VIDEO देखिए कैसे पिंजड़े से निकलकर पल भर में जंगल में गुम हो गया तेंदुआ

ये तेंदुआ अब तक जंगल किनारे रह रहे ग्रामीणों के घर में घुसकर कई मवेशियों को निवाला बना चुका था. तेंदुए का आतंक टाइगर रिजर्व क्षेत्र के बोंदीभूड़, नौजलिया, महाराजपुर सहित नेपाल सीमा पर रहा.

ARJDEV SINGH | News18 Uttar Pradesh
Updated: December 6, 2018, 3:39 PM IST
ARJDEV SINGH | News18 Uttar Pradesh
Updated: December 6, 2018, 3:39 PM IST
पीलीभीत टाइगर रिजर्व इलाके के इंडो-नेपाल सीमा पर स्थित गांवो में एक तेंदुए ने आतंक मचा रखा था. तीन दिन पूर्व आतंकी तेंदुआ पकड़ा गया था, जिसे वन अधिकारी फील्ड डायरेक्टर डा.एच राजा मोहन व् डीएफओ आदर्श कुमार के निर्देश पर जाल में कैद से आजाद करते हुए जंगल में छोड़ दिया गया. छोड़ने से पहले चिकित्सकों ने तेंदुए का स्वास्थ्य परिक्षण कराया गया था, जिसमें वह पूरी तरह से स्वस्थ्य पाया गया.

दरअसल टाइगर रिजर्व क्षेत्र के बाराही रेंज में वन विभाग की टीम ने बकरी बांधकर जाल की तरफ आकर्षित कर तेंदुए को पिंजरे में कैद कर लिया था. ये तेंदुआ अब तक जंगल किनारे रह रहे ग्रामीणों के घर में घुसकर कई मवेशियों को निवाला बना चुका था. तेंदुए का आतंक टाइगर रिजर्व क्षेत्र के बोंदीभूड़, नौजलिया, महाराजपुर सहित नेपाल सीमा पर रहा.

तेंदुआ के पकड़े जाने के बाद अब ग्रामीणों को राहत की सांस मिली है. वही तेंदुए के पिंजरे से जंगल में छोड़े जाने का वीडियो अब सोशल मिडिया में तेजी से वायरल हो रहा है.

ये भी पढ़ें: 

बुलंदशहर का मुख्य आरोपी योगेश राज अभी भी फरार, भड़काऊ पोस्ट जमकर हो रहे हैं वायरल

पुलिस के लिए चुनौतीः बुलंदशहर हिंसा के मुख्य आरोपी योगेश राज ने जारी किया VIDEO

बुलंदशहर हिंसा का पूरा VIDEO: मारो...मारो... चिल्लाते हुए पत्थर फेंक रही थी भीड़
Loading...

बुलंदशहर हिंसा: इंस्पेक्टर सुबोध के परिवार से मिले CM योगी, किए ये वादे

बुलंदशहर हिंसा के बाद गोकशी को लेकर ताबड़तोड़ छापे, शिक्षक भर्ती में CBI की FIR

महागठबंधन को लेकर कांग्रेस की बैठक में अखिलेश, माया के शामिल होने पर सस्पेंस

पूर्व सांसद उमाकांत यादव गए जेल, MP MLA कोर्ट ने 7 साल की सजा रखी बरकरार

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए पीलीभीत से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: December 6, 2018, 12:47 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...