Home /News /uttar-pradesh /

World AIDS DAY:-नोएडा में रह रहें इन मासूम बच्चों से मिलिए जो अपने माता पिता से अलग रहने को है मजबूर

World AIDS DAY:-नोएडा में रह रहें इन मासूम बच्चों से मिलिए जो अपने माता पिता से अलग रहने को है मजबूर

एड्स

एड्स से लड़ रहे बच्चे (फ़ोटो-आदित्य कुमार)

1 दिसंबर को को पूरा विश्व एड्स दिवस (World AIDS DAY 2021) मनाता है. इसके पीछे का कारण है लोग एड्स के बारे में जागरूक हो सके.हम मिलवाते है आपको ऐसे बच्चों से जिनके माता-पिता को एड्स ने अपने घेरे में ले लिया और अंततः उनकी जान चली गई या ऐसे हालात में है कि वो बच्चों की देखभाल नहीं कर सकते.उनके परिवार से बच्चों में भी इसका संक्रमण हो गया.

अधिक पढ़ें ...

    नोएडा: 1 दिसंबर को को पूरा विश्व एड्स दिवस (World AIDS DAY 2021) मनाता है. इसके पीछे का कारण है लोग एड्स के बारे में जागरूक हो सके.हम मिलवाते है आपको ऐसे बच्चों से जिनके माता-पिता को एड्स ने अपने घेरे में ले लिया और अंततः उनकी जान चली गई या ऐसे हालात में है कि वो बच्चों कीदेखभाल नहीं कर सकते.उनके परिवार से बच्चों में भी इसका संक्रमण हो गया.

    बड़ा होकर एयर फोर्स में है जाने का सपना
    सेक्टर 92 स्थित डिजायर सोसायटी में 45 बच्चे रह रहे हैं जो एचआईवी से पीड़ित हैं, वो बच्चे जानते भी है कि वो कितनी भयानक बीमारी से जूझ रहे हैं.लेकिन उनके हौसले इतने बुलंद हैं कि सातवी क्लास में पढ़ने वाले अनिकेत ( बदला हुआ नाम) से पूछने पर वो बताते हैं कि मैं बड़ा होकर एयर फोर्स में शामिल होना चाहता हूं. ताकि देश की सेवा कर सकूं.तो वहीं बंटी (बदला हुआ नाम) बताते हैं कि अभी सोंचा नहीं है कि क्या बनना है,आगे सोचेंगे. वो चौथी क्लास में पढ़ते हैं. अनिकेत और बंटी पिछले तीन साल से नोएडा के इस अनाथालय में रह रहे हैं. अनिकेत के माता-पिता का देहांत एड्स के कारण हो चुका है. वहीं बंटी के पिता का इलाज चल रहा है.

    भारत में तीस से चालीस और अमेरिका में साठ साल तक जीते है एड्स संक्रमित
    डिजायर सोसाइटी की देखरेख आशीष माहेश्वरी करते हैं,वो बताते हैं कि भारत में अगर किसी को एड्स हो जाता है तो लोग जसे स्वीकार नहीं करते हैं जिस कारण उन लोगों की जिंदगी थोड़ी मुश्किल हो जाती है.इस कारण भारत में एड्स संक्रमित बच्चे 30 से 40 साल से अधिक नहीं जी पाते हैं, लेकिन अमेरिकी जैसे देशों में ऐसा नहीं है.वहां जागरूकता के कारण लोग सहयोग करने से हिचकते नहीं है. जिस वजह से वहां पर एड्स संक्रमित बच्चे अपनी पूरी जिंदगी खुशहाल हो कर जीते हैं

    (रिपोर्ट-आदित्य कुमार)

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर