पीलीभीत: दो बहनों की हत्या निकली ऑनर किलिंग, मां ने बेटों के साथ मिलकर ली जान, जानिए पूरा खुलासा

पीलीभीत में अपनी ही दो बेटियों की हत्या करने के आरोप में गिरफ्तार मां कमलादेवी.

पीलीभीत में अपनी ही दो बेटियों की हत्या करने के आरोप में गिरफ्तार मां कमलादेवी.

Pilibhit News: उत्तर प्रदेश के पीलीभीत में दो बहनों की जघन्य हत्याकांड का पुलिस ने खुलासा कर दिया है. मामले में पुलिस ने लड़कियों की मां और एक भाई व भट्ठा मालिक को गिरफ्तार किया है. वहीं एक अन्य भाई व जीजा की तलाश कर रही है. पुलिस ने इसे ऑनर किलिंग बताया है.

  • Share this:
पीलीभीत. उत्तर प्रदेश के पीलीभीत (Pilibhit) में तीन दिन पहले ईंट-भट्ठे पर काम करने वाली दो बहनों की हत्या (Double Murder) का पुलिस ने खुलासा कर दिया है. पुलिस के अनुसार बहनों की ऑनर किलिंग (Honour Killing) की गई. जिले के पुलिस कप्तान जय प्रकाश (SP Jai Prakash) ने प्रेस कॉन्फ्रेंस में दो बहनों की हत्या का खुलासा करते हुए कहा कि दोनों बहनों के हत्या ऑनर किलिंग थी. फोन पर बात करने से नाराज मां और भाइयों ने मिलकर उनकी हत्या कर दी थी.

एसपी ने बताया कि पीलीभीत के बीसलपुर थाना क्षेत्र में पड़ने वाले कासिमपुर गांव में सोनी नाम का ईट भट्टे पर काम करने वाली अंशिका 17 वर्षीय वह उसकी बड़ी बहन पूजा 21 साला भी अपने परिवार के साथ इस भट्टे पर काम करती थी. 22 मार्च की शाम जब यह दोनों बहनें किसी से फोन पर बात कर रही थीं तो इनके मां और भाइयों ने उनको देख लिया.

Youtube Video


इस तरह घटना को दिया गया अंजाम
फोन पर बात करने से नाराज मां और भाई ने दोनों बहनों से मारपीट की. बाद में गुस्से में आपा खोने पर मां कमलादेवी ने पहले तो छोटी बेटी का गला घोटा, जिसमें उसके दोनों बेटे रामप्रताप और विजय प्रताप ने उसका साथ दिया. उसके बाद उसने अपनी 21 वर्षीय बड़ी बेटी पूजा का गला दबा दिया. पुलिस की मानें तो इन लोगों ने अनिल, जो लड़कियों का जीजा था, उसको भी बुलाकर बड़ी लड़की पूजा को जिंदा ही पेड़ से लटका दिया. उसके बाद यह लोग रात भर पुलिस को ना बता कर आपस में ही खिचड़ी पकाते रहे कि किसी तरीके से डेड बॉडी को छुपा दिया जाए. इसमें इनका साथ ईट-भट्टा मालिक अली हसन ने भी दिया.

मां, भाई और भट्ठा मालिक गिरफ्तार, एक भाई व जीजा फरार: एसपी

पुलिस ने राम प्रताप, जो मृतका का भाई है, मां कमला देवी और ईट भट्टा मालिक अली हसन को गिरफ्तार कर लिया है. वहीं लड़कियों का भाई विजय प्रताप व जीजा अनिल अभी भी पुलिस की गिरफ्त से दूर हैं. पुलिस ने धारा 201 के तहत भट्ठा मालिक अली हसन को गिरफ्तार किया है. एसपी ने कहा कि अभी भी इस हत्याकांड को बंद नहीं किया गया है और इसके पीछे के मौके पर जांच की जा रही है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज