पीलीभीत: नहर किनारे मिला बाघ का शव, दो महीने में 3 बाघों की मौत से हड़कंप

दरअसल पूरा मामला सामाजिक वानिकी के पूरनपुर रेंज में स्थित डगा साईफन का है. इसकी जानकारी तब हुई जब भीषण गर्मी के चलते कुछ बच्चे नदी में नहा रहे थे. इस बीच बाघ का शव नजर आया.

News18India
Updated: May 20, 2018, 5:30 PM IST
पीलीभीत: नहर किनारे मिला बाघ का शव, दो महीने में 3 बाघों की मौत से हड़कंप
नहर किनारे मिला बाघ का शव. Photo: News 18
News18India
Updated: May 20, 2018, 5:30 PM IST
पीलीभीत में उस वक्त हड़कम्प मच गया, जब पूरनपुर रेंज में एक बाघ का शव नहर किनारे पड़ा मिला. शव पुराना होने की वजह से सड़ गल चुका है. बाघ की मौत संदिग्ध बताई जा रही है. वहीं शव को पोस्टमॉर्टम के लिए बरेली के आईवीआरआई भेज दिया है. अब तक पीलीभीत में तीन बाघों के शव बरामद हो चुके हैं.  बता दें कि 11 अप्रैल और 19 अप्रैल को बाघ का शव बरामद किया गया. वहीं आज हरदोई ब्रांच के डगा साईफन को मिलाकर 3 बाघों का शव बरामद किया जा चुका है.

दरअसल पूरा मामला सामाजिक वानिकी के पूरनपुर रेंज में स्थित डगा साईफन का है. यहां बाघ का शव बरामद किया गया है. इसकी जानकारी तब हुई जब भीषण गर्मी के चलते कुछ बच्चे नदी में नहा रहे थे. इस बीच बाघ का शव नजर आया. बच्चों की सूचना पर वन विभाग की टीम मौके पर पहुंची और अधिकारियों के निर्देश पर बाघ के शव को कब्जे में लेकर पंचनामा कर पोस्टमार्टम के लिए जिला बरेली के आईवीआरआई भेज दिया गया है.

इस मामले में अधिकारियों ने बताया कि बाघ का शव करीब 7 दिन पुराना है. वहीं बाघ की उम्र लगभग 1 वर्ष का आंकी जा रही है. हालांकि बाघ का अंग (दांत, नाखून, हड्डी व अन्य) सुरक्षित होने की वजह से शिकार होने से अधिकारी इन्कार कर रहे हैं. मगर लगातार बाघों की मौतों से जनपद में हड़कंप मचा हुआ है. अब देखना ये है कि पोस्टमार्टम के वाद बाघ की मौत का क्या कारण स्पस्ट होता है.
पूरी ख़बर पढ़ें
अगली ख़बर