प्रतापगढ़: माफिया गुड्डू सिंह साथी के साथ गिरफ्तार, घर में छापे के दौरान मिली 40 लाख की स्मैक

प्रतापगढ़: माफिया के घर छापे में मिली 40 लाख की स्मैक, गुड्डू सिंह नौकर के साथ गिरफ्तार.

प्रतापगढ़: माफिया के घर छापे में मिली 40 लाख की स्मैक, गुड्डू सिंह नौकर के साथ गिरफ्तार.

पुलिस ने नशे के कारोबार में शिमिल गिरोह पर कार्रवाई कर 40 लाख की स्मैक के साथ दो अभियुक्तों को गिरफ्तार किया है. इनके पास से 40 लाख रुपये की कीमत की 365 ग्राम स्मैक भी पुलिस ने बरामद की है.

  • Share this:
प्रतापगढ़. उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) के प्रतापगढ़ (Pratapgarh) में पुलिस ने अवैध नशे के कारोबार पर नकेल कस दी है. पुलिस ने नशे के कारोबार में शिमिल गिरोह पर कार्रवाई कर 40 लाख की स्मैक (Smack) के साथ दो अभियुक्तों को गिरफ्तार किया है. इनके पास से 40 लाख रुपये की कीमत की 365 ग्राम स्मैक भी पुलिस ने बरामद की है. इस मामले में पुलिस ने स्मैक के बड़े माफिया गुड्डू सिंह और उसके नौकर गौरी शंकर को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया. पुलिस की इस कार्रवाई से नशे के माफियाओं में हडक़ंप देखा गया.

जानकारी के मुताबिक स्मैक माफिया गुड्डू सिंह की घर सीओ समेत भारी पुलिस बल ने छापेमारी की. इस दौरान घर में मौजूद स्मैक माफिया गुड्डू सिंह को पुलिस ने दबोच लिया. जिसके बाद घर में छापेमारी और तलाशी की के दौरान पेंट के डिब्बों में  40 लाख की स्मैक बरामद की गई है. बताते हैं कि नगर कोतवाली के चिलबिला का रहने वाला स्मैक माफिया गुड्डू सिंह कई सालों से इस अवैध धंधे में लिप्त था. स्मैक जैसे अवैध कारोबार से उसने करोडों रुपये की सम्पत्ति भी अर्जित कर ली.

Youtube Video


स्मैक कारोबारी गुड्डू पांच सालों में कई बार जेल भी जा चुका है. उस पर नगर कोतवाली में आधा दर्जन मुकदमे भी दर्ज हं. स्मैक का नशा कराने से इलाके के नौजवान बर्बाद हो रहे थे, वहीं सीओ सिटी ने अभय पाण्डेय ने बताया कि स्मैक माफिया के घर पर छापेमारी करते हुए गुड्डू समेत दो को गिरफ्तार किया गया है. उनके पास से 40 लाख की स्मैक बरामद की गई. दो तस्करों को जेल भेज दिया गया है.
कुंडा इलाके में 12 करोड़ की शराब हो चुकी है बरामद

प्रतापगढ़ के एसपी के निर्देश पर अवैध कारोबार करने वालों के विरुद्ध पुलिस ने अभियान चला कर कार्रवाई की है. हथिगवा इलाके में दो अवैध शराब की फैक्ट्री का भंडाफोड़ करते हुए 12 करोड़ की अवैध शराब बरामद की गई थी. वहीं पुलिस लगातार अवैध कारोबारी को गिरफ्तार कर सलाखों के पीछे पहुंचा रही है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज