लाइव टीवी

Lockdown 4.0: अब लोगों को उनके घर तक पहुंचाने के लिए मदद कर रहीं प्रियंका गांधी
Allahabad News in Hindi

News18 Uttar Pradesh
Updated: May 19, 2020, 10:19 PM IST
Lockdown 4.0: अब लोगों को उनके घर तक पहुंचाने के लिए मदद कर रहीं प्रियंका गांधी
लॉकडाउन में फंसे लोगों की मदद के लिए अब कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी आगे आई हैं. (फाइल फोटो)

बीते 50 दिनों से लॉकडाउन (Lockdown) में फंसी इन तीन बहनों को प्रियंका गांधी (Priyanka Gandhi) ने अपने खर्च पर दिल्‍ली से प्रयागराज (Prayagraj) भिजवाया है.

  • Share this:
नई दिल्‍ली. लॉकडाउन (Lockdown) के चलते बीते 50 दिनों से दिल्‍ली के अशोक नगर में फंसी तीन बहनें कांग्रेस राष्‍ट्रीय महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा (Priyanka Gandhi Vadra) की मदद से सकुशल अपने घर पहुंच गई है. दरअसल, अंजलि और पल्‍लवी नामक दो बहनें दिल्‍ली के न्‍यू अशोक नगर इलाके में रहकर नौकरी करती हैं. यह दोनों बहने मूल रूप से प्रयागराज के नैनी क्षेत्र में आने वाले त्रिवेणी नगर की रहने वाली हैं. होली के समय इनकी तीसरी बहन पारुल भी इनसे मिलने के लिए दिल्‍ली आ गई थी. इन तीनों बहनों की घर वापसी होती, इससे पहले पूरे देश में लॉकडाउन घोषित हो गया.

-पास हासिल करने के लिए 50 दिनों से कर रही हैं जद्दोजहद 

 देश में लॉकडाउन घोषित होने के बाद से ये तीनों बहनें लगातार ई-पास के लिए जद्दोजहद कर रही हैं, कभी ओटीपी तो कभी तकनीकी खामी के चलते वह अपने ई-पास का आवेदन नहीं कर पा रही थीं. इस बीच, उनके पास उनके पास मौजूद रुपए खत्‍म होने लगे थे. एक तरफ मकान मालिक रुपयों के लिए लगातार दबाव बना रहा था, वहीं दूसरी तरह तीनों बहनों की चिंता उनके घर वालों को सता रही थी. लेकिन, चाहकर भी तीनों बहनों के लिए दिल्‍ली से प्रयागराज पहुंचने का रास्‍ता नहीं निकल पा रहा था. इस बीच, इनके युवतियों के पिता रामश्रृंगार शर्मा ने मदद के लिए स्‍थानीय नेताओं से गुहार लगाना शुरू कर दी थी.



स्‍थानीय कांग्रेस नेता से इन युवतियों के पिता ने मांगी मदद



अपने तीनों बेटियों को किसी भी सूरत में घर लाने की जद्दोजहद में जुटे रामश्रृंगार शर्मा ने स्‍थानीय कांग्रेस नेता विवेक पांडेय से मदद मांगी. विवेक पांडेय ने कांग्रेस ओबीसी प्रकोष्‍ठ के प्रदेश महामंत्री अनिल कुशवाहा की मदद से प्रियंका गांधी के कार्यालय में संपर्क किया और तीनों बहनों के बारे में जानकारी दी गई. जिसके बाद, प्रियंका गांधी के कार्यालय ने इन तीनों बहनों से फोन कर उनका हालचाल लिया गया और ई-पास के लिए जरूरी जानकारी एकत्रित की गई. प्रियंका गांधी के कार्यालय ने तीनों बहनों को आश्‍वासन दिया कि उन्‍हें जल्‍द से जल्‍द उसके घर पहुंचा दिया जाएगा.

प्रियंका गांधी ने अपने खर्चे पर तीनों बहनों को भेजा घर

 वहीं इस बाबत, जब प्रियंका गांधी को जानकारी मिली तो उन्‍होंने तीनों बहनों को हर संभव मदद पहुंचाने के निर्देश दिए गए. जिसके बाद, तीनों बहनों को घर पहुंचाने के लिए ई-पास बनवाया गया. प्रियंका गांधी के कार्यालय से एक इनोवा कार तीनों बहनों के लिए भेजी गई. जिसके बाद, तीनों बहने दिल्‍ली के न्‍यू अशोक नगर से उत्‍तर प्रदेश के प्रयागराज के लिए रवाना हो गई. प्रियंका गांधी की इस मदद के लिए तीनों बहनों और उसके परिवार ने उनको धन्‍यवाद किया है.

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए इलाहाबाद से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: May 19, 2020, 3:49 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
corona virus btn
corona virus btn
Loading