नेपाल के जंगलों में बिछड़े 'करण-अर्जुन' पहुंचे पीलीभीत टाइगर रिजर्व

झांसी के मुख्य वन संरक्षक व हाथी बचाव अभियान के प्रभारी पीपी.सिंह ने कहा, 'दोनों हाथी साथ रह रहे हैं. हमने उन्हें कभी अलग नहीं देखा. यहां तक कि जब हमने बुधवार को एक हाथी को ट्रैंकुलाइज्ड किया तो दूसरे हाथी ने जान बचाने के लिए भागने की कोशिश की.'

News18 Uttar Pradesh
Updated: July 20, 2019, 4:13 PM IST
नेपाल के जंगलों में बिछड़े 'करण-अर्जुन' पहुंचे पीलीभीत टाइगर रिजर्व
जंगलों में बिछड़े 'करण-अर्जुन' पहुंचे पीलीभीत टाइगर रिजर्व.
News18 Uttar Pradesh
Updated: July 20, 2019, 4:13 PM IST
पीलीभीत टाइगर रिजर्व में दो हाथी भाइयों की तरह हमेशा साथ रहते हैं. टाइगर रिजर्व के अधिकारियों के मुताबिक दोनों वयस्क हाथी करीबी लगाव प्रदर्शित करते हैं और एक दूसरे से 10 मीटर से ज्यादा दूरी पर नहीं रहते. जंगल के अधिकारियों ने इन दोनों हाथियों का नाम 'करण' और 'अर्जुन' रख दिया है. दोनों हाथियों को बुधवार को ट्रैंकुलाइज्ड किया गया और पीलीभीत टाइगर रिजर्व में छोड़ा गया.

झांसी के मुख्य वन संरक्षक व हाथी बचाव अभियान के प्रभारी पीपी.सिंह ने कहा, 'दोनों हाथी साथ रह रहे हैं. हमने उन्हें कभी अलग नहीं देखा. यहां तक कि जब हमने बुधवार को एक हाथी को ट्रैंकुलाइज्ड किया तो दूसरे हाथी ने जान बचाने के लिए भागने की कोशिश की.' उन्होंने कहा, 'यहां यह बहुत अलग था. दूसरा हाथी उसी इलाके में बना रहा और भागा नहीं.

निगरानी करते वन विभाग की टीम


वास्तव में हाथी घटना स्थल के 50 मीटर के दायरे में बना रहा.' माना जा रहा है कि यह दोनों शायद नेपाल में अपने झुंड से अलग होकर पीलीभीत पहुंच गए. इन्हें पहली बार 24 जून को पीलीभीत के अमारिया ब्लॉक में देखा गया था. इन उत्पाती हाथियों ने यहां भी वन विभाग ही नहीं बल्कि ग्रामीणों का जीना दुश्वार कर रखा है. दोनों हाथी टाइगर रिजर्व के कलीनगर तहसील क्षेत्र के रमनगरा गांव में घुस गए और किसानों की फसलों को नुकसान पहुंचाया.

ये भी पढ़ें:

BJP ने प्रियंका गांधी पर कसा तंज, कहा- लाशों पर राजनीति करना कांग्रेस की पुरानी आदत

आनंदीबेन पटेल बनी उत्तर प्रदेश की नई राज्यपाल, राम नाईक की लेंगी जगह
Loading...

सोनभद्र हत्याकांड: राजीव शुक्ला समेत कई कांग्रेसी नेताओं को वाराणसी एयरपोर्ट पर रोका

 
First published: July 20, 2019, 4:13 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...