डीएम के गोद लिए गांव में भी बच्चों को नहीं मिला स्वेटर
Pratapgarh-Uttar-Pradesh-2 News in Hindi

मंत्री अनुपमा जायसवाल ने शपथ लिया था कि जब तक सभी बच्चों को स्वेटर नहीं मिल जाता तब तक हम भी स्वेटर नहीं पहनेंगे. शुक्रवार को ही मंत्री जी ने यह कहते हुए स्वेटर पहन लिया कि अब सारे बच्चो को स्वेटर मिल चुका है.

  • Share this:
प्रशासन के दोवों के बावजूद प्रतापगढ़ जिले के कई प्राइमरी स्कूलों में अब तक स्वेटर वितरण नहीं हो सका है. ईटीवी के रियलटी चेक में डीएम शम्भू कुमार के गोद लिए गांव बढ़नपुर में भी बच्चे बिना स्वेटर के इस कंपकंपाती ठंड में स्कूल जा रहे हैं.

प्राथमिक विद्यालय  ksकी हेड मास्टर सुधा त्रिपाठी का कहना है प्रति स्वेटर 100 रुपये के हिसाब से मुझे पैसा मिला है. 70 बच्चों का लेकिन सिर्फ 100 रुपये स्वेटर खरीदना संभव नहीं है इसलिए दुकानदार से किसी तरह से जुगाड़ कर हम बच्चों को जल्द ही स्वेटर वितरित करने की कोशिश करेंगे. इस मामले में जो भी देरी हुई है वो सरकार की ही तरफ से हुई है इसमें हम लोगों का क्या दोष है.

वैसे आपको बता दें कि मंत्री अनुपमा जायसवाल ने शपथ लिया था कि जब तक सभी बच्चों को स्वेटर नहीं मिल जाता तब तक हम भी स्वेटर नहीं पहनेंगे. शुक्रवार को ही मंत्री जी ने यह कहते हुए स्वेटर पहन लिया कि अब सारे बच्चो को स्वेटर मिल चुका है. ईटीवी की पड़ताल में सरकार और स्कूलों के इन दावों की पोल खुल गई. देखना है कि अभी और कितने दिन लगेंगे बच्चों को स्वेटर मिलने में.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज