बाहुबली MLA राजा भैया ने पूछा- योगी सरकार के विधायक क्यों नहीं किए गए नजरबंद?
Pratapgarh-Uttar-Pradesh-2 News in Hindi

बाहुबली MLA राजा भैया ने पूछा- योगी सरकार के विधायक क्यों नहीं किए गए नजरबंद?
बाहुबली MLA राजा भैया

दरअसल, कौशांबी लोकसभा सीट के अंतर्गत प्रतापगढ़ जिले की दो विधानसभा सीटें बाबागंज और कुंडा आती हैं. कुंडा से राजा भैया विधायक हैं और यहां उनका खासा प्रभाव माना जाता है.

  • Share this:
प्रतापगढ़ के कंडा से निर्दलीय विधायक और जनसत्ता दल लोकतांत्रिक के राष्ट्रीय अध्यक्ष रघुराज प्रताप उर्फ राजा भैया के खिलाफ प्रतापगढ़ जिला प्रशासन ने लोकसभा चुनाव की वोटिंग के दौरान नजरबंद करने की कार्रवाई की थी. इस पर मंगलवार को राजा भैया ने न्यूज18 से खास बातचीत में कहा कि सत्ता पक्ष से जुड़े हुए तीनों विधायकों पर जिला प्रशासन ने कोई कार्रवाई नहीं की, जबकि हमने चुनाव आयोग के निर्देशों का पालन लिया. सवाल ये खड़ा होता है कि मेरे ऊपर ऐसी कार्रवाई क्यों की गई? राजा भैया ने कहा कि प्रशासन को सत्ता पक्ष के विधायकों पर भी नजरबंद की कार्रवाई करनी चाहिए थी.

बता दें कि 6 मई को राजा भैया के अलावा आठ प्रभावशाली लोगों को नजरबंद करने का फैसला किया गया था. राजा भैया के साथ-साथ बाबागंज विधायक विनोद सरोज, सपा नेता गुलशन यादव, सपा जिलाध्यक्ष छविनाथ यादव पर भी यह एक्शन लिया गया था.

दरअसल, कौशांबी लोकसभा सीट के अंतर्गत प्रतापगढ़ जिले की दो विधानसभा सीटें बाबागंज और कुंडा आती हैं. कुंडा से राजा भैया विधायक हैं और यहां उनका खासा प्रभाव माना जाता है. यही वजह है कि इस बार राजा भैया ने शैलेंद्र कुमार के रूप में अपना प्रत्याशी यहां से उतारा है.


जबकि बीजेपी ने मौजूदा सांसद विनोद कुमार सोनकर को फिर से मौका दिया है. दूसरी तरफ सपा-बसपा गठबंधन में यह सीट सपा के खाते में गई है और पार्टी ने इंद्रजीत सरोज को प्रत्याशी बनाया है. हालांकि, इंद्रजीत सरोज पहले बसपा में ही थे. कांग्रेस ने गिरीश चंद्र पासी को टिकट दिया है.


ये भी पढ़ें:


लोकसभा चुनाव 2019: हथियारों के शौकीन है UP के ये 'माननीय'




यूपी के इन रेलवे स्टेशनों पर बदल गई है 'Tatkal' टिकटों की व्यवस्था


मदहोश माहौल, महंगे नशे के बीच जानिए 'रेव पार्टी' की इनसाइड स्टोरी!


एक क्लिक और खबरें खुद चलकर आएगी आपके पाससब्सक्राइब करें न्यूज़18 हिंदी WhatsAppअपडेट्स
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज