BJP नेता पर आरोप, फर्जी मृत्यु प्रमाण पत्र बनाने से मना करने पर ग्राम सेवक को दफ्तर में घुसकर पीटा

रायबरेली में भाजपा नेता ने फर्जी डेथ सर्टिफिकेट बनाने से मना करने पर ऑफिस में घुसकर पीटा.

रायबरेली में भाजपा नेता ने फर्जी डेथ सर्टिफिकेट बनाने से मना करने पर ऑफिस में घुसकर पीटा.

उत्तर प्रदेश के रायबरेली में दरोगा द्वारा पांच युवकों को बेरहमी से पीटने का मामला अभी थमा भी नही था कि अब बीजेपी के जिला महामंत्री द्वारा ग्राम पंचायत अधिकारी को आफिस में घुसकर बुरी तरह मारने का मामला सामने आया है.

  • Share this:

रायबरेली. उत्तर प्रदेश के रायबरेली में दरोगा द्वारा पांच युवकों को बेरहमी से पीटने का मामला अभी थमा भी नही था कि अब बीजेपी के जिला महामंत्री द्वारा ग्राम पंचायत अधिकारी को आफिस में घुसकर बुरी तरह मारने का मामला सामने आया है. पीड़ित ग्राम पंचायत अधिकारी का आरोप है के बीजेपी के महामंत्री पिछले एक माह से एक मृतक का फर्जी मृतक प्रमाण पत्र जारी करने का दबाव बना रहे थे. इसी को लेकर आज उन्होंने गाली-गलौज करते हुए मारापीट किया है. अब पूरा मामला थाने में पहुंचा है.

जानकारी के अनुसार घटना जिले के महाराजगंज कोतवाली अंतर्गत महाराजगंज ब्लॉक परिसर की है. बताया जा रहा है कि आज दोपहर बीजेपी के जिला महामंत्री शरद सिंह अपने कई समर्थकों के साथ ब्लॉक पहुंचे. वो और उनके समर्थकों ने पहले ग्राम पंचायत अधिकारी विक्रम जैन के साथ गाली-गलौज किया. फिर एकाएक उन पर हमला बोलते हुए उन्हें लहूलुहान कर डाला. यही नही बीजेपी महामंत्री पर सत्ता का नशा इस कद्र हावी रहा कि जब ग्राम पंचायत अधिकारी विक्रम जैन फरियाद लेकर कोतवाली महराजगंज पहुंचे तो पीछे से जिला महामंत्री शरद सिंह और समर्थक भी पहुंच गए. यहां पर पुलिस के सामने भी उन्होंने समर्थकों के साथ मिलकर ग्राम पंचायत अधिकारी के साथ धक्का-मुक्की की. मामले में दोनो पक्षों से तहरीर दी गई है.‌

इस बीच थाने पहुंचे भाजपा नेताओं तथा ब्लाक कर्मियों का जमावड़ा लगा हुआ है. ग्राम पंचायत अधिकारी महराजगंज विक्रम जैन से बात की गई तो उन्होंने बताया कि, शरद सिंह एक डेथ सार्टिफिकेट बनाने के लिए गलत दबाव बना रहा था. उन्होंने बताया कि 4 अप्रैल को घुरौना गांव में बोलेरो गाड़ी बुकिंग मे लेकर आये ओसाह निवासी सूर्य बक्श सिंह एक्सीडेंट में घायल हो गये थे. दुर्घटना मे घायल की मौत बछरावा के एक निजी अस्पताल में हो गई थी. इसके बावजूद पिछले एक माह से ग्राम पंचायत अधिकारी विक्रम जैन पर मृतक का प्रमाण पत्र गांव से ही जारी करने का भाजपा जिला महामंत्री दबाव बना रहे थे.

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज