रायबरेली एनटीपीसी ऊंचाहार से दो करोड़ के तांबे के स्टार्टर चोरी

केंद्रीय औद्योगिक सुरक्षा बल की निगरानी के बावजूद बेखौफ चोरों ने एनटीपीसी स्टोर से दो करोड़ रुपए के तांबे के स्टार्टर पार कर दिए और एनटीपीसी प्रशासन तीन दिन तक मामले को दबाए रहा


Updated: May 17, 2018, 12:01 AM IST

Updated: May 17, 2018, 12:01 AM IST
रायबरेली एनटीपीसी ऊंचाहार का विवादों से नाता थमने का नाम नहीं ले रहा है. नवम्बर महीने में हुए भीषण हादसे का मामला अभी जांच में ही अटका था कि बुधवार को एक बार फिर एनटीपीसी ऊंचाहार चर्चा में आ गई. केंद्रीय औद्योगिक सुरक्षा बल की निगरानी के बावजूद बेखौफ चोरों ने एनटीपीसी स्टोर से दो करोड़ रुपए के तांबे के स्टार्टर पार कर दिए और एनटीपीसी प्रशासन तीन दिन तक मामले को दबाए रहा.

तीन दिन बाद बुधवार को मामला खुल गया जिसके बाद एनटीपीसी में हड़कंप मच गया और फिर आनन-फानन में स्थानीय ऊंचाहार पुलिस को मामले की सूचना दी गई और कोतवाली पहुंच कर जिम्मेदार अधिकारियों ने केस दर्ज करवाया.

एनटीपीसी के स्टोर विभाग के डिप्टी जनरल मैनेजर की मानें तो मामला 13 मई का है. सामानों की गिनती के समय पता चला कि हमारे स्टोर से 22 स्टार्टर बार चोरी हो गए हैं. ये स्टार्टर बार हरिद्वार से 1998 में मंगाए गए थे, जिनकी कीमत लगभग एक करोड़ 90 लाख रुपए बताई जा रही है. सीआईएसएफ की सख्त सुरक्षा के बाद इतनी बड़ी चोरी कैसे हो गई? के सवाल पर जीएम साहब कुछ नहीं बोले.

मामले की जांच करने पहुंचे सीओ की मानें तो स्टार्टर बार ब्रायलर में बिजली बनाने के काम में आते हैं. एनटीपीसी स्टोर की सुरक्षा सीआईएसएफ के जिम्मे है. शाम को स्टोर सीआईएसएफ की मौजूदगी में सील किया जाता है और सुबह में उसकी मौजूदगी में खोला जाता है. एक स्टार्टर बार की कीमत आठ लाख रुपए है.
News18 Hindi पर Bihar Board Result और Rajasthan Board Result की ताज़ा खबरे पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करें .
IBN Khabar, IBN7 और ETV News अब है News18 Hindi. सबसे सटीक और सबसे तेज़ Hindi News अपडेट्स. Uttar Pradesh News in Hindi यहां देखें.
पूरी ख़बर पढ़ें
अगली ख़बर