Home /News /uttar-pradesh /

prayagraj police clueless in murder of 5 people now case given to up stf

प्रयागराज: 5 लोगों की सामूहिक हत्याकांड में पुलिस के हाथ खाली, STF को सौंपी गई जांच

दिल्‍ली हिंसा के बाद उत्तर प्रदेश में पुलिस को और अधिक सतर्कता बरतने के आदेश दिए गए हैं.

दिल्‍ली हिंसा के बाद उत्तर प्रदेश में पुलिस को और अधिक सतर्कता बरतने के आदेश दिए गए हैं.

पुलिस सूत्रों और परिवार के लोगों ने दो महिलाओं के साथ रेप की भी आशंका जताई है. आशंका है कि रेप का विरोध करने पर पूरे परिवार का कत्ल किया गया है. दरअसल मृतक परिवार की 22 साल की दिव्यांग बेटी और बहू के शरीर पर कपड़े नहीं थे. दोनों के शव नग्न हालत में कमरे के बाहर पाए गए थे. हत्या की वारदात के बाद घर में आग भी लगाई गई थी, जिसमें बहू का बेडरूम जलकर राख हो चुका है.

अधिक पढ़ें ...

प्रयागराज. उत्तर प्रदेश के प्रयागराज में एक ही परिवार के 5 लोगों की सामूहिक हत्या के मामले में आधा दिन बीत जाने के बाद भी पुलिस के हाथ खाली हैं. अभी तक पुलिस के हाथ कोई भी सुराग नहीं लगा है. ऐसे में इस संगीन मामले की जांच अब STF को सौंप दी गई है.

वहीं पुलिस सूत्रों और परिवार के लोगों ने दो महिलाओं के साथ रेप की भी आशंका जताई है. आशंका है कि रेप का विरोध करने पर पूरे परिवार का कत्ल किया गया है. दरअसल मृतक परिवार की 22 साल की दिव्यांग बेटी और बहू के शरीर पर कपड़े नहीं थे. दोनों के शव नग्न हालत में कमरे के बाहर पाए गए थे. हत्या की वारदात के बाद घर में आग भी लगाई गई थी, जिसमें बहू का बेडरूम जलकर राख हो चुका है. आग लगाने की वजह फिलहाल साफ नहीं है. आशंका है कि पूरे परिवार का कत्ल करने के बाद कातिल सभी को जला देना चाहते थे.

इस घटना में 5 साल की बच्ची केवल जीवित बची है. बच्ची के शरीर पर चोट के कोई निशान भी नहीं है. बच्ची अपने कमरे में सोई हुई थी और संभावना है कि बदमाशों की उस पर नजर नहीं पड़ी. 5 साल की मासूम कुछ भी बोल सकने की हालत में नहीं है. पुलिस छोटी सी बच्ची के सहारे कातिलों का पता लगाने की कोशिश में है.

प्रयागराज में लगातार हो रही सामूहिक हत्याओं से तमाम सवाल उठ रहे हैं. पीड़ित परिवार के सदस्यों और रिश्तेदारों में इसे लेकर गहरी नाराजगी है. पुलिस ने परिवारवालों को सूचना दिए बिना ही शवों को पोस्टमार्टम के लिए मार्च्युरी भिजवा दिया था. परिवारवालों का कहना है कि अगर 24 घंटे के अंदर हत्यारों की गिरफ्तारी नहीं हुई तो वह आंदोलन शुरू कर सकते हैं.

पुलिस प्रशासन के रवैये को लेकर परिवार वालों और करीबियों में जबरदस्त नाराजगी है. परिवार का साफ कहना है कि उनकी किसी से कोई रंजिश नहीं थी और किसी पर भी उन्हें शक नहीं है. ऐसे में शासन ने अब मामले की जांच एसटीएफ को सौंप दिया है.

Tags: Murder case, Prayagraj News, UP STF

विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर