पीलीभीत: आंधी-पानी का प्रकोप, नेपाली महिला सहित 3 की मौत

नेपाली महिला सुकुनी रोज की तरह आज भी अपनी बहू के साथ सीमा पार कर भारत में सब्जी बेचने के लिए आई थी. अचानक मौसम खराब होने की वजह से आकशीय बिजली की चपेट में आकर सुकुनी की मौत हो गई.

News18India
Updated: May 29, 2018, 12:04 PM IST
पीलीभीत: आंधी-पानी का प्रकोप, नेपाली महिला सहित 3 की मौत
आंधी पानी में निर्माणाधीन बरातघर की टीन शेड व दीवार गिरी. Photo: News18
News18India
Updated: May 29, 2018, 12:04 PM IST
भीषण गर्मी के प्रकोप से पीलीभीत वासियों को राहत तो मिली लेकिन आंधी के साथ ही भारी बारिश और ओलावृष्टि से आम जनजीवन को भारी क्षति पहुंची है. पूरनपुर इलाके में निर्माणाधीन मकान से दबकर एक वृद्ध की मौत हुई है, वहीं पेड़ से दबकर किशोरी की मौत हो गई. इसके अलावा भारतीय सीमा में सब्जी बेचने आई एक नेपाली महिला की आकाशीय बिजली गिरने से मौत हो गई.

दरअसल इंडो-नेपाल व उत्तराखंड से सटा जनपद पीलीभीत नदियों व जंगल से घिरा हुआ है. शारदा नदी, देवहा नदी इस जनपद के बीचों-बीच से होकर बहती हैं. वहीं जंगल का विशालकाय क्षेत्रफल उत्तराखंड व जिला लखीमपुर व शाहजहांपुर से आपस मे जुड़ा हुआ है. यही कारण है कि तापमान बढ़ते ही एकाएक मौसम में बदलाव होने की वजह से बेमौसम आंधी, बारिश व ओलावृष्टि आमतौर पर होता रहता है.

पीलीभीत में आंधी व बरसात के साथ ही पूरनपुर, माधोटांडा व हाजरा इलाके में ओलावृष्टि हुई है. इसमें लखनऊ-हरिद्वार नेशनल हाइवे के पूरनपुर इलाके में सैकड़ों पेड़, बिजली के पोल धराशायी हो गए. वहीं कई घंटो तक आवागमन भी बाधित रहा. प्रशासन व स्थानीय लोगों द्वारा सड़कों से पेड़ व मालवा हटाने का कार्य किया जा रहा है.

बता दें कि पूरनपुर इलाके के धनाराघाट रोड पर स्थित कारगिल पेट्रोल पंप के पास एक निर्माणाधीन बरातघर की टीन शेड व दीवार गिरने से लगभग 1 की मौत हो गई है. वहीं 6 लोग गंभीर रूप से घायल हुए हैं. सभी घायलों को पूरनपुर के सीएचसी में भर्ती कराया गया है. मरने वालों में संबंधित कोतवाली पूरनपुर इलाके में कालीचरण पुत्र जवाहरलाल 50 वर्ष निवासी मोहल्ला साहूकारा व सुनंदा पुत्री जोगेन्द्रपाल 14 वर्ष निवासी खमरिया पट्टी शामिल हैं. सूचना के बाद तहसीलदार विवेक राय घटनास्थल पहुंचे और घायलों को निकलवाकर अस्पताल में भर्ती कराया. साथ ही मृतकों को पीएम के लिए भेजने की तैयारी की जा रही है.

पीलीभीत में उस वक्त हड़कम्प मच गया जब एक नेपाली महिला की आकाशीय बिजली गिरने से मौत हो गई. पूरी घटना थाना हाजरा इलाके के इंडो-नेपाल सीमा पर स्थित बाजार घाट की है. नेपाली महिला सुकुनी रोज की तरह आज भी अपनी बहू के साथ सीमा पार कर भारत में सब्जी बेचने के लिए आई थी. अचानक मौसम खराब होने की वजह से आकशीय बिजली की चपेट में आकर सुकुनी की मौत हो गई. हाजरा पुलिस को घटनास्थल पर सुकुनी के शव के पास हरी सब्जी, तराजू व बाट बरामद हुआ है. वहीं इस दुर्घटना में सुकुनी की बहू सुरक्षित है. मृतक महिला ग्राम-पोल्हा, थाना-बिलौरी, जिला-कंचनपुर, नेपाल की रहने वाली थी. इस घटना के बाद जनपद में हड़कंप मचा हुआ है.

इस पूरे मामले में तहसीलदार विवेक राय ने बताया कि मौसम के खराबी होने से एक वृद्ध कालीचरण, सुनंदा 14 वर्ष व नेपाली महिला सुकुनी की आकाशीय बिजली की चपेट में आने से मौत हो गई. शवों को पंचनामा कर पीएम के लिए भेजा जा रहा है.
पूरी ख़बर पढ़ें
अगली ख़बर