Home /News /uttar-pradesh /

Noida:पिता को हॉस्पिटल में भर्ती देख बेटे और बहू ने बनाई विश्व की सबसे छोटी ECG मशीन

Noida:पिता को हॉस्पिटल में भर्ती देख बेटे और बहू ने बनाई विश्व की सबसे छोटी ECG मशीन

ईसीजी

ईसीजी मशीन बनाने वाले नेहा और राहुल रस्तोगी.

राहुल रस्तोगी बताते हैं कि इस मशीन का नाम हमने संकेत लाइफ नाम दिया है. Corona काल में इसने कई लोगों की जान बचाई है. 

    नोएडा: अपने पिता को हॉस्पिटल में भर्ती करने के बाद ईसीजी (Electrocardiography) के लीड्स बॉडी पर देख कर एक बेटे को इतना दुख हुआ कि उसने Ecg को आसान करने की ठान ली और एक साल के अंदर ही उसने ऐसी मशीन बना ली जिस से ईसीजी लीड नहीं मात्र उंगली मशीन में सटाने के बाद ही पूरी डिटेल आ जाती है, उसके बाद अगर आप चाहे तो उसका प्रिंट निकालकर या डिजीटल रूप में इस्तेमाल कर सकते हैं.

    पिता को वायर से लिपटे देखना दुखी करता था
    मूलतः लखनऊ के रहने वाले राहुल अलीगढ़ मुस्लिम यूनिवर्सिटी (Aligarh Muslim University) से इंजीनियरिंग की पढ़ाई की है. वह बताते हैं साल 2013 में मेरे पिता जी लखनऊ में बीमार पड़ गए. मैं उस वक्त नोएडा में नौकरी करता था. पिता जी के हॉस्पिटल में भर्ती होने के बाद जब मैं वहां पहुंचा, मैने देखा कि पिता जी ईसीजी के वायर से लिपटे हुए थे. मुझे बहुत घबराहट हुई ऐसे देख कर. तभी मैंने सोच लिया कि ऐसी मशीन होनी चाहिए जो ईसीजी को आसान प्रक्रिया कर दे. इसके बाद मैने इस पर काम करना शुरू किया. वो बताते हैं कि साल 2014 में ही मैंने पहली मशीन बना दी थी.उसको इंटरनेशनल जर्नल में भी स्थान मिला है.उसके बाद डिजाइन को पेटेंट भी करा लिया. राहुल बताते हैं कि इस पुरे प्रोजेक्ट में मेरी पत्नी ने खूब साथ दिया हम दोनों अच्छी कंपनी में नौकरी करते थे लेकिन इस मशीन को बनाने के लिए हमने सब कुछ छोड़ दिया था.

    Corona में लाखों लोगों के काम आया
    38 वर्षीय राहुल रस्तोगी बताते हैं कि इस मशीन का नाम हमने संकेत लाइफ नाम दिया है. Corona काल में इसने कई लोगों की जान बचाई है. इसके काम और लाभ को देखते हुए  देश के कई राज्यों की सरकार ने इसे अपने यहां काम में लिया है. और भी कई राज्यों से बात चल रही है उनको भी यह काम में लेना है.
    वजन इतना कि जेब में लेकर घूम सकते हैं
    राहुल रस्तोगी की पत्नी और उनके साथ इस प्रोजेक्ट में काम करने वाली नेहा रस्तोगी बताती है कि यह वजन में इतना कम और साइज में इतना छोटा है कि आप इसे जेब में लेकर घूम सकते हैं. नेहा के अनुसार इसकी कीमत मात्र 2500 रुपए है और जो बड़ी मशीन आती है वो 45 हजार से लाखों तक जाती है. वहीं उसकी रिपोर्ट भी 2 से 3 हजार के बीच आती है वहीं संकेत लाइफ में मात्र 50 रुपए में एक्यूरेट ईसीजी पता चल जाता है.
    (रिपोर्टआदित्य कुमार)

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर