• Home
  • »
  • News
  • »
  • uttar-pradesh
  • »
  • COVID-19: रायबरेली में कोरोना वॉरियर्स के साथ ग्रामीणों ने की बदसलूकी, बुलानी पड़ी कई थाने की फोर्स

COVID-19: रायबरेली में कोरोना वॉरियर्स के साथ ग्रामीणों ने की बदसलूकी, बुलानी पड़ी कई थाने की फोर्स

रायबरेली में कोरोना वॉरियर्स के साथ ग्रामीणों की बदसलूकी (फाइल फोटो)

रायबरेली में कोरोना वॉरियर्स के साथ ग्रामीणों की बदसलूकी (फाइल फोटो)

दरअसल, सीएम योगी आदित्यनाथ के निर्देश पर क्वारंटाइन सेंटर (Quarantine Centre) में पर्याप्त सुविधाएं दे देने के आदेश दिए गए हैं, जिसके बाद प्रशासन उन्हीं जगहों का चयन कर रहा है जहां पर सभी सुविधाएं मौजूद हैं. इसके लिए प्रशासन केंद्र बनाने से पूर्व उसकी पूरी जानकारी इकट्ठा कर रहा है.

  • Share this:
रायबरेली. पूरा देश जहां विश्वव्यापी महामारी कोरोना वायरस को हराने के लिये मिलकर लड़ रहा है, वहीं कुछ जगहों पर कोरोना वॉरियर्स (Corona Warriors) के साथ बदसलूकी का भी मामला सामने आया है. ताजा मामला उत्तर प्रदेश के रायबरेली का है जहां ग्रामीणों ने क्वारंटाइन सेंटर (Quarantine Centre) के लिये गांव आए दो सरकारी कर्मचारियों के साथ पहले तो गाली-गलौच की और बाद में उन पर पथराव किया. इसकी जानकारी जब पुलिस को हुई तो आनन-फानन में स्थानीय भदोखर पुलिस मौके पर पहुंची और भीड़ को तितर-बितर किया. फिलहाल मौके पर कई थानों की फोर्स तैनात कर दी गई है.

दरअसल रायबरेली में कोरोना के बढ़ते मरीजों की संख्या को देखते हुए जिला प्रशासन द्वारा क्वारंटाइन केंद्रों की संख्या बढ़ाने का काम चल रहा है. इसी कड़ी में बुधवार को सदर तहसील के मुलिहमउ गांव के लेखपाल और ग्राम विकास अधिकारी कर्मयोगी डिग्री कॉलेज पहुंचे. ग्रामीणों को जब इसकी जानकारी हुई कि उनके गांव में क्वारंटाइन सेंटर बनने जा रहा है तो उन्होंने दोनों कर्मचारियों का घेराव कर लिया और उनके साथ गाली-गलौज शुरू कर दी, इस दौरान अचानक उनके बीच लोगों ने पथराव शुरू कर दिया. इसकी जानकारी जब पुलिस महकमे को हुई आनन-फानन में स्थानीय भदोखर पुलिस मौके पर पहुंची और उसने भीड़ को तितर-बितर किया. पुलिस ने इस घटना में शामिल एक युवक को हिरासत में लिया है और उससे पूछताछ कर रही है.

सीएम योगी आदित्यनाथ ने दिये हैं आदेश
मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के निर्देश पर क्वारंटाइन सेंटर में पर्याप्त सुविधाएं देने के आदेश दिए गए हैं, जिसके बाद प्रशासन उन्हीं जगहों का चयन कर रहा है जहां पर सभी सुविधाएं मौजूद हैं. इसके लिए प्रशासन केंद्र बनाने से पूर्व उसकी पूरी जानकारी इकट्ठा कर रहा है. इसके मद्देनजर सदर तहसील के मुलिहमउ गांव के लेखपाल और ग्राम विकास अधिकारी कर्मयोगी डिग्री कॉलेज पहुंचे थे.

पीड़ित लेखपाल की मानें तो वो अधिकारी के निर्देश पर कॉलेज का निरीक्षण करने आए थे. लेकिन उसी समय ग्रामीणों ने उन्हें घेर लिया और पथराव कर दिया. इसकी सूचना पुलिस को फौरन दी गई जिसके बाद पुलिस ने वहां पहुंचकर उनकी जान बचाई.

ये भी पढ़ें: लॉकडाउन के कारण CAA विरोधी हिंसा में वसूली का सामना कर रहे आरोपियों को राहत

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

हमें FacebookTwitter, Instagram और Telegram पर फॉलो करें.

विज्ञापन
विज्ञापन

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज