प्रतापगढ़ पंचायत चुनाव: हिंसा करने वाले 160 व्यक्ति गिरफ्तार, लूटी गई मतपेटिका कुएं से बरामद

प्रतापगढ़ में पुलिस ने कुएं से मतपेटी बरामद की है.

प्रतापगढ़ में पुलिस ने कुएं से मतपेटी बरामद की है.

Pratapgarh News: प्रतापगढ़ पंचायत चुनाव में 19 अप्रैल को शाम 6 बजे मतदान खत्म होने के बाद पोलिंग पार्टी मतपेटी लेकर ब्लॉकों के लिए रवाना हो रही थी. इतने में प्रधान प्रत्याशी के दबंग समर्थक सुझाव उल्ला, इसरार ने अपने गुर्गों संग पुलिस पार्टी पर हमला बोल दिया था और मतपेटी लूट ले गए थे.

  • Share this:
प्रतापगढ़. उत्तर रपदेश के प्रतापगढ़ में पंचायत चुनाव (Panchayat Chunav) में बवालियों द्वारा लूटी गई मतपेटिका (Ballot Box) गांव के कुएं (Well) से तीन दिन बाद बरामद हो गई हैं, मतपेटिका के लिए तीन दिनों से हैरान पुलिस ने राहत की सांस ली है. कधई थाना के चकमझानी पोलिंग बूथ का ये मामला है. यहां जहां 19 अप्रैल की शाम 6 बजे मतदान खत्म होने के फौरन बाद ही प्रधान प्रत्याशियों ने जमकर बवाल और हिंसा शुरू कर कर दी थी. मारपीट के बाद पोलिंग पार्टी से मतपेटिका लूटकर दबंग फरार हो गए थे. इसके बाद इन्होंने मतपेटी को कुएं में फेंक दिया था. तीन दिन की कड़ी मेहनत के बाद आज पुलिस ने मतपेटिका को कुएं से बरामद कर लिया है.

पहले तीन दिनों तक कुएं का पानी पम्पिंग सेट से निकवाया गया. आज जब कुएं में पानी कम हुआ तो इलाके का गोताखोर ने कुएं में उतरे और गहरे पानी मे खोजकर मतपेटिका को बाहर निकाला. मतपेटिका मिलने के बाद पुलिस ने राहत की सांस ली. दरअसल 19 अप्रैल की शाम 6 बजे मतदान खत्म होने के बाद पोलिंग पार्टी मतपेटी लेकर ब्लॉकों के लिए रवाना हो रही थी. इतने में प्रधान प्रत्याशी के दबंग समर्थक सुझाव उल्ला, इसरार ने अपने गुर्गों संग पुलिस पार्टी पर हमला बोल दिया.

6 नामजद और 20 अज्ञात पर FIR

इसके बाद ये मतपेटिका लेकर फरार हो गए और उसको कुएं में डाल दिया. पुलिस ने सुझाव उल्ला, इसरार समेत छः व्यक्तियों पर नामजद जबकि 20 अज्ञात पर केस दर्ज कर मामले की जांच में जुट गई. वहीं चकमझानी बूथ समेत प्रतापगढ़ के 21 बूथों पर हिंसा के चलते राज्य निर्वाचन आयोग ने फिर से रिपोल करने के आदेश दिए है,
पंचायत चुनाव में बवाल करने वाले 160 व्यक्ति गिरफ्तार

प्रतापगढ़ में 19 अप्रैल को कई बूथों पर जमकर हिंसा और बवाल हुए थे. 21 पोलिंग बूथ पर मतपेटी को या तो लूट लिए गए थे या फिर मतपेटिका में पानी डाल दिया गया था. पुलिस चार दिनों में चुनाव में हिंसा करने वाले 160 व्यक्ति को गिरफ्तार कर चुकी है. यह गिरफ्तारी जिले के विभिन्य थानों से की गई है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज