आपको सर्किल रेट के साथ 5 फीसद रकम ज्यादा चुकानी होगी. ऐसा करने के बाद ही आपके प्लॉट की रजिस्ट्री हो पाएगी.

यहां देना होगा लोकेशन और ग्रीन बेल्ट चार्ज

अगर मेट्रो लाइन की बात करें तो एक्वा लाइन मेट्रो कॉरिडोर के एक तरफ जैतपुर डिपो स्टेशन से लेकर ग्रेटर नोएडा अथॉरिटी दफ्तर, सेक्टर डेल्टा, अल्फा, परी चौक और नॉलेज पार्क है. जबकि दूसरी ओर कुछ हाउसिंग प्रोजेक्ट, कमर्शियल प्रॉपर्टी, जेपी ग्रीन्स समेत कई परियोजनाएं हैं. यह सभी जगह लोकेशन चार्ज की दायरे में आएंगी.

नोएडा में दिसम्बर से देना होगा पानी का बिल, जानें प्लान

यहां भी देना होगा लोकेशन चार्ज

ग्रेटर नोएडा अथॉरिटी जैतपुर डिपो से बोड़ाकी तक मेट्रो जाएगी. यही मेट्रो मल्टी मॉडल ट्रांसपोर्ट हब तक भी जाएगी. यह कॉरिडोर करीब 3 किलोमीटर का होगा. इसमें भी ग्रेटर नोएडा अथॉरिटी के कई आवासीय सेक्टर और औद्योगिक सेक्टर आ जाएंगे.

नोएडा से ग्रेटर नोएडा वेस्ट मेट्रो आनी है. इसमें गौर सिटी और आसपास की सोसाइटी आ जाएंगी. इसके अलावा दूसरे चरण में नॉलेज पार्क-5 तक मेट्रो जाएगी. इस कॉरिडोर में अथॉरिटी के कई आवासीय सेक्टर, बिल्डरों के हाउसिंग प्रोजेक्ट आएंगे.

रजिस्ट्री में इन रिश्तों पर मिलेगी छूट

हाल ही में नोएडा अथॉरिटी ने दादा-दादी द्वारा अपने पोते-पोती के नाम ट्रांसफर की जाने वाली प्रापर्टी को फीस को फ्री किया है. इसके लिए अथॉरिटी कोई फीस नहीं ले रही है. अभी तक इस तरह से प्रापर्टी लिखे जाने के लिए हजारों रुपये के स्टाम्प डयूटी और रेवेन्यू फीस के रूप में चुकाने पड़ते थे. खासतौर पर कोरोना के बाद से इस तरह के काफी केस सामने आ रहे थे जहां दादा को अपनी प्रापर्टी पोते के नाम ट्रांसफर करनी थी. अब भाई-बहन, पिता-बेटा, बेटी ओर मां-बेटा, बेटी के रिश्ते में भी आज होने वाली बोर्ड मीटिंग में यह फेसला लिया जा सकता है. लेकिन अथॉरिटी का यह नियम सिर्फ रेजिडेंशियल प्रापर्टी पर ही लागू होगा.

Tags: Industrial plot plan noida, Noida Authority, Own a house

विज्ञापन

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर