लाइव टीवी

मात्र 1020 रुपये फीस न जमा होने पर स्कूल ने किया प्रताड़ित, 9वीं के छात्र ने दे दी जान

ARJDEV SINGH | News18Hindi
Updated: September 19, 2017, 12:16 PM IST
मात्र 1020 रुपये फीस न जमा होने पर स्कूल ने किया प्रताड़ित, 9वीं के छात्र ने दे दी जान
मृतक छात्र रोबिन

दिल्ली के रायन पब्लिक स्कूल में छात्र प्रद्यम्न की हत्या के बाद अब जनपद पीलीभीत के हजारा थाना क्षेत्र में स्थित गौरनिया गांधीनगर गांव में एक छात्र ने स्कूल प्रबंधन के उत्पीड़न से तंग होकर ख़ुदकुशी कर ली.

  • News18Hindi
  • Last Updated: September 19, 2017, 12:16 PM IST
  • Share this:
दिल्ली के रायन पब्लिक स्कूल में छात्र प्रद्यम्न की हत्या के बाद अब जनपद पीलीभीत के हजारा थाना क्षेत्र में स्थित गौरनिया गांधीनगर गांव में एक छात्र ने स्कूल प्रबंधन के उत्पीड़न से तंग होकर ख़ुदकुशी कर ली.

पूरा मामला स्कूल फीस से जुड़ा हुआ है. दरअसल पिता की मौत के बाद मां फीस जमा नहीं कर पाई. जिसके बाद अमन चिल्ड्रेन स्कूल के प्रबंधन ने छात्र का उत्पीड़न शुरू कर दिया. छात्र इस अपमान को बर्दाश्त नहीं कर पाया और उसने स्कूल के रास्ते में पेड़ से लटककर जान दे दी.

सहपाठियों के मुताबिक फीस जमा करने में देरी होने पर स्कूल प्रबंधन ने सजा देने का नया तरीका अपनाया था. नौवीं के छात्र को बेंच पर एक पीरियड तक एक ही पैर पर खड़ा होने की सजा दी जाती थी. यही नही किसी वजह से अगर दूसरा पैर अगर बेंच पर टिक गया, तो सजा का समय बढ़ा दिया जाता था. 6 महीने की फीस 1020 रुपये बकाया होने पर स्कूल न आने की चेतावनी के बाद भी कक्षा 9 का छात्र रोबिन (14 वर्ष) पुत्र स्व मुन्ना सिंह को उसकी मां लता ने उसे जबरन स्कूल भेज दिया. जबकि छात्र रोबिन स्कूल जाना नही चाहता था.

परेशान रोबिन स्कूल के लिए घर से तो चल दिया, लेकिन रास्ते मे उसने एक पेड़ से फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली. गांव के कुछ लोगों ने रोबिन का शव पेड़़ पर लटकता देखा और उसकी मां को सूचना दी. मौके पर पहुंची मां अपने लाल का शव देखा मरणासन्न हो गई. ग्रामीण और परिजनों के कहने पर छात्र के शव को पेड़ से उतारकर उसका अंतिम संस्कार कर दिया. इतना ही नहीं आत्महत्या की बात भी पुलिस से छुपा ली गई.

बता दें कि लता अपने ही गांव के प्राथमिक विद्यालय में भोजनमाता हैं और मानदेय न मिलने पर फीस जमा नही कर सकी थी.

इस बीच  पत्रकारों और गांव के संभ्रांत लोगों की सूचना को संज्ञान लेते हुए एएसपी रोहित मिश्रा ने पूरे मामले की जांच पूरनपुर क्षेत्राधिकारी अनुराग दर्शन को दिया है. फिलहाल इस मामले में पुलिस ने स्कूल प्रबंधन के खिलाफ केस दर्ज कर लिया है.

गौरतलब है कि अमन चिल्ड्रेन स्कूल की मान्यता सिर्फ आठवीं तक की है. लेकिन स्कूल प्रबंधन अवैध तरीके से हाईस्कूल तक की कक्षाओं को संचालित कर रहा है.

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए पीलीभीत से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: September 19, 2017, 11:31 AM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...