प्रतापगढ़: युवक को पेड़ से बांधकर जिंदा जलाया, आक्रोशित ग्रामीणों ने दो पुलिस जीप फूंके
Pratapgarh-Uttar-Pradesh-2 News in Hindi

प्रतापगढ़: युवक को पेड़ से बांधकर जिंदा जलाया, आक्रोशित ग्रामीणों ने दो पुलिस जीप फूंके
गांव में तनाव को देखते हुए दो कंपनी पीएसी की तैनाती की गई है.

मृतक अंबिका पटेल महिला सिपाही से छेड़खानी (Molestation) के मामले जेल में बंद था. कुछ दिन पहले ही परोल पर जेल से छूट कर आया था.

  • Share this:
  • fb
  • twitter
  • linkedin
प्रतापगढ़. उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) के प्रतापगढ़ (Pratapgarh) जिले में बेख़ौफ़ दबंगों ने एक युवक को पेड़ से बांधकर जिंदा जला दिया. युवक की मौके पर ही मौत हो गई. हत्या की सूचना से आक्रोशित ग्रामीणों ने घंटों जमकर उत्पात मचाया. घटना के विरोध में पथराव और आगजनी की गई. घटना फतनपुर थाना के भुजौनी गांव की है. युवक की हत्या की सूचना के बाद पुलिस के ढुलमुल रवैये से आक्रोशित ग्रामीणों ने पथराव और आगजनी की. ग्रामीणों ने पुलिस की दो जीप समेत तीन गाड़ियों में आग लगाई. पुलिस की दोनों जीप जलकर राख हो गयी. पथराव में चार पुलिसकर्मी घायल हुए हैं.

पूरी घटना के पीछे की वजह आशनाई बताई जा रही है. मृतक अंबिका पटेल कानपुर में तैनात महिला सिपाही से प्रेम करता था. आरोप है कि महिला सिपाही के घरवालों ने अम्बिका पटेल को ज़िंदा जलाकर मार डाला. बता दें मृतक अंबिका पटेल महिला सिपाही से छेड़खानी के मामले जेल में बंद था. कुछ दिन पहले ही परोल पर जेल से छूट कर आया था. सोमवार दोपहर मृतक घर से निकला था. शाम 8 बजे उसका अधजला शव बाग़ में मिला.

दर्जनों लोग हिरासत में
इस घटना के बाद ग्रामीण आक्रोशित हो गए. गांव में बवाल और आगजनी का तांडव चलता रहा. इस दौरान चार घंटे तक पुलिस गांव बाहर खड़ी रही. चार घंटे बाद किसी तरह एसपी समेत भारी पुलिस बल गांव में दाखिल हो सकी. जिसके बाद दोनों पक्ष से दर्जनों लोगों को पुलिस ने हिरासत में लिया. मौके पर प्रयागराज जोन के आईजी और एडीजी भी पहुंचे. उन्होंने घटनास्थल का जायजा भी लिया. वही गांव में हत्या के बाद तनाव को देखते हुए दो पीएससी की कंपनी को तैनात कर दिया गया है.



चार घंटे तक गांव में नहीं घुस सकी पुलिस


मामले में एसपी अभिषेक सिंह का कहना है की युवक अम्बिका को पेड़ से बांधकर ज़िंदा जलाया गया है. हत्या के बाद आक्रोशित ग्रामीण ने पुलिस की तीन गाड़ियों में आगजनी की और पुलिस पर पथराव किया है. कुछ महीनों पहले कानपुर में तैनात महिला सिपाही की सोशल मीडिया पर मृतक युवक ने फ़ोटो वायरल की थी. परिजनों ने युवक अम्बिका पर छेड़खानी का मुक़दमा दर्ज कराया था. मृतक युवक परोल पर जेल से छूटा था. महिला सिपाही के परिजनों पर हत्या करने का आरोप है. सभी के खिलाफ मुक़दमा दर्ज कर कार्यवाई की जा रही है.

ये भी पढ़ें:

निराश्रितों की मदद को CM ने खोला खजाना, राशन के साथ 1000 रुपये भी देगी सरकार

Unlock1: UP में अब कंटेनमेंट जोन के बाहर सुबह 10 से रात 9 बजे तक बिकेगी शराब
First published: June 2, 2020, 6:27 AM IST
अगली ख़बर

फोटो

corona virus btn
corona virus btn
Loading