पीलीभीत: बैडमिंटन पलयेर निकला लुटेरा, जिससे लूटा माल उसी को बेचने पहुंच गए थे आरोपी

पीलीभीत: लूटे गए तेल के साथ दबोचे गए लुटेरे
पीलीभीत: लूटे गए तेल के साथ दबोचे गए लुटेरे

घटना आठ महीने पहले 23 जनवरी को आसाम हाईवे पर हुई थी. मुनीम और कार चालक एक आदमी के साथ नेपाल से 1.2 क्विंटल सुगंधा तेल लेकर कार से बहराइच जा रहे थे. आसाम हाईवे चौकी के पास पीछे से कार से आ रहे 6 बदमाशों ने ओवरटेक कर उन्हें रोक लिया. बदमाशों ने खुद को अधिकारी बताया और तीनों को अलग-अलग जगह उतार कर माल लेकर फरार हो गए.

  • Share this:
पीलीभीत. उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) के पीलीभीत (Pilibhit) जिले में पुलिस (Police) ने अनोखे लुटेरों (Looters) को गिरफ्तार (Arrest) किया है. दरअसल, लुटेरों ने जिसका माल लूटा उसी को बेचने पहुंच गए. पूरनपुर थाने की पुलिस ने लूट के माल के साथ लुटेरों को धर दबोचा है. इन लुटेरों ने पहले व्यापारी से 80 लाख के माल की लूट ली, फिर उसी व्यापारी को माल बेचने के लिए पहुंच गए.

क्या है पूरा मामला?

घटना  आठ महीने पहले 23 जनवरी को आसाम हाईवे पर हुई थी. मुनीम और कार चालक एक आदमी के साथ नेपाल से 1.2  क्विंटल सुगंधा तेल लेकर कार से बहराइच जा रहे थे. आसाम हाईवे चौकी के पास पीछे से कार से आ रहे 6 बदमाशों ने ओवरटेक कर उन्हें रोक लिया. बदमाशों ने खुद को अधिकारी बताया और तीनों को अलग-अलग जगह उतार कर माल लेकर फरार हो गए.



कैसे हुए गिरफ्तार?
मुनीम और कार चालक सहित अन्य लोगों को अगवा कर 8 महीने पहले लूटे गए 80 लाखों रुपए के तेल के मामले में पुलिस ने चार आरोपियों को आसाम हाईवे पर खर्चा महल के पास से गिरफ्तार कर लिया. उस वक्त चारों आरोपी तेल बेचने की फिराक में कार से जा रहे थे. इसकी सूचना मिलने पर पुलिस ने घेराबंदी कर उन्हें धर दबोचा. पकड़ें गए आरोपी प्रयागराज और गोरखपुर के रहने वाले हैं.

पहले पुलिस ने लगाई थी FR
सीमा जाल में फंसी पुलिस पहले तो लूट की इस घटना से बचती रही. बाद में घटना का खुलासा न होने पर जुलाई माह में फाइनल रिपोर्ट लगा दी थी. लेकिन लुटे गए तेल की बिक्री के चक्कर में बदमाश पुलिस के हाथ लग गए. बताया जाता हैं कि कीमती तेल का कारोबार देश मे कुछ चुनिंदा लोग ही करते हैं, इन लोगों ने तेल की ऑनलाइन बिक्री शुरू की. नाममात्र खरीदार होने के कारण तेल बिकने की जानकारी उस कंपनी को लग गई. सैंपल भी मंगवाया गया और डील पक्की होने पर उन्हें बुलाया गया. इसकी जानकारी पुलिस को लग गई और सभी लुटेरे धर दबोचे गए.

बैडमिंटन खिलाड़ी निकला लुटेरा
पकड़े गए चारों आरोपी देंखने मे पढ़ें लिखे लग रहे हैं, जिसमे से इलाहाबाद का रहने वाला फैज बैडमिंटन खिलाड़ी हैं और स्पोर्ट्स कोटे मे रेलवे मे 15 सितंबर 2015  से फिटर पद पर तैनात है.

पुलिस का क्या कहना है
पुलिस अधीक्षक जय प्रकाश का कहना है कि लूट के मुकदमे में  फाइनल रिपोर्ट लग गई थी. लेकिन बाद में इसको रीओपन कराया गया. जिसका नतीजा यह रहा की लूट का खुलासा हुआ और लुटेरे धर दबोचे गए.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज