प्रतापगढ़: पुलिस कस्टडी में व्यक्ति की मौत पर सख्त CM योगी, 3 पुलिसकर्मी सस्पेंड
Pratapgarh-Uttar-Pradesh-2 News in Hindi

प्रतापगढ़: पुलिस कस्टडी में व्यक्ति की मौत पर सख्त CM योगी, 3 पुलिसकर्मी सस्पेंड
पुलिस कस्टडी में व्यक्ति की मौत पर सख्त CM योगी (फाइल फोटो)

प्रतापगढ़ (Pratapgarh) के रानीगंज थाना में उस वक्त अफरा-तफरी और भगदड़ मच गई, जब एक मनोरोगी व्यक्ति इंद्र पाल ने एक अधेड़ व्यक्ति मिठाई लाल पर थाने में सोते समय पास में रखे फावड़े से पेट पर जोरदार हमला कर दिया.

  • News18Hindi
  • Last Updated: June 14, 2020, 12:28 PM IST
  • Share this:
प्रतापगढ़. उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) के प्रतापगढ़ (Pratapgarh) जनपद के रानीगंज थाने के अंदर फावड़े से हमला कर एक व्यक्ति की हत्या (Murder) कर दी गई. घटना सामने आने के बाद सीएम योगी आदित्यनाथ (CM Yogi Adityanath) के सख्ती के निर्देश के बाद एक्शन शुरू हो गया है. इस मामले में एसपी ने सख्‍त कार्रवाई करते हुए थाने के तीन सिपाहियों को निलंबित कर दिया है. एसपी अभिषेक सिंह ने रविवार को बताया कि हेड कांस्टेबिल राजितराम गुप्ता, सिपाही राजेश कुमार व शिवम खरवार को निलंबित कर दिया गया है. इसके साथ ही सीओ रानीगंज व एसओ मृत्युंजय मिश्र की भूमिका की जांच की जिम्मेदारी एसपी पूर्वीं सुरेंद्र द्विवेदी को सौंपी गई है. एसपी के मुताबिक पुलिस कर्मियों ने किस तरह लापरवाही बरती है, इसकी जांच की जा रही है.

प्रतापगढ़ के रानीगंज थाना में उस वक्त अफरा-तफरी और भगदड़ मच गई, जब एक मनोरोगी व्यक्ति इंद्र पाल ने एक अधेड़ व्यक्ति मिठाई लाल पर थाने में सोते समय पास में रखे फावड़े से पेट पर जोरदार हमला कर दिया. यह हमला आधा दर्जन पुलिसकर्मियों के सामने किया. सीसीटीवी फुटेज में दिख रहा है कि हमले के बाद पुलिसकर्मियों ने आरोपी से फावड़े को छीनते हुए उसकी पिटाई कर रहे हैं. घायल मिठाई लाल को गंभीर हालात में प्रयागराज के प्राइवेट अस्पताल में भर्ती कराया गया, जहां शनिवार देर शाम उसकी मौत हो गई.

प्रतापगढ़ के एसपी अभिषेक सिंह
प्रतापगढ़ के एसपी अभिषेक सिंह




आपको बता दें कि शुक्रवार शाम को भाई से हुए जमीनी विवाद में पुलिस ने मिठाई लाल और उसको भाई को पकड़ कर थाने लाई थी. दोनों को पुलिस की कस्टडी में रखा था. मृतक इलाके के आमापुर बेर्रा का रहने वाला था. वही मनोरोगी हत्यारोपी व्यक्ति शाहगंज प्रयागराज जिले का रहने वाला है. ये सनकी व्यक्ति रेलवे लाइन पर आत्महत्या करने जा रहा था, जहां से पीआरवी ने ग्रामीणों की सूचना पर पकड़ कर थाने में बैठा दिया. इस दौरान उसने थाने में रखे फावड़े से मिठाई लाल पर हमला बोल दिया. मिठाई लाल की मौत के बाद मृतक के बेटे ने भाई मेवालाल पर हत्या को अंजाम देने का आरोप लगाया. लेकिन इस दिलदहला देने वाली वीडियो के साथ ही घटना की पूरी सच्चाई सामने आ गई.
ये भी पढे़ं:

कानपुर देहात: बबली बनकर अलीगढ़ की शिक्षका अनामिका शुक्ला ने ऐसे लगाया चूना
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading