Amazon से मंगाया था 40 हजार का मोबाइल, पैकेट खोला तो निकली फ्रॉक, पीड़ित पहुंचा थाने

ऑनलाइन शॉपिंग में मोबाइल की जगह फ्रॉक मिलने के बाद हरदीप सिंह ने थाने में तहरीर दी है.
ऑनलाइन शॉपिंग में मोबाइल की जगह फ्रॉक मिलने के बाद हरदीप सिंह ने थाने में तहरीर दी है.

पीलीभीत (Pilibhit) में जहानाबाद थाने के थानाध्यक्ष हर्षवर्द्धन सिंह का कहना है कि अमेजॉन कम्पनी के खिलाफ धोखाधड़ी की तहरीर आई है. जांच की जा रही है. जांच के बाद मुकदमा दर्ज कर लिया जाएगा.

  • Share this:
पीलीभीत. उत्तर प्रदेश के पीलीभीत (Pilibhit) मैं एक जानी-मानी ऑनलाइन शॉपिंग कंपनी अमेजॉन (Amazon) पर धोखाधड़ी करने का आरोप लगा है. युवक ने धोखाधड़ी करने का आरोप लगाते हुए जहानाबाद थाना में तहरीर भी दी है, जिसके बाद पुलिस मामले की जांच में जुट गई है. दरअसल युवक का आरोप है कि उसने 40 हजार का मोबाइल ऑर्डर किया था लेकिन डिलिवरी उसे फ्रॉक की हुई.

ये है पूरा मामला

पीलीभीत के जहानाबाद थाना क्षेत्र के अंतर्गत आने वाले कनक गांव के निवासी युवक हरदीप सिंह ने थाने में दी तहरीर में बताया है कि उसने 24 अक्टूबर को अमेजॉन पर एक मोबाइल आर्डर किया था, जिसकी कीमत करीब ₹40000 थी. जब कंपनी द्वारा डिलीवर किए गए प्रोडक्ट को उसने खोलकर देखा तो उसमें एक ड्रेस थी. मोबाइल की जगह पर ड्रेस पाकर जब उसने कंपनी से संपर्क साधा तो कंपनी ने जांच के नाम पर 7 दिन और लिए.



अब 7 दिन बाद कंपनी के अधिकारियों ने उसे अवगत कराया कि कंपनी की तरफ से सभी व्यवस्थाएं ठीक हैं. अब खुद को ठगा महसूस कर रहे युवक ने कंपनी के खिलाफ धोखाधड़ी करने का आरोप लगाते हुए जहानाबाद थाने में तहरीर दी है. युवक की तहरीर मिलने के बाद पुलिस मामले की जांच में जुट गई है.
पुलिस अधिकारी का क्या कहना है

जहानाबाद थाने के थानाध्यक्ष हर्षवर्द्धन सिंह का कहना है कि अमेजॉन कम्पनी के खिलाफ धोखाधड़ी की तहरीर आई है. जांच की जा रही है. जांच के बाद मुकदमा दर्ज कर लिया जाएगा. समय-समय पर ऑनलाइन शापिंग करवाने वाली कम्पनियों पर आरोप लगते रहते हैं. ऐसे मे कम्पनियों को भी अपनी छवि बरकरार रखने के लिए बेहतर कदम उठाने चाहिए.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज