पीलीभीत: इलाज के लिए डॉक्टर के सामने गिड़गिड़ाता रहा पिता, बच्ची की मौत

पिता के कई घंटे तक गुहार लगाने पर भी डॉक्टर का पत्थर दिल नहीं पिघला, जिससे मासूम बच्ची की मौत हो गई. मृतक बच्ची के परिजनों ने डॉक्टरों पर लापरवाही के आरोप लगाए हैं.


Updated: June 11, 2018, 2:24 PM IST
पीलीभीत: इलाज के लिए डॉक्टर के सामने गिड़गिड़ाता रहा पिता, बच्ची की मौत
पीड़ित पिता की फोटो.

Updated: June 11, 2018, 2:24 PM IST
पीलीभीत के पूरनपुर सीएचसी में डाॅक्टरों की बड़ी लापरवाही सामने आई है, जिसकी कीमत एक मासूम को अपनी जान देकर चुकानी पड़ी. मासूम बच्ची बुखार से पीड़ित थी. पिता उसे सीएचसी पूरनपुर लेकर आया था. पिता ड्यूटी पर तैनात डॉक्टर के सामने बच्ची के इलाज के लिए गिड़गिड़ाता रहा, लेकिन डॉक्टर का कहना था कि उसके पास समय नहीं है. पिता के कई घंटे तक गुहार लगाने पर भी डॉक्टर का पत्थर दिल नहीं पिघला, जिससे मासूम बच्ची की मौत हो गई. मृतक बच्ची के परिजनों ने डॉक्टरों पर लापरवाही के आरोप लगाए हैं.

बता दें कि जंगल पार मेनी गुलडिया फैजुल्लागंज के रहने वाले संजीत कुमार अपनी बच्ची के इलाज के लिए सीएचसी आए थे, जहां उसकी मौत हो गई. बच्ची की मौत की खबर मिलते ही परिजनों के होश उड़ गए. परिजनों ने सीएचसी में जमकर हंगामा किया गया और डॉक्टर के खिलाफ कार्रवाई की मांग की.

इस मामले में जब डॉक्टर से पूछा गया, तो उन्होंने बताया कि जब उसने बच्ची को देखा था तब उसकी मौत ही चुकी थी. वहीं, बच्ची के पिता ने बताया कि अस्पताल में तैनात डॉक्टर से इलाज के लिए कहते रहे, लेकिन डॉक्टर यह कहकर चुप करा देते कि मैं अभी व्यस्त हूं. जब कई घंटों तक डॉक्टर ने मासूम बच्ची को नहीं देखा, तो उसने जिंदगी से हार मान ली और मौत को गले लगा लिया.
पूरी ख़बर पढ़ें
अगली ख़बर