जेल में मटन-चिकन के साथ वोदका की डिमांड कर रहे हैं विदेशी कैदी

जेल में बंद अफ्रीकी कैदियों की उल-जुलूल मांगों की वजह से आए दिन हंगामा होता रहता है. रोज-रोज के हंगामे की वजह से जेल प्रशासन उन्हें एक बैरक से दूसरे बैरक में शिफ्ट करता रहता है.

News18Hindi
Updated: July 22, 2019, 2:23 PM IST
जेल में मटन-चिकन के साथ वोदका की डिमांड कर रहे हैं विदेशी कैदी
यूपी के गौतमबुद्ध नगर में कुछ विदेशी कैदी चिकन-मीट के साथ शराब की मांग कर रहे हैं(प्रतिकात्मक फोटो)
News18Hindi
Updated: July 22, 2019, 2:23 PM IST
यूपी की गौतमबुद्ध नगर पुलिस द्वारा पिछले कई दिनों से ऑपरेशन की एक सीरीज चलाई जा रही है. इसी सिलसिले में पिछले दिनों ऑपरेशन क्लीन-10 चलाया गया. इसके तहत जिले के कई सेक्टरों में अवैध तरीके से रह रहे विदेशियों के खिलाफ एक विशेष अभियान चलाया गया. पुलिस के इस ऑपरेशन में 31 नाइजीरियाई मूल के लोगों को अवैध तरीके से रहने के आरोप में गिरफ्तार किया गया. इन लोगों को गिरफ्तार करने के बाद जब जेल भेजा गया तो उनकी फिजूल की मांगों से पुलिस परेशान हो गई. जेल जाने के बाद ये अफ्रीकी कैदी चिकन-मटन और वोदका ( शराब) की मांग कर रहे हैं.

अफ्रीकी कैदी अपनी मांगों को लेकर पिछले कई दिनों से जेल में हंगामा कर रहे हैं.


उनको अपने देश भेजने की कोशिश
मीडिया रिपोर्ट्स में अफ्रीकी कैदी अपनी मांगों को लेकर हंगामा भी कर चुके हैं. जेल में बंद अफ्रीकी कैदियों की उल-जुलूल मांगों की वजह से जेल प्रशासन ने अब तरीका ढूंढ लिया है. रोज-रोज के हंगामे की वजह से जेल प्रशासन ने उन्हें पुरानी बैरक से अब दूसरी बैरक में ट्रांसफर कर दिया है. जेल प्रशासन अफ्रीकी कैदियों के व्यवहार से त्रस्त हो कर जल्दी से जल्दी उनको अपने देश भेजने की कोशिश में भी लग गया है. जेल प्रशासन को लगता है कि अफ्रीकी कैदियों की वजह से दूसरे कैदी भी न हंगामा करने लगें.

50 से ज्यादा विदेशी नागरिकों को लिया था हिरासत में
बता दें कि पिछले दिनों नोएडा के विभिन्न सेक्टरों से 50 से ज्यादा विदेशी नागरिकों को नोएडा पुलिस ने हिरासत में लिया था. इन विदेशियों ने अपना पासपोर्ट और वीजा दिखाने में असमर्थता जाहिर की थी. इन्हीं में से एक महिला के पास से गांजा और बड़ी मात्रा में बीयर और शराब की बोतलें भी बरामद हुई थीं. तकरीबन 20 विदेशी नागरिक नोएडा पुलिसकर्मियों के साथ हाथापाई कर फरार भी हो गए थे. बाद में नोएडा पुलिस ने 31 विदेशियों को मुहिम चला कर गिरफ्तार कर जिला जेल भेज दिया था. अब वही कैदी मटन-चिकन और शराब की मांग कर रहे हैं.

नोएडा पुलिस ने मुहिम चला कर 31 विदेशियों को गिरफ्तार कर जिला जेल भेज दिया था

Loading...

 'वोदका की मांग के बारे में जानकारी नहीं'
नोएडा पुलिस के एक अधिकारी राजकुमार न्यूज 18 हिंदी के साथ बातचीत में कहते हैं, 'इन कैदियों को पिछले दिनों अवैध तरीके के रहने के आरोप में गिरफ्तार किया था. उनके खाने-पीने को लेकर थोड़ी बहुत परेशानी हुई थी, लेकिन अब ठीक हो गया है. उन लोगों ने मटन-चिकन के साथ अफ्रीकी ड्रिंक टाइप की कुछ चीजों की मांग की थी. वोदका की मांग के बारे में मुझे जानकारी नहीं है.'

ऐसी खबर है कि फिलहाल जेल प्रशासन ने उन्हें समझाकर-बुझाकर अलग बैरक में शिफ्ट कर दिया है. अब तक 4 विदेशियों को उनके देश वापस भेज दिया है और बाकियों को भी उनके देश भेजने के लिए एफआरओ और एलआईयू यूनिट द्वारा जांच कराई जा रही है.

ये भी पढ़ें: आम कार्यकर्ता से लेकर नेता तक सबका ध्यान रखती थीं शीला दीक्षित

दिल्ली में 18वीं शताब्दी के दरवाजे का छज्जा गिरा

गाजीपुर के कचरे से छुटकारा दिलाने को अब PMO ने बढ़ाए कदम

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए ग्रेटर नोएडा से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: July 22, 2019, 11:44 AM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...