होम /न्यूज /उत्तर प्रदेश /UP Board Exam: नोएडा में 38 हजार बच्चे रहेंगे CCTV की जद में, नकल करते पकड़े गए तो मिलेगी ये सजा

UP Board Exam: नोएडा में 38 हजार बच्चे रहेंगे CCTV की जद में, नकल करते पकड़े गए तो मिलेगी ये सजा

डीएम सुहास एलवाई ने बताया कि जहां प्रश्न-पत्र रखे गए हैं, वहां पर 24 घंटे सीसीटीवी से निगरानी की जा रही है.

डीएम सुहास एलवाई ने बताया कि जहां प्रश्न-पत्र रखे गए हैं, वहां पर 24 घंटे सीसीटीवी से निगरानी की जा रही है.

परीक्षा में नकल न हो इसके लिए प्रशासन ने खास इंतजाम किए हैं. सभी क्लास रूम में दो-दो सीसीटीवी कैमरे लगाए गए हैं. सीसीटी ...अधिक पढ़ें

नोएडा. कोविड के बाद पहली बार यूपी बोर्ड के एग्जाम (UP Board Exam) ऑफलाइन कराए जा रहे हैं. गुरुवार को 10वीं और 12वीं के बच्चे सेंटर (Exam Center) में पहुंचेंगे और क्लास रूम (Class Room) में बैठकर एग्जाम देंगे. एग्जाम को लेकर गौतमबुद्ध नगर जिला प्रशासन ने तैयारियां पूरी कर ली हैं. गौतमबुद्ध नगर में 58 परीक्षा केंद्र और तकरीबन 38 हज़ार स्टूडेंट्स परीक्षा में बैठेंगे. गौतमबुद्ध नगर के सभी स्कूलों को 11 सेक्टर और 6 जोन में बाटा गया है.

परीक्षा में नकल न हो इसके लिए प्रशासन ने खास इंतजाम किए हैं. सभी क्लास रूम में दो-दो सीसीटीवी कैमरे लगाए गए हैं. सीसीटीवी में  सिर्फ वीडियो रिकॉर्डिंग होगी बल्कि ऑडियो रिकॉर्डिंग भी हो पाएगी. मतलब एग्जाम में बैठे बच्चे न तो खुद किसी तरह की नकल को अंजाम दे पाएंगे और न ही कोई टीचर उनकी मदद कर पाएगा.

इसके अलावा 5 फ्लाइंग स्कवॉयड और 11 सेक्टर मजिस्ट्रेट रखेंगे नज़र
परीक्षा पूरी तरह से नकल विहीन और पारदर्शी हो इसका प्रशासन खास ख्याल रख रहा है. गौतमबुद्ध नगर के डीएम सुहास एल.वाई ने बताया कि 5 फ्लाइंग स्क्वायड का गठन किया गया है. जो सभी सेंटर पर टाइम टाइम पर और निरीक्षण करेंगी. इसके अलावा 11 सेक्टर मजिस्ट्रेट और 6 जोनल मजिस्ट्रेट की ड्यूटी लगाई गई है. परीक्षा केंद्र के 1 किलोमीटर के दायरे में धारा 144 लागू रहेगी.

आपके शहर से (दिल्ली-एनसीआर)

दिल्ली-एनसीआर
दिल्ली-एनसीआर

‘स्ट्रांग रूम पर 24 घंटे ‘पहरा’
डीएम सुहास एलवाई ने बताया कि जहां प्रश्न-पत्र रखे गए हैं, वहां पर 24 घंटे सीसीटीवी से निगरानी की जा रही है. इसके अलावा पुलिसकर्मी और फ़ोर्स की व्यवस्था भी की गई है.  कंट्रोल रूम के जरिए एग्जाम सेंटर के प्रत्येक रूम की निगरानी की जाएगी, ताकि किसी तरह की हेराफेरी न कि जा सके.

‘टीचर्स की होगी रैंडम पोस्टिंग’
टीचर्स परीक्षाओं में स्टूडेंट की मदद न कर सकें इसलिए सॉफ्टवेयर की मदद से टीचर्स की ड्यूटी रैंडम लगाई जाएगी. मतलब टीचर्स को पहले से पता नहीं होगा कि उनकी ड्यूटी किस केंद्र के किस कक्षा में लगी है. परीक्षा केंद्र पर केंद्रीय व्यवस्थापक के अलावा बाहरी व्यवस्थापक भी रहेंगे जो सेंटर्स पर चेकिंग करेंगे. कोविड के बाद पहली बार बच्चे क्लासरूम में बैठकर एग्जाम देंगे. फिलहाल कोविड के मामले बेहद कम हैं. इसके बावजूद सभी सेन्टर्स पर कोविड-19 के पुख्ता इंतजाम किए गए हैं.

Tags: Noida news, UP Board, UP Board Exam, Uttar pradesh news

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें