अपना शहर चुनें

States

18 घंटे से व्यवसाई के शव के साथ धरने पर थे परिजन, विधायक राजा भैया के समझाने पर किया अंतिम संस्कार

परिजनों को समझाते स्थानीय विधायक राजा भैया
परिजनों को समझाते स्थानीय विधायक राजा भैया

तीन दिन पहले दुकान खोलने जा रहे व्यवसाई रामकृष्ण केसरवानी लापता (Missing) हो गये थे. अगले दिन उनका शव कानुपर के साड थाना इलाके के बरीगांव से मिला था.

  • Share this:
प्रतापगढ़. जिले के कुंडा में किराना व्यवसाई की हत्या (Murder) मामले में 18 घंटे बाद परिजन अन्तिम सस्कार (Last Rite) करने को राजी हुए. पूर्व मंत्री व विधायक रघुराज प्रताप उर्फ राजा भैया (Raja Bhaiya) के समझाने पर परिजनों ने मृतक का अन्तिम संस्कार किया. विधायक ने पीड़ित परिवार को एक लाख रुपये की आर्थिक मदद दी. दरअसल शुक्रवार शाम से परिजन शव को रखकर धरने पर बैठे थे.

तीन दिन पहले दुकान खोलने जा रहे व्यवसाई रामकृष्ण केसरवानी लापता हो गये थे. अगले दिन उनका शव कानुपर के साड थाना इलाके के बरीगांव से मिला था. व्यवसाई की गला रेतकर हत्या कर दी गई. हत्या के बाद शव को जलाने का प्रयास किया गया. सूचना पर कानपुर पहुंचे परिजनों ने शव की शिनाख्त रामकृष्ण केसरवानी के रूप में की थी. शुक्रवार देर शाम पोस्टमार्टम के बाद व्यवसायी का शव घर पहुंचा, तो परिजनों ने अंतिम संस्कार करने से इंकार कर धरना शुरू कर दिया. जिसके बाद 6 थानों की पुलिस को गांव में तैनात किया गया था. 18 घंटे बाद कुंडा विधायक राजा भैया के पहुंचने पर परिजन अंतिम संस्कार को राजी हुए.

व्यवसाई की हत्या से सहमे व्यापारी 
परिजनों के मुताबिक व्यवसायी की अगवा कर हत्या कर दी गई. हालांकि परिजनों ने मृतक का किसी से कोई रंजिश से साफ इनकार किया है. इस घटना से कुंडा इलाके के व्यापारी सहमे हुए हैं. हत्या की इस वारदात से पुलिस भी हैरान है. हालांकि पुलिस का दावा है कि जब ही इस मामले से पर्दा उठा दिया जाएगा और वारदात में शामिल बदमाश जेल के अंदर होंगे.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज