लाइव टीवी

कांग्रेस MLA अदिति सिंह बोलीं- पार्टी विरोधी गतिविधियों में शामिल नेताओं को नोटिस क्यों नहीं भेजा

News18Hindi
Updated: October 5, 2019, 12:06 PM IST
कांग्रेस MLA अदिति सिंह बोलीं- पार्टी विरोधी गतिविधियों में शामिल नेताओं को नोटिस क्यों नहीं भेजा
रायबरेली से कांग्रेस विधायक अदिति सिंह (फाइल फोटो)

रायबरेली से कांग्रेस की विधायक अदित सिंह ने पूछा कि मुझे क्यों टारगेट किया जा रहा है, इसलिए क्योंकि मैं एक महिला हूं?

  • News18Hindi
  • Last Updated: October 5, 2019, 12:06 PM IST
  • Share this:
लखनऊ. उत्तर प्रदेश कांग्रेस कमेटी (UPCC) ने रायबरेली (Raebareli) से विधायक अदिति सिंह (MLA Aditi Singh) को कारण बताओ नोटिस (Show Cause Notice) जारी किया है. नोटिस जारी होने के बाद न्यूज़ 18 से बातचीत में अदिति सिंह ने कहा, 'पार्टी पहले ये बताये कि उन नेताओं को अब तक कोई नोटिस क्यों नहीं दिया गया जो खुलेआम पार्टी विरोधी गतिविधियों में शामिल हैं.' उन्होंने कहा कि क्यों नहीं उनको पार्टी से निकाला गया और वो लोग क्यों पार्टी के सदस्य के रूप में काम कर रहे हैं.

कांग्रेस विधायक ने पूछा कि मुझे क्यों टारगेट किया जा रहा है, इसलिए क्योंकि मैं एक महिला हूं? अदिति ने कहा कि सदन की कार्यवाही के दौरान हमने अपने भाषण में न तो कांग्रेस के खिलाफ कुछ कहा और न ही बीजेपी की तारीफ की. मैंने अपने क्षेत्र के लोगों की समस्याओं को सदन के सामने रखा, क्योंकि उन्होंने मुझे चुनकर यहां (विधानसभा) भेजा है. उनकी समस्याओं का समाधान करना मेरा पहला कर्तव्य है.

पार्टी व्हिप के बावजूद विधानसभा के विशेष सत्र में शामिल हुई थीं

दरअसल कांग्रेस पार्टी ने राष्ट्रपिता महात्मा गांधी की 150वीं जयंती के मौके पर दो अक्टूबर से अनवरत उत्तर प्रदेश विधानसभा के विशेष सत्र के बहिष्कार का व्हिप जारी किया था. लेकिन अदिति सिंह इसके बाद भी विधानसभा सत्र में शामिल हुई थीं. पार्टी की तरफ से उनसे दो दिन के अंदर जवाब मांगा गया है. इस बीच रायरबरेली में अदिति सिंह के घर पर कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने जमकर विरोध-प्रदर्शन किया था.

उत्तर प्रदेश कांग्रेस विधानमंडल दल के नेता अजय कुमार लल्लू ने अदिति सिंह को कारण बताओ नोटिस जारी किया है. नोटिस में उन्होंने कहा, 'विधानसभा के विशेष सत्र का बहिष्कार करने का निर्णय पार्टी (कांग्रेस) ने लिया था. इसके लिए व्हिप जारी किया था कि कोई भी सदस्य उपस्थित न हो. यही नहीं इस संदर्भ में आपको व्यक्तिगत रूप से भी अवगत कराया गया था. लेकिन आपने पार्टी के निर्देशों का उल्लंघन किया. पार्टी व्हिप तोड़कर सदन की कार्यवाही में बढ़-चढ़कर हिस्सा लिया, जो कि घोर अनुशासनहीनता और पार्टी विरोधी गतिविधि है.'

ये भी पढ़ें:

ज़मीन कब्जा मामला: आज़म खान की अग्रिम जमानत याचिका पर आज सुनवाई
Loading...

यूपी पुलिस से न्याय मांगे पानी की टंकी पर चढ़ा वकील का परिवार, आत्मदाह की दी धमकी

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए रायबरेली से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: October 5, 2019, 11:46 AM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...