होम /न्यूज /उत्तर प्रदेश /Twin Tower Blast के दौरान आने-जाने को इन रास्तों का कर सकते हैं इस्तेमाल

Twin Tower Blast के दौरान आने-जाने को इन रास्तों का कर सकते हैं इस्तेमाल

सुपरटेक ट्विन टावर में विस्फोटक लगाने के दौरान सिर्फ तकनीशियनों को ही जाने की अनुमति होगी.

सुपरटेक ट्विन टावर में विस्फोटक लगाने के दौरान सिर्फ तकनीशियनों को ही जाने की अनुमति होगी.

सुपरटेक के ट्विन टावर (Supertech Twin Tower) में ब्लास्ट करने से पहले नोएडा-ग्रेटर नोएडा एक्सप्रेसवे (Noida-Greater Noi ...अधिक पढ़ें

नोएडा. सुपरटेक के ट्विन टावर (Supertech Twin Tower) को सुप्रीम कोर्ट अवैध घोषित करते हुए गिराने के आदेश जारी कर चुका है. इसी के चलते टावर में विस्फोट (Explosive) लगाकर उसे गिराने की तैयारी चल रही है. अगर सब कुछ ठीक ठाक रहा तो 28 अगस्त की सुबह टावर गिराए जा सकते हैं. टावर गिराने से पहले की तैयारियां भी साथ में चल रही हैं. नोएडा-ग्रेटर नोएडा एक्सप्रेसवे (Noida-Greater Noida Expressway) समेत कई सर्विस रोड भी कुछ वक्त के लिए बंद रहेंगे. लेकिन वाहन चालकों की सुविधा के लिए रूट डायवर्जन किया गया है. परि चौक (Pari Chowk) और महामाया फ्लाई ओवर दोनों ही साइड से वैकल्पिक रोड खोलकर रास्ता बनाया जा रहा है.

ब्लास्ट के दिन रूट डायवर्जन के यह 5 पाइंट होंगे खास

28 अगस्त के ट्विन टावर ब्लास्ट के दौरान 6 घंटे के लिए नोएडा-ग्रेटर नोएडा एक्सप्रेसवे बंद करने का असर दिल्ली-एनसीआर के ट्रैफिक पर न पड़े, इसके लिए नोएडा पुलिस ने पहले से डायवर्जन प्लान तैयार कर लिया है. प्लान के मुताबिक दिल्ली-नोएडा से ग्रेटर नोएडा की तरफ जाने वाले ट्रैफिक को महामाया फ्लाईओवर के पास से सेक्टर-37, शशि चौक, सिटी सेंटर, सेक्टर-71 होकर फेज दो की तरफ निकाला जाएगा. इसी तरह से परी चौक की तरफ से आने वाले ट्रैफिक को जेपी अस्पताल से पहले लेफ्ट टर्न लेकर बांध मार्ग पर डायवर्ट किया जाएगा.

आपके शहर से (नोएडा)

नोएडा
नोएडा

एनएसइजेड से एल्डिको चौक व सेक्टर-108 जाने के लिए एल्डिको चौक से पंचशील अंडरपास की ओर जाना होगा.

एनएसइजेड, सेक्टर-83 से सेक्टर-92 चौक और श्रमिक कुंज जाने के लिए एल्डिको चौक से पंचशील अंडरपास की तरफ जाना होगा.

सेक्टर-93 श्रमिक कुंज चौक से सेक्टर-82 जाने के लिए श्रमिक कुंज चौक से गेझा तिराहा की ओर ट्रैफिक डायवर्ट किया जाएगा.

सेक्टर-105 हाजीपुर, सेक्टर-108 से एल्डिको चौक होकर सेक्टर-83, फेज-2 एनएसइजेड जाने वालों को सेक्टर-105 और108 चौक से गेझा तिराहा या नोएडा एक्सप्रेसवे की ओर भेजा जाएगा.

सेक्टर-82 श्रमिक कुंज से फरीदाबाद फ्लाईओवर का उपयोग कर सेक्टर-132 जाने वाले वाहनों को श्रमिक कुंज चौक से सेक्टर-108 की ओर डायवर्ट किया जाएगा.

नोएडा की इस इमारत को तोड़ने पर निकलेगा 3 हजार ट्रक मलबा, जानें मामला

सुबह 7 से शाम 4 बजे तक घर से बाहर रहेंगे 7 हजार लोग

ट्विन टावर ब्लास्ट के दौरान पड़ोस में बनी बिल्डिंग और टावर को कोई नुकसान न पहुंचे. बिल्डिंगों में रहने वालों को कोई नुकसान न हो इसके लिए भी प्लान तैयार किया गया है. खासतौर पर ट्विन टावर से सटे एमराल्ड और एटीएस टावर को लेकर ज्यादा एहतियात बरती जा रही है. प्लान के मुताबिक सभी टावर और बिल्डिंग के करीब 7 हजार लोग ब्लास्ट वाले दिन घरों को छोड़कर सुबह 7 बजे बाहर आ जाएंगे. अपने वाहन और पेट्स को भी कहीं दूर ले जाना होगा. ब्लास्ट के बाद शाम 4 बजे ब्लास्ट करने वाली कंपनी एडिफिस से क्लीयरेंस मिलने के बाद ही घरों में वापसी होगी.

बिना फटे विस्फोटक बनेंगे परेशानी का सबब

ट्विन टावर में विस्फोट तो दोपहर को हो जाएगा, लेकिन उसके बाद भी कई घंटे तक किसी को टावर के मलबे के आसपास भटकने की इजाजत नहीं होगी. क्योंकि विस्फोट होने और टावर गिरने के बाद एडिफिस कंपनी के कर्मचारी मलबे में से विस्फोटक की उन छड़ों की तलाश करेंगे जो बिना फटे मलबे में शामिल हो गई होंगी. यह एहतियात इसलिए बरती जाएगी कि इससे किसी को कोई नुकसान नहीं पहुंचे.

Tags: Explosion, Noida Authority, Noida Expressway, Supertech twin tower

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें