दहेज उत्पीड़न से पीड़ित महिला ने दो बच्चों के साथ नहर में कूदकर दी जान, जांज में जुटी पुलिस
Pilibhit News in Hindi

दहेज उत्पीड़न से पीड़ित महिला ने दो बच्चों के साथ नहर में कूदकर दी जान, जांज में जुटी पुलिस
महिला ने नहर में कूदकर जान दी. (सांकेतिक फोटो)

उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) के पीलीभीत में एक दिल दहला देने वाली खबर सामने आई है, जहां एक महिला ने अपने दो मासूम बच्चों के साथ नहर में कूदकर कर अपनी जान दे दी.

  • Share this:
पीलीभीत. उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) के पीलीभीत में एक दिल दहला देने वाली खबर सामने आई है,  जहां एक महिला ने अपने दो मासूम बच्चों के साथ नहर में कूदकर कर अपनी जान दे दी. बताया जा रहा है घरेलू कलह के चलते यह हादसा हुआ है. माधव टांडा थाना क्षेत्र के शाहगढ़ पुलिस चौकी के अंतर्गत गांव बिजुआ निवासी 28वर्षीय सरणजीत कौर ने पारिवारिक कलह के चलते सोमवार देर शाम निगोही ब्रांच नहर में अपने दो बच्चों के साथ छलांग लगा दी. जानकारी होने पर आसपास मौजूद ग्रामीण मौके पर पहुंचे और बचाने का प्रयास किया. काफी कोशिशों के बाद महिला और एक बच्चे का शव से बाहर निकाला गया. सूचना के बाद इस्पेक्टर शहरोज अनवर की फ़ोर्स के साथ मौके पर पहुंचकर छानबीन में जुट गए.

शाहगढ़ क्षेत्र के एक गांव निवासी दलजीत सिंह का विवाह 8 साल की माधोटांडा क्षेत्र के गांव बराही निवासी सरनजीत कौर के साथ हुआ था. सूत्रों के अनुसार परिवारिक कलह के चलते महिला ने सोमवार शाम अपने दो बच्चों के साथ नहर में कूदकर जान दे दी. ग्रामीणों की मदद से महिला समेत एक बच्चे का शव नहर से बाहर निकाला गया, जबकि एक बच्चे का सब अभी नहीं मिल सका है. पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया जबकि एक अन्य बच्चे की शव की तलाश में खोजबीन जारी है.

गुरुद्वारे के लिए निकली थी
बताया जा रहा है कि महिला शरणजीत कौर अपने दोनों बच्चे 5 वर्षीय जीवनजोत वह 3 वर्षीय अमृत सिंह को लेकर अपने ससुराल वालों से कहकर निकली थी कि वह गुरुद्वारे दर्शन करने जा रही है. मृतका के घर वालों का कहना है कि सरणजीत कौर की शादी 8 वर्ष पूर्व हुई थी. दहेज को लेकर उसके साथ पिछले आठ सालों से मारपीट हुआ करती थे. वह इस मारपीट को सहन ना कर मैके चली आया करती थी.
ये भी पढ़ें: गैंगस्टर विकास दुबे की भांजी बोली- मेरे मामा को ऐसी मौत मिले जो मिसाल बने!



कई बार हो चुका था समझौता
परिजनों का आरोप है कि सरणजीत कौर के मायके वालों और ससुराल वालों में दहेज को लेकर कई बार समझौता हुआ पंचायत समझौता करा दिया करती थी कुछ दिन पहले भी समझौता कराया गया था. एक माह पूर्व मृतक महिला अपनी ससुराल आई थी और 10 दिन बाद ही अपने मायके लौट गई थी. 7 दिन पूर्व एक बार फिर वह अपने ससुराल आई और आज यह घटना घट गई. माधोटांडा थाना इंचार्ज शहरोंजा अनवर का कहना है कि किसी भी पक्ष से कोई तहरीर नहीं मिली है. पुलिस का लक्ष्य नहर से तीसरी बॉडी को ढूंढ निकालना है जिसके लिए तैराकों की मदद ली जा रही है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading