लाइव टीवी

पीलीभीत: सीएम योगी ने किया मंडी समिति का औचक निरीक्षण, गंदगी देख बिफरे

ARJDEV SINGH | News18India
Updated: November 12, 2017, 5:51 PM IST
पीलीभीत: सीएम योगी ने किया मंडी समिति का औचक निरीक्षण, गंदगी देख बिफरे
सीएम योगी ने किया मंडी समिति का औचक निरीक्षण. Photo: News 18 Hindi

मंडी में गंदगी विशेषकर चोक नालियों को देखकर सीएम ने नाराजगी व्यक्त की. उन्होंने मंडी समिति के उपनिदेशक मूलचंद्र गंगवार को निर्देश दिये कि मंडी में पानी, सही टीनशेड, एलइडी स्ट्रीट लाइट तथा नालों की सफाई का प्रस्ताव बनाकर मंडी परिषद भेजें.

  • News18India
  • Last Updated: November 12, 2017, 5:51 PM IST
  • Share this:
मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ रविवार दोपहर पीलीभीत पहुंचे. यहां करीब डेढ़ बजे उनका हैलिकाप्टर पीलीभीत पुलिस लाइन में पहुंचा. यहां से उनका काफिला मंडी समिति में पहुंचा. मंडी समिति में उन्होंने राज्य खाद्य निगम, यूपी एग्रो तथा आरएफसी के सरकारी धान खरीद केंद्रों का निरीक्षण किया.

मुख्यमंत्री ने जब एक धान खरीद केंद्र का निरीक्षण किया तो वहां मौजूद एक किसान मनदीप सिंह निवासी मथना ने जानवरों से फसलों को होने वाले नुकसान की चर्चा की. किसान को मुख्यमंत्री ने आश्वस्त किया सोलर फैंसिंग का प्रस्ताव स्वीकार हो गया है. शीघ्र ही इसे आरंभ कर दिया जाएगा.

धान खरीद केंद्रों पर किसानों ने मुख्यमंत्री से आग्रह किया कि वे नमी का 17 प्रतिशत का मानक समाप्त कर दें क्योंकि तराई की जलवायु नमी वाली है. इस पर मुख्यमंत्री ने आश्वस्त किया कि वे इस पर विचार करेंगे. उन्होंने उपस्थित खरीद अधिकारियों को निर्देश दिया कि किसी भी दशा में किसान को धान खरीद केंद्र से नहीं लौटाया जाए.

मंडी में गंदगी विशेषकर चोक नालियों को देखकर सीएम ने नाराजगी व्यक्त की. उन्होंने मंडी समिति के उपनिदेशक मूलचंद्र गंगवार को निर्देश दिये कि मंडी में पानी, सही टीनशेड, एलइडी स्ट्रीट लाइट तथा नालों की सफाई का प्रस्ताव बनाकर मंडी परिषद भेजें.

सीएम ने कहा कि वे यहां धान और गन्ना खरीद का निरीक्षण करने आये हैं. किसानों से भी बात की है. उन्होंने बताया कि नैफैड द्वारा किसानों को भुगतान न करने पर काली सूची में डाल दिया है.

जब उनसे पूछा गया कि रविवार के दिन तो मंडी बंद रहती है. ऐसे में निरीक्षण का क्या औचित्य? इस पर उन्होंने कहा कि किसान के लिए कोई दिन रविवार नहीं होता. किसान को कोई परेशानी नहीं होना चाहिए. उनका प्रयास है कि रविवार को भी किसान की उपज खरीदी जाए.

निरीक्षण के दौरान बरेली मंडल के आयुक्त पीवी जगनमोहन, पुलिस उपमहानिरीक्षक , जिलाधिकारी शीतल वर्मा, पुलिस अधीक्षक कलानिधि नैथानी, उपनिदेशक बरेली मंडल मूलचंद्र गंगवार, अपर जिलाधिकारी ब्रजकिशोर, अपर जिलाधिकारी न्यायिक विनोद गौड, सिटी मजिस्ट्रेट अवधेश मिश्र, जिला खाद्य विपणन अधिकारी, मंडी सचिव सहित कई अधिकारी उपस्थित थे.

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए पीलीभीत से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: November 12, 2017, 5:51 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...