प्रतापगढ़: लॉक डाउन के बीच विधायक की 2 बेटियों ने शुरू की मुहिम, घर पर तैयार कर रही हजारों मास्क
Pratapgarh-Uttar-Pradesh-2 News in Hindi

प्रतापगढ़: लॉक डाउन के बीच विधायक की 2 बेटियों ने शुरू की मुहिम, घर पर तैयार कर रही हजारों मास्क
प्रतापगढ़ में सदर विधायक राजकुमार पाल की बेटी प्रियंका (बाएं) और सुप्रिया पाल.

प्रतापगढ़ (Pratapgarh) में सदर ब्लाक के पूरे ईश्वरनाथ गांव की महिला प्रधान प्रियंका पाल अपनी बहन सुप्रिया पाल, परिवार के महिला के साथ थ्री-लेयर मास्क बना रही हैं. अभी तक ग्राम प्रधान अपने हाथ से हजारों मास्क बनाकर ग्रामीणों को वितरित कर चुकी हैं.

  • Share this:
प्रतापगढ़. उत्तर प्रदेश के प्रतापगढ़ (Pratapgarh) में एक महिला ग्राम प्रधान की मुहिम चर्चा का विषय बनी है. यह महिला और कोई नहीं विधायक सदर राजकुमार पाल (MLA Sadar Rajkumar Pal) की बेटी है. खुद मास्क की जरूरतों को पूरा करने के लिए बहन और परिवार के महिलाओं के साथ ये मास्क बनाकर अपने पूरे गांव में वितरित कर रही है. ग्राम प्रधान खुद सिलाई मशीन से मास्क बना कर अपने क्षेत्र के लोगों में मास्क बांट रही हैं.

हम बात कर रहे हैं सदर ब्लाक के पूरे ईश्वरनाथ गांव की महिला प्रधान प्रियंका पाल की, जो आज कल अपने घर में 200-300 की संख्या में मास्क बनती हैं. इसके बाद उस मास्क को अपने ग्राम सभा में सभी जरूरतमंदों को वितरित करती है. प्रियंका पाल अपनी बहन सुप्रिया पाल, परिवार के महिला के साथ थ्री-लेयर मास्क बना रही हैं. अभी तक ग्राम प्रधान अपने हाथ से हजारों मास्क बनाकर ग्रामीणों को वितरित कर चुकी हैं. यही नहीं प्रियंका कोरोना महामारी से जंग में सहयोग करने के साथ गांव की मुखिया होने की जिम्मेदारी भी बखूबी निर्वहन कर रही हैं.

बीजेपी-अपनादल गठबंधन से उपचुनाव जीते हैं राजकुमार पाल



ग्राम प्रधान प्रियंका के पिता राजकुमार पाल सदर विधानसभा से भाजपा-अपना दल गठबंधन से विधायक हैं. राजकुमार पाल ने उपचुनाव में जीत का परचम लहराया था. ग्राम प्रधान प्रियंका ज़्यादा मास्क बनाने पर अपने विधायक पिता और कार्यकर्ताओ में भी मास्क विधानसभा में बाटने के लिए देती हैं. लेकिन उनकी पहली प्राथमिकता ग्रामसभा ही है.
pratapgarh
ग्राम प्रधान प्रियंका पाल अब तक हजारों मास्क तैयार कर लोगों में बांट चुकी हैं.


कोरोना खत्म होने तक जारी रहेगी मुहिम: प्रियंका
विधायक पिता राजकुमार पाल भी अपने दोनों बेटियो की मुहीम से बहुत प्रभावित हो रहे हैं. ग्राम प्रधान प्रियंका पाल ने न्यूज़ 18 से बातचीत में बताया की पिता के ऊपर पूरे विधानसभा के लाखों लोगों की मदद और सहायता पहुंचाने की जिम्मेदारी है. खाली समय में वह अपनी छोटी बहन सुप्रिया पाल और परिवार के साथ मास्क बनाने का काम करती हैं. लॉकडाउन में परिवार की महिलाओं और पढ़ाई कर रही छोटी बहन का समय भी आसानी से बीत जाता है. वह घर-घर जाकर मास्क वितरित करती हैं. कोरोना खत्म होने तक ये मुहिम जारी रहेगी.

आपको बताते चलें कि अपने मां राजकुमारी पाल का देहान्त होने के बाद 24 साल की उम्र में 2018 में प्रियंका पाल पूरे ईश्वरनाथ की प्रधान निर्वाचित हुईं. इसके बाद से ही वह ग्रामीणों द्वारा दी गई जिम्मेदारी का निर्वहन कर रही हैं.

ये भी पढ़ें:

गोरखपुर के होम डिलीवरी मॉडल की खूब हो रही चर्चा, PMO ने मांगा प्रेजेंटेशन

Lucknow COVID-19 Update: एक दिन में मिले 31 नए मरीज, कुल संख्या हुई 75
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading