होम /न्यूज /उत्तर प्रदेश /ईरान में विरोध प्रदर्शन कर रही महिलाओं के समर्थन में नोएडा की महिला ने काट दिए अपने बाल

ईरान में विरोध प्रदर्शन कर रही महिलाओं के समर्थन में नोएडा की महिला ने काट दिए अपने बाल

ईरान में हिजाब विरोधी प्रदर्शनों ने जोर पकड़ लिया है.  (News18)

ईरान में हिजाब विरोधी प्रदर्शनों ने जोर पकड़ लिया है. (News18)

उत्तर प्रदेश के नोएडा के सेक्टर 15ए की रहने वाली एक 50 वर्षीय महिला ने ईरान में महिला प्रदर्शनकारियों का समर्थन करने के ...अधिक पढ़ें

हाइलाइट्स

पेशे से सामाजिक-सांस्कृतिक मानवविज्ञानी डॉ. अनुपमा भारद्वाज ने अपने बाल काटे.
तेहरान में महसा अमिनी की हिरासत में हुई मौत के बाद से ईरान और अन्य देशों में विरोध प्रदर्शन हो चुके हैं.
डॉ. अनुपमा भारद्वाज ने अपना बाल काटते हुए एक वीडियो फेसबुक पर अपलोड किया है.

नोएडा. उत्तर प्रदेश के नोएडा के सेक्टर 15ए की रहने वाली एक 50 वर्षीय महिला ने ईरान में महिला प्रदर्शनकारियों का समर्थन करने के लिए अपने बाल काट लिए हैं. पेशे से सामाजिक-सांस्कृतिक मानवविज्ञानी डॉ. अनुपमा भारद्वाज ने 6 अक्टूबर को शाम 7.30 बजे अपने बाल काटे. 16 सितंबर को तेहरान में 22 वर्षीय महसा अमिनी की हिरासत में हुई मौत के बाद से ईरान और अन्य देशों में कई विरोध प्रदर्शन हो चुके हैं. डॉ. अनुपमा भारद्वाज ने कहा कि मैं अपने नपुंसक क्रोध से उबल रही थी और कांप रही थी. इसलिए मैंने अपना बाल काटते हुए अपना एक वीडियो फेसबुक पर अपलोड किया है.

टाइम्स ऑफ इंडिया की एक खबर के मताबिक डॉ. अनुपमा ने कहा कि हालांकि ईरान में हो रहे बड़े पैमाने पर विरोध प्रदर्शनों के बारे में लोगों को पता नहीं था. उन्होंने मुझे मैसेज कर पूछा कि ‘क्या मैं डिप्रेशन में हूं या क्या बात है. मैंने फैसला किया है कि मैं अपने बालों को तब तक ऐसे ही रखूंगी जब तक ईरान में महिलाओं के साथ सम्मानजनक व्यवहार नहीं किया जाता.’ अनुपमा ने कहा कि शुक्रवार को उन्होंने ईरान दूतावास के सामने भी विरोध किया था, लेकिन उन्हें वहां से हटा दिया गया. वह सोमवार को ईरान दूतावास को एक ज्ञापन सौंपने की भी योजना बना रही हैं.

ईरान में हिजाब विरोधी प्रदर्शन में कूदीं स्कूली छात्राएं, स्कूलों से किया वॉकआउट!

आपके शहर से (नोएडा)

नोएडा
नोएडा

ईरान में महसा अमिनी को हिजाब नहीं पहनने के कारण नैतिकता पुलिस ने हिरासत में लिया था. उनकी पिटाई की गई, जिसके कारण बाद में महसा अमिनी की मौत हो गई. इसके बाद पूरे ईरान में हिजाब विरोधी प्रदर्शनों ने जोर पकड़ लिया. महिलाओं ने सार्वजनिक तौर पर अपने बालों को काटकर ईरान में कड़े ड्रेस कोड के खिलाफ विरोध जताया है. इन सरकार विरोधी प्रदर्शनों को रोकने के लिए पुलिस ने बल प्रयोग किया है. जिससे दर्जनों लोगों की मौत हुई है.

Tags: Iran, Noida news, Woman

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें