चित्रकूट में रोक के बावजूद स्कूल में क्लास लगाने वाला प्रभारी प्रधानाध्यापक निलंबित

कोरोना काम में रोक के बावजूद स्कूल में इस तरह से पढ़ाई हो रही थी.
कोरोना काम में रोक के बावजूद स्कूल में इस तरह से पढ़ाई हो रही थी.

चित्रकूट (Chitrakoot) में रोक के बावजूद स्कूल (School) में बच्चों को बुलाकर पढ़ाने की खबर news18 ने चलाई थी, जिसके बाद स्कूल (School) के प्रभारी प्रधानाध्यापक विकास गिरी गोस्वामी को बेसिक शिक्षा अधिकारी ने निलंबित (suspend) कर दिया है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: September 29, 2020, 8:40 PM IST
  • Share this:
चित्रकूट. चित्रकूट (Chitrakoot) में रोक के बावजूद स्कूल (School) में बच्चों को बुलाकर पढ़ाने के मामले में एक बार फिर न्यूज़18 की खबर का असर हुआ है. न्यूज़18 एक खबर चली थी, जिसके बाद प्रशासन (Administration) ने कार्रवाई की है और स्कूल के प्रभारी प्रधानाध्यापक विकास गिरी गोस्वामी को बेसिक शिक्षा अधिकारी ने निलंबित (Suspended) कर दिया है. मामला मानिकपुर तहसील के सरैया इंग्लिश मीडियम पूर्व माध्यमिक विद्यालय का है, जहां कई दिनों से बिना सरकारी आदेश के स्कूल में बच्चों को बुलाकर पढ़ाया जा रहा था.

एक ही कमरे में एक दर्जन से ज्यादा बच्चों को पास-पास बैठाया गया था. क्लास में बच्चों ने मास्क भी नहीं लगा रखा था. इससे कोरोन संक्रमित होने का खतरा था. यहां तक कि पढ़ाते समय खुद प्रभारी हेड टीचर विकास गिरी गोस्वामी खुद मास्क नहीं लगाए थे. यह वाक्या न्यूज 18 के कैमरे में कैद हो गया था. इसके बाद न्यूज़18 ने खबर प्रमुखता से दिखाई तो जिलाधिकारी शेषमणि पांडे ने खबर का संज्ञान लेकर तुरंत बेसिक शिक्षा अधिकारी को जांच के लिए स्कूल भेजा, जहां बेसिक शिक्षा अधिकारी ने जांच कर प्रभारी हेड टीचर विकास गिरी गोस्वामी को तत्काल प्रभाव से निलंबित कर दिया.

BJP सांसद साक्षी महाराज बोले- बाबरी ढांचा एक कलंक था हिंदुस्तान के माथे पर




सुबह से ही सोशल मीडिया में स्कूल में बच्चों को बुलाकर बिना मास्टर पढ़ाने का वीडियो सोशल मीडिया में खूब वायरल हो रहा था, जिसके बाद जिलाधिकारी ने खबर का संज्ञान लिया और जांच के लिए पूर्व बेसिक शिक्षा अधिकारी प्रकाश सिंह को स्कूल भेजा था. इसके बाद जांच की गई और अब कार्रवाई हुई. पूर्व बेसिक शिक्षा अधिकारी की जांच में सामने आया कि बच्चों को बुलाकर क्लास चलाई जा रही थी, जो कोविड-19 के नियमों का उल्लंघन था. इसलिए प्रभारी प्रधानाध्यापक के खिलाफ जांच कर कारवाई की गई है. वहीं नवागंतुक बेसिक शिक्षा अधिकारी ओमकार राणा का कहना है कि मैंने अभी-अभी चार संभाला है. पूर्व के बेसिक शिक्षा अधिकारी ने जांच कर प्रभारी प्रधानाध्यापक के खिलाफ कार्रवाई की है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज