बाहुबली राजा भैया बोले- ...नहीं तो UP की 80 सीटों पर हमारे प्रत्याशी चुनाव लड़ते
Pratapgarh-Uttar-Pradesh-2 News in Hindi

बाहुबली राजा भैया बोले- ...नहीं तो UP की 80 सीटों पर हमारे प्रत्याशी चुनाव लड़ते
बाहुबली MLA राजा भैया

कुंडा से बहुबली विधायक राजा भैया ने 10 प्रतिशत सवर्ण आरक्षण की मांग को लेकर सरकार को घेरने का काम किया था, लेकिन बीजेपी ने लोकसभा चुनाव से पहले मास्टस्ट्रोक खेलकर सवर्णों को 10 प्रतिशत आरक्षण दे दिया.

  • Share this:
बाहुबली और कुंडा से निर्दलीय विधायक रघुराज प्रताप सिंह उर्फ राजा भैया खुद लोकसभा चुनाव नहीं लड़ रहे हैं लेकिन उन्होंने अपने दो सिपहसालारों को अपने जनसत्ता दल लोकतांत्रिक से मैदान में उतारा है. प्रतापगढ़ से अक्षय प्रताप सिंह हैं और कौशांबी से पूर्व सांसद शैलेंद्र कुमार मैदान में हैं. ये दोनों सीटें राजा भैया के प्रभाव वाले क्षेत्र में आती हैं. ऐसे में इन दोनों सीटों को जिताने की जिम्मेदारी भी उन्हीं के कंधों पर है.

प्रतापगढ़ के कुंडा से राजा भैया विधायक हैं और यहां उनका खासा प्रभाव माना जाता है. यही वजह है कि इस बार राजा भैया ने कौशांबी से शैलेंद्र कुमार के रूप में अपना प्रत्याशी यहां से उतारा है. वहीं प्रतापगढ़ से कुंवर अक्षय प्रताप सिंह पर राजा ने दांव खेला हैं.


न्यूज18 से खास बातचीत में पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष और कुंडा से निर्दलीय विधायक रघुराज प्रताप उर्फ राजा भैया ने कहा कि समय के अभाव के कारण हमें दो ही प्रत्याशियों को चुनाव में उतारने का मौका मिला, क्योंकि जब तक चुनाव आयोग से पार्टी का पंजीकरण हुआ, तब तक बहुत लेट हो चुका था. उन्होंने कहा कि अगर हमको समय पहले मिल जाता तो हमारे प्रत्याशी यूपी की 80 सीटों पर चुनाव लड़ते.
अगर दोनों प्रत्याशी चुनाव जीतते हैं तो पार्टी किसको समर्थन करेगी? के सवाल पर राजा भैया गोलमोल जवाब देते हुए कहा, 'हमारा मकसद जनता के मुद्दे है. लोकसभा में हमारे दोनों प्रत्याशी जनता की आवाज को बुलंद करेंगे.'



कुंडा से बहुबली विधायक ने 10 प्रतिशत सवर्ण आरक्षण की मांग को लेकर सरकार को घेरने का काम किया था, लेकिन बीजेपी ने लोकसभा चुनाव से पहले मास्टरस्ट्रोक खेलकर सवर्णों को 10 प्रतिशत आरक्षण दे दिया. इस सवाल पर राजा भैया ने कोई जवाब नहीं दिया. उन्होंने कहा कि हम इस मुद्दे पर पहले बोल चुके. यानी वो इस बयान पर पल्ला झाड़ते नजर आए.

इससे पहले राजा भैया ने कहा था कि सत्ता पक्ष से जुड़े हुए तीनों विधायकों पर जिला प्रशासन ने कोई कार्रवाई नहीं की, जबकि हमने चुनाव आयोग के निर्देशों का पालन लिया. सवाल ये खड़ा होता है कि मेरे ऊपर ऐसी कार्रवाई क्यों की गई? राजा भैया ने कहा कि प्रशासन को सत्ता पक्ष के विधायकों पर भी नजरबंद की कार्रवाई करनी चाहिए थी.

राजा अपने प्रत्याशियों को जिताने के लिए जमकर पसीना बहा रहे हैं, ऐसे में देखना होगा कि उनका क्षेत्र की जनता कितना भरोसा करती है? हालांकि राजा भैया के प्रभाव वाला इलाका अब प्रतापगढ़ के बजाय कौशांबी क्षेत्र में आता है. ऐसे में इस सीट से जीतना आसान नहीं है.

ये भी पढ़ें:

बाहुबली MLA राजा भैया ने पूछा- योगी सरकार के विधायक क्यों नहीं किए गए नजरबंद?

पूरब के रण में दिग्गजों का जमावड़ा, आजमगढ़ में गरजेंगे मोदी तो जौनपुर में प्रियंका

एक क्लिक और खबरें खुद चलकर आएंगी आपके पाससब्सक्राइब करें न्यूज़18 हिंदी WhatsApp अपडेट्स

 
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज