प्रतापगढ़: रात के अंधेरे में महिला भिखारी को लूटना चाहते थे बदमाश, मौके पर पहुंची पुलिस ने ऐसे बचाया

प्रतापगढ़ पुलिस ने एक भिखारी महिला को लुटने से बचाया है.
प्रतापगढ़ पुलिस ने एक भिखारी महिला को लुटने से बचाया है.

प्रतापगढ़ पुलिस (Pratapgarh Police) ने एक महिला भिखारी को लुटने (Loot) से बचाया है. महिला भिखारी (Beggar) के पास 32 हजार रुपये थे, जिसके कारण बदमाश महिला के पीछे पड़ गये थे. इसके बाद रात में पुलिस(Police) महिला भिखारी को थाने ले गई और खाना भी खिलाया.

  • News18Hindi
  • Last Updated: November 8, 2020, 6:00 PM IST
  • Share this:
प्रतापगढ़. प्रतापगढ़ (Pratapgarh) पुलिस ने ऐसा काम किया है, जिसके कारण आज उसकी सूबे में उसकी तारीफ हो रही है. प्रतापगढ़ पुलिस ने रात के अंधेर में एक महिला भिखारी को बचाया है, जिससे इलाके के बदमाश पैसे लूटने (Loot) की कोशिश कर रहे थे. पुलिस (Police) महिला को रात में थाने ले गई और खाना खिलाया इसके बाद सुबह उसे छोड़ दिया.

प्रतापगढ़ के अंतु थाना इलाके में महिला भिखारी गोमती भीख में मिले पैसों को आधी रात में गिन रही थी, तभी पास से गुजर रहे बदमाशों की नजर भिखारी महिला के पैसों पर पड़ गई, जिसके बाद भिखारी महिला से बदमाश रुपये छीनने का प्रयास करने लगे. इस पर भिखारी महिला ने शोर मचा दिया, तभी वहां से गुजर रहा ही  हल्ला-गुहार मचाने पर बदमाश भाग निकले. लेकिन बदमाशों को पता चल गया था कि भिखारी महिला के पास काफी सारे पैसे हैं. इसके बाद भिखारी फिस से महिला रके पीछे लग गये.

UP: नशे की दवा देकर नाबालिग बेटी के साथ दुष्कर्म करता था पिता, 3 साल से बना रहा था हवस का शिकार



वही भिखारी महिला को फिर से लूट होने का शक हुआ तो ग्रामीणों से बचाने का गुहार लगाने लगी. तभी ग्रामीणों ने इस बात की सूचना अंतु थाने पुलिस को दे दी. वहीं मौके पर पहुंची पुलिस ने भिखारी महिला गोमती को बचाने का नायाब तरीका खोजा. पुलिस भिखारी महिला को थाने लेकर चली गई. महिला के रुपये को पुलिस ने गिना तो 32000 हजार रुपये निकले. इसके बाद पुलिस ने महिला रात में खाना खिलाया और अगले दिन अमेठी जिले की रहने वाले महिला के पति संतोष को बुलाकर भिखारी महिला के सामने उसके बत्तीस हजार रुपये पति को सौप दिए गए. अंतु थाना के राजेश राय ने रुपये वापस करने के बाद महिला को पूरे सम्मान के साथ थाने से भेजा.
दरोगा राजेश राय ने भिखारी महिला को कराया भोजन
वहीं पुलिस के द्वारा भिखारी महिला को थाने लेकर आने पर सबसे पहले थाने का बना भोजन खिलाया गया. भिखारी महिला को पुलिस ने पूरी मदद का आश्वासन भी दिया. महिला के खाना खाते समय ही दरोगा राजेश राय ने महिला के रुपये को गिन रहे थे. महिला गोमती अमेठी और प्रतापगढ़ में घूम-घूम कर गांव में भीख मांगने का काम करती है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज