लाइव टीवी

रायबरेली के सरकारी स्कूल में बच्चों के मलबा ढोने का विडियो वायरल, BSA ने दिए जांच के आदेश...

News18 Uttar Pradesh
Updated: January 17, 2020, 11:29 PM IST
रायबरेली के सरकारी स्कूल में बच्चों के मलबा ढोने का विडियो वायरल, BSA ने दिए जांच के आदेश...
रायबरेली के एक प्राथमिक विद्यालय में बच्चों से मजदूरी कराये जाने का वीडियो वायरल हो गया

रिपोर्ट के मुताबिक रोहनिया ब्लाक के प्राथमिक विद्यालय सरेनी में एक पुराने भवन को गिराया गया था. वहां के जिम्मेदार अध्यापक ने मलबा ठिकाने लगाने के लिए स्कूली बच्चों से मजदूरी करवाई. BSA वीडियो सामने आने के बाद तीन दिन में रिपोर्ट तलब की है....

  • Share this:
रायबरेली. एक तरफ उत्तर प्रदेश सरकार (Uttar Pradesh Government) प्राथमिक शिक्षा (primary education) को बेहतर बनाने के दावे कर रही तो वहीं जमीनी हकीकत कुछ और ही नजर आती है. ताजा मामला रायबरेली के रोहनिया ब्लाक के सरेनी प्राथमिक विद्यालय (Sareni Primary School) का है जहां छोटे-छोटे छात्र स्कूल में पढ़ने के बजाय मलबे की सफाई करते कैमरे में कैद हुए.

जांच के आदेश
फ़िलहाल जब वीडियो सामने आया तो बीएसए (BSA) ने मामले की जांच के आदेश दिए और तीन दिन में संबंधित स्कूल की रिपोर्ट तलब की. दरअसल शिक्षा के मंदिर की यह शर्मानक तस्वीर वर्तमान शिक्षा व्यवस्था की हकीकत सबके सामने रखने के लिए पर्याप्त है. एक ओर सरकार शिक्षा व्यवस्था को मजबूत करने की कवायद कर रही है तो वहीं दूसरी ओर जिम्मेदार सरकार की मंशा पर पानी फेरते नजर आ रहे हैं. अभिभावक अपने बच्चों का भविष्य संवारने के लिए उन्हें विद्यालय में भेजते हैं लेकिन वहां नौनिहालों से पढाई के बजाय मजदूरी करायी जाती है.

रिपोर्ट के मुताबिक रोहनिया ब्लाक के प्राथमिक विद्यालय सरेनी में एक पुराने भवन को गिराया गया था. वहां के जिम्मेदार अध्यापक ने मलबा ठिकाने लगाने के लिए स्कूली बच्चों से मजदूरी करवाई. विद्यालय का गेट बंद करके छात्रों से मलबा हटवाने का वीडियो सामने आने के बाद बीएसए पी एन सिंह ने मामले की जांच खंड शिक्षा अधिकारी को दी है जिसकी रिपोर्ट तीन दिन के भीतर देने के आदेश दिए है. उन्होंने कहा है कि रिपोर्ट मिलने पर जो भी दोषी पाया जाएगा उसके विरुद्ध कार्रवाई की जाएगी. एक तरफ प्राथमिक शिक्षा विभाग को बेहतर बनाने के इरादे से विभाग में लगातार प्रयोग चल रहे हैं लेकिन दूसरी तरफ अधिकतर प्राथमिक विद्यालयों के हालत सुधरने के बजाय बदहाल होते जा रहे हैं.

ये भी पढ़ें- रेप के बाद मासूम बच्ची के हत्यारे को POCSO Court ने सुनाई फांसी की सजा


रायबरेली SP की चौखट पर पहुंचे प्राथमिक विद्यालय के नन्हे मुन्ने बच्चे

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए रायबरेली से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: January 17, 2020, 11:29 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर