लाइव टीवी

पीलीभीत जंक्शन पर डिरेल हुआ रेल इंजन, मचा हड़कंप

News18Hindi
Updated: February 12, 2018, 11:46 AM IST
पीलीभीत जंक्शन पर डिरेल हुआ रेल इंजन, मचा हड़कंप
पटरी से उतरा रेलवे इंजन

ट्रैक पर इंजन को दोबारा लाने के लिए टीम द्वारा रेस्क्यू जारी है. फिलहाल इस दुर्घटना की जानकारी देने से रेल अधिकारी खुद को बचाते नजर आए.

  • News18Hindi
  • Last Updated: February 12, 2018, 11:46 AM IST
  • Share this:
पीलीभीत के रेलवे जंक्शन पर आज बड़ा हादसा होते-होते टल गया. रेल विभाग की इस लापरवाही से विभाग व आसपास के क्षेत्र हड़कम्प मचा हुआ है. दरअसल पीलीभीत-बरेली रेल मार्ग पर ट्रेन की बोगियों को अटैच करने के लिए रेल इंजन संख्या-55364 आउटर पर जाकर वापस आने की तैयारी कर रहा था. इस दौरान रेलकर्मियों की लापरवाही के चलते वह दूसरे ट्रैक पर चला गया. इसके बाद इंजन अनियंत्रित होकर ट्रैक से उतर गया.

हालांकि बड़ी दुर्घटना से इंजन को बचाया जा सका. मगर इससे रेल विभाग व आसपास के क्षेत्र में हड़कंप मचा गया और देखने के लिए लोगो का तांता लग गया. ट्रैक पर इंजन को दोबारा लाने के लिए टीम द्वारा रेस्क्यू जारी है. फिलहाल इस दुर्घटना की जानकारी देने से रेल अधिकारी खुद को बचाते नजर आए.

बता दें पीलीभीत रेलवे जंक्शन का नवीनीकरण हो चुका है. छोटी लाइनों को उखाड़कर ब्राडगेजिंग का कार्य कुछ हिस्सों पर किया जा चुका है, वही ये कार्य अब भी जारी है. इस जंक्शन से उत्तराखंड के टनकपुर मार्ग, शाहजहांपुर मार्ग, मंडल बरेली मार्ग व लखनऊ को जाने वाले मार्ग हैं. इनमें बरेली व उत्तराखंड को जाने वाले बड़ी रेलमार्ग का कार्य पूरा किया जा चुका है.

लखनऊ व शाहजहांपुर रेल मार्ग का कार्य अभी पूरा नहीं किया जा सका है. इस ब्राडगेजिंग कार्य का उद्घान करने के लिए पीलीभीत की सांसद व केंद्रीय मंत्री मेनका गांधी के कहने पर तत्कालीन केद्रीय रेल मंत्री सुरेश कुमार प्रभु पीलीभीत पहुचे थे.

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए पीलीभीत से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: February 12, 2018, 11:46 AM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...