बिजनौर, मुरादाबाद, रामपुर, बरेली सहित 7 जिलों में आंधी-बारिश का अनुमान
Pilibhit News in Hindi

बिजनौर, मुरादाबाद, रामपुर, बरेली सहित 7 जिलों में आंधी-बारिश का अनुमान
बिहार के पूर्वी हिस्से के कई जिलों में आंधी बारिश का अनुमान है. (सांकेतिक तस्वीर)

मौसम विभाग (Met Department) के अनुसार बिजनौर, मुरादाबाद, पीलीभीत, अमरोहा, रामपुर, बरेली और शाहजहांपुर में अगले 2 से 3 घंटों में आंधी-बारिश की संभावना है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: June 13, 2020, 10:04 AM IST
  • Share this:
लखनऊ. मौसम विभाग (Met Department) ने यूपी में मौसम को लेकर ताजा अनुमान जारी किया है. इसके तहत बिजनौर, मुरादाबाद, पीलीभीत, अमरोहा, रामपुर, बरेली और शाहजहांपुर में अगले 2 से 3 घंटों में आंधी-बारिश की संभावना जाहिर की गई है. इस दौरान जिलों में धूल भरी आंधी भी चल सकती है. जिसकी रफ्तार 40 किलोमीटर प्रति घंटे तक की हो सकती है.

18 जून तक चलेगा सिलसिला

बता दें मौसम विभाग ने पहले ही अनुमान जारी किया है कि उत्तर प्रदेश में आज (शनिवार) से पूर्वांचल कई इलाकों में मौसम में बदलाव शुरू हो रहा है. ये सिलसिला 18 जून तक चलेगा. इस दौरान पूर्वी उत्तर प्रदेश के ज्यादातर इलाकों में बारिश की संभावना है. दूसरी तरफ मौसम विभाग के अनुमान के मुताबिक पश्चिमी यूपी में भी कई स्थानों पर हल्की बारिश की संभावना है. हालांकि पूर्वी उत्तर प्रदेश की तुलना में पश्चिमी यूपी में कम बारिश की संभावना है.



इसके साथ ही पूरे यूपी में कई जगहों पर 30 से 40 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से धूल भरी आंधी भी चल सकती है. 17 जून को पश्चिमी यूपी में आंधी और बारिश का सिलसिला 14, 15, 16 जून के मुकाबले कम हो जाएगा लेकिन 18 जून को फिर से से से इसमें थोड़ी बढ़ोतरी देखने को मिल सकेगी.
प्रदेश में तापमान 36 डिग्री से 42 डिग्री के बीच दर्ज

दूसरी तरफ प्रदेश के ज्यादातर जिलों में तापमान का बढ़ना भी थम गया है. प्रदेश में तापमान 36 डिग्री से 42 डिग्री के बीच दर्ज किया गया है. सूबे का सबसे गर्म शहर शुक्रवार को आगरा रहा, जहां तापमान 42 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया. झांसी, हमीरपुर, बरेली, आगरा और अलीगढ़ 5 ऐसे शहर रहे, जहां तापमान 40 डिग्री सेल्सियस के ऊपर दर्ज किया गया है. गोरखपुर में सबसे कम तापमान 36.4 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया है. मौसम विभाग का अनुमान है कि तापमान में और बढ़ोतरी नहीं दर्ज की जाएगी. यह जरूर है कि उमस बनी रहेगी.

दक्षिण पश्चिम मानसून की चाल भी अभी तक सामान्य

अरब सागर से उठने वाले दक्षिण पश्चिम मानसून की चाल भी अभी तक सामान्य रही है. 20 जून के आसपास इसके पूर्वी उत्तर प्रदेश से प्रदेश में दाखिल होने की संभावना है. हालांकि बंगाल की खाड़ी में उठ रहे चक्रवातीय सिस्टम से इस बात की संभावना है कि 20 जून से पहले पूर्वी यूपी में कुछ ज्यादा बरसात देखने को मिल सके. हालांकि इसका सटीक अनुमान अभी 48 घंटे बाद लगाया जा सकेगा.

ये भी पढ़ें

आज से 18 जून तक पूर्वांचल में आंधी-बारिश की संभावना

69000 शिक्षक भर्ती चयनित शिक्षामित्र को भारांक न देने पर HC ने मांगा जवाब

 
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading